Saturday, February 4, 2023
HomeDharmshalaकृषि विश्वविद्यालय में पशुओें के समूह की निगरानी के लिए ऑलफ्लेक्स प्रणाली...

कृषि विश्वविद्यालय में पशुओें के समूह की निगरानी के लिए ऑलफ्लेक्स प्रणाली स्थापित

- Advertisement -

कृषि विश्वविद्यालय में पशुओें के समूह की निगरानी के लिए ऑलफ्लेक्स प्रणाली स्थापित

  • 20 गायों को लगाया सेंसरयुक्त बैंड, प्रदेश में पहली बार
  • सौ मीटर के दायरे में पांच हजार पशुओं की हो सकती है निगरानी

इंडिया न्यूज, पालमपुर (Palampur-Himachal Pradesh)

चौधरी सरवण कुमार हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय के पशुधन फार्म परिसर (Livestock Farm Campus of Chaudhary Sarwan Kumar Himachal Pradesh Agricultural University) में पशुओं के समूह के प्रबंधन के लिए ऑल फ्लेक्स प्रणाली (all flex system installed) को स्थापित किया गया है। हिमाचल प्रदेश में यह सुविधा सबसे पहले (first in himachal pradesh) स्थापित की गई है।

कुलपति प्रो0 एच0 के0 चौधरी (Vice Chancellor Prof. H.K. Chowdhary) ने ऑल फ्लेक्स प्रणाली सेंसरयुक्त बैंड पहने जानवरों की निगरानी (all Flex System Monitoring of animals wearing sensor bands) का निरीक्षण करने के बाद बताया कि ऑलफ्लेक्स प्रणाली गाय के स्वास्थ्य, जुगाली और प्रजनन स्थिति के बारे में वास्तविक समय के आधार पर संकेत प्रसारित करता है।

यह कर्मचारियों के मोबाइल फोन पर अलर्ट (alert on mobile phone) देता है, अगर पशु कृत्रिम गर्भाधान के लिए गर्माने पर है या पशु को पाचन संबंधी कोई परेशानी हो रही है।

ये सेंसर जानवरों की स्थिति, गतिविधि और स्वास्थ्य की स्थिति की निगरानी करते हैं और इसे केंद्रीय रूप से स्थित ट्रांसमीटर के माध्यम से कृत्रिम बुद्धिमत्ता आधारित सॉफ्टवेयर में संचारित करते हैंए जो वास्तविक समय के आधार पर संकेतों की व्याख्या करता है।

यह सिस्टम इन संकेतों का विश्लेषण करता है और फार्म मैनेजर को उसके मोबाइल फोन पर पशुओं की माहवारी में, गर्भपात की संभावना आदि के बारे में नियमित संदेश देता है।

इस तरह के अलर्ट मिलने पर फार्म मैनेजर संकेतों को जांचते हुए आवश्यक कदम उठा सकता है।

प्रो0 चौधरी ने बताया कि शुरुआत में 20 गायों के गले में यह बैंड (band in cow neck) पहनाया गया है।

यह कृत्रिम बुद्धिमान आधारित स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली 100 मीटर की हवाई दूरी के साथ 5000 जानवरों को कवर कर सकती है और हिमाचल प्रदेश राज्य में पहली बार आने वाले किसानों और उद्यमियों के प्रदर्शन के लिए स्थापित की गई है।

उन्होंने कहा कि दुधारू पशुओं के कल्याण के लिए डेयरी इकाई में म्यूजिक सिस्टम (Music system in dairy unit) और ऑटोमेटिक ग्रूमर (automatic groomer) भी स्थापित किया गया है।

कुलपति ने बताया कि डेयरी इकाई किसानों एवं अन्य लोगों के लिए मॉडल प्रदर्शन इकाई बने, इसके लिए इसे और मजबूत करने के निर्देश जारी किए गए हैं।

कुलपति के दौरे के दौरान अधिष्ठाता डॉ0 मनदीप शर्मा, प्रसार शिक्षा निदेशक डा0 वी0 के0 शर्मा, सह निदेशक शोध डा0 आर0 कुमार, और विभागाध्यक्ष पशुधन फार्म परिसर डा0 एस0 कटोच उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular