Monday, November 28, 2022
HomeDharmshala3016 crores being spent on strengthening health services. स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण...

3016 crores being spent on strengthening health services. स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण पर व्यय किये जा रहे 3016 करोड़

- Advertisement -

स्वास्थ्य सेवाओं के सुदृढ़ीकरण पर व्यय किये जा रहे 3016 करोड़ – सरवीन चैधरी
स्वर्ण जयंती उत्कृष्ट विद्यालय योजना के तहत रावमापा कल्याड़ा का किया उद्घाटन
इंडिया न्युज। धर्मशाला।

प्रदेश के प्रत्येक नागरिक को बेहतर, सुगम और आधुनिक स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिये प्रदेश सरकार वचनबद्ध है। वर्तमान वित्त वर्ष में प्रदेश में बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता को सुनिश्चित बनाने के लिए 3016 करोड़ रुपये व्यय किये जा रहे हैं। ये शब्द सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चैधरी रविवार को शाहपुर हलके की ग्राम पंचायत नागनपट्ट में 45 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भवन नागनपट्ट का शिलान्यास करने के उपरांत जनसभा को संबोधित करते हुए कहे। उन्होंने कहा कि इस प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के बनने से इस क्षेत्र के 15 गांवों के लगभग 16 हजार लोग लाभान्वित होंगे।
उन्होने कहा कि शाहपुर हलके में भी सुगम स्वास्थ्य सेवाओं और सुविधाओं के क्षेत्र में व्यापक सुधार तथा विस्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं को पंचायत स्तर तक सुदृढ़ करने के साथ-साथ दूर-दराज के क्षेत्रों में स्वास्थ सेवाओं की उपलब्धता को सुनिश्चित बनाया गया है। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में विशेषज्ञ चिकित्सा सुविधा, आधुनिक स्वास्थ्य उपकरणों की उपलब्धता, अस्पतालों को स्तरोन्नत करने के अलावा नये एवं भव्य भवनों का निर्माण किया जा रहा है।
इसके उपरांत सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चैधरी ने कल्याड़ा में स्वर्ण जयंती उत्कृष्ट विद्यालय योजना के तहत रावमापा कल्याड़ा में 44 लाख रुपये की लागत से आधुनिक सुविधाओं से लैस निर्मित स्कूल की स्टेज, शौचालय, बोटैनिकल तीन स्मार्ट क्लास रूम, विज्ञान लैब, मैथ्स लैब, फिजिक्स लैब, केमिस्ट्री लैब, बायोलॉजी लैब का उद्घाटन किया।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री स्वर्ण जयंती उत्कृष्ट विद्यालय योजना की घोषणा मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने 2020-21 के बजट में की थी। उन्होंने कहा कि योजना के तहत हिमाचल प्रदेश के सभी स्कूलों में से 68 का चयन किया जाना था। उन्होंने कहा कि योजना का उद्देश्य प्रदेश के स्कूलों में शिक्षा सुधार लाकर विद्यार्थियों को पढ़ने के लिए प्रेरित करना है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री स्वर्ण जयंती उत्कृष्ट विद्यालय योजना के तहत स्कूलों को प्राथमिकता के आधार पर विकसित किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के दूरदर्शी नेतृत्व में प्रदेश सरकार सबको समग्र और गुणवत्तायुक्त शिक्षा देने के लिए प्रयासरत है। शिक्षा के साथ-साथ व्यवसायिक शिक्षा पर भी बढ़ावा दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शिक्षा जीवन में सफलता का आधार होती है। उन्होंने अध्यापकों से आह्वान किया कि वह बच्चों को गुणात्मक शिक्षा के साथ-साथ खेलकूद तथा अन्य गतिविधियों में भी भाग लेने के लिए प्रेरित करें ताकि बच्चों का सर्वांगीण विकास हो सके।
इस अवसर पर स्कूल के प्राचार्य कुलदीप शर्मा ने मुख्यतिथि का स्वागत किया और मुख्यमंत्री स्वर्ण जयंती उत्कृष्ट विद्यालय योजना के तहत स्कूल का चयन करने के लिए आभार जताया। उन्होंने स्कूल द्वारा चलाई जा रही विभिन्न गतिविधियों की विस्तृत जानकारी दी। इस दौरान स्कूली बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। उन्होंने बच्चों को 6 हजार रुपये देने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि पांच लाख से मेला ग्राउंड के शेड का निर्माण पूरा कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि साइट डेवलोपमेन्ट वर्कस पर 10 लाख रुपये व्यय किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि धीमान पनिहारी बस्ती, ओडर सड़क के कार्य पर 165 लाख रुपए व्यय किये जा जा रहें हैं जिसका 70 प्रतिशत कार्य पूरा कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि तीन करोड़ रुपए से कल्याड़ा नागनपट्ट में मल्टी पर्पस स्पोर्ट्स कम्प्लेक्स बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि बनिया दा बाग संपर्क सड़क धर्म चंद के घर से घरोह गांव के लिए 13 लाख स्वीकृत किये गए हैं। गांव बन्डी में दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना में लगभग 500 मीटर लंबी एलटी लाइन बनाई गई है। इसमें लगभग तीन लाख रुपए खर्च किए गए हैं। गांव कल्याड़ा में गरयालू बस्ती में 25 केवीए के ट्रांसफार्मर को बड़ा करके 63 केवीए का ट्रांसफार्मर रखा जाना है जिसमें एक लाख रुपए खर्च होंगे।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री रोशनी योजना में गरीब परिवारों को नए कनेक्शन लगाए गए हैं। रजोल में चार करोड़ रुपये की लागत से नया 33 केवी सब-स्टेशन बनाया गया है जिससे बन्डी, कल्याड़ा व नागनपट्ट गांव को भी जोड़ा जाएगा। नागनपट्ट गांव में 100 केवीए का नया ट्रांसफार्मर लगाया जा रहा है, जिससे एलटी लाइन और एचटी लाइन सहित लगभग 14 लाख रुपए खर्च किए जायेंगे।
उन्होंने कहा कि जल शक्ति विभाग द्वारा 139.19 लाख रुपये की लागत से बहाव सिंचाई योजना बड़ोडर कुहल की निविदा का कार्य प्रगति पर है। इससे बन्डी, कल्याड़ा, नागनपट्ट तथा ओडर गांव लाभान्वित होंगे। उन्होंने बताया कि 319.34 लाख से पेयजल योजना बन्डी, रछयालू, मनेई, पटगोड़ व टोडा नोसेरा के विस्तारीकरण की निविदा का कार्य प्रगति पर है। इससे बन्डी, कल्याड़ा, नागनपट्ट तथा ओडर गांव लाभान्वित होंगे।
सरवीन ने नागनपट्ट तथा कलियाड़ा में लोगों की समस्याओं को सुना और अधिकांश का मौके पर ही निपटारा कर दिया तथा शेष समस्याओं के समाधान के लिए सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये।
इस अवसर पर एसडीएम धर्मशाला शिल्पी बेक्टा, मंडलाध्यक्ष प्रीतम चैधरी, अध्यक्ष बीडीसी विजय चैधरी, प्रान्त अध्यक्ष शिक्षक संघ पवन, प्रधान नागनपट्ट रेखा देवी, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विजय वर्मा, बीएमओ डॉ0 हरिन्द्र सिंह, नायब तहसीलदार सुरिंदर चैधरी, एडवोकेट दीपक अवस्थी, एसडीओ विवेक कालिया, जितेंद्र प्रकाश, जेई राजन सूद, ऋषव सहित प्रधान घरोह तिलक राज शर्मा विभिन्न विभागों के अधिकारी, विभिन्न स्कूलों के प्रधानाचार्य, विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधि, स्कूल का स्टाफ सहित बड़ी संख्या में लोग तथा स्कूली बच्चे मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular