Monday, November 28, 2022
HomeDharmshalaGovernment's emphasis on qualitative education. सरकार का गुणात्मक शिक्षा पर जोर

Government’s emphasis on qualitative education. सरकार का गुणात्मक शिक्षा पर जोर

- Advertisement -

सरकार का गुणात्मक शिक्षा पर जोर – सरवीन चैधरी
44 लाख से बदलेगी उत्कृष्ट विद्यालय हारचकियां की तस्वीर, मूलभूत सुविधाओं पर व्यय होगी राशि
इंडिया न्युज। धर्मशाला।

राष्ट्र के उत्थान में शिक्षा की उपयोगिता को देखते हुए सरकार ने चार वर्षों के भीतर शिक्षा के आधार को सुदृढ़ करने पर जोर दिया है। इस दिशा में नई योजनाएं भी आरंभ की गई हैं। वर्तमान वित्त वर्ष में शिक्षा के लिए 8024 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है। यह शब्द सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चैधरी ने सोमवार को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला हारचकियां में मुख्यमंत्री स्वर्ण जयंती उत्कृष्ट विद्यालय योजना के तहत रावमापा हारचकियां का शिलान्यास करने के उपरांत कहे। उन्होने मुख्यमंत्री स्वर्ण जयंती उत्कृष्ट योजना में शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाले राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला हारचकियां को शामिल करने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का आभार जताया। उन्होंने बताया कि रावमापा हारचकियां स्कूल के अतिरिक्त निर्माण और अन्य कार्यों के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 44 लाख रुपये स्वीकृत किये गए हैं।

उन्होने कहा कि 44 लाख रुपये से स्कूल में विद्यार्थियों के लिए आधुनिक सुविधाएं जुटाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि इस राशि से स्कूल परिसर के विकास के लिए 13 लाख रुपये व्यय किये जायेंगे। इसके साथ ही बोटोनिकल गार्डन, औषधीय पौधों का गार्डन व पर्यावरण सरंक्षण, प्रयोगशालाओं के उपकरणों, वाई फाई युक्त क्लासरूम व ऑनलाइन सुविधा प्रदान करने, गणित लैब व साइंस लैब के सुधारीकरण, स्पोर्ट्स उपकरणों, वाद्य यंत्रों और ध्वनि प्रसार प्रणाली, क्लासरूम में फर्नीचर, पुस्तकालय के सुधारीकरण एवं चिकित्सीय उपकरणों पर भी धनराशि से पैसा खर्च किया जायेगा।
इसके उपरांत समाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने 1.21 लाख रुपये से निर्मित होने वाले अतिरिक्त भवन का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि इस भवन के निर्माण से बच्चों को सुविधा प्राप्त होगी। इसके लिए 15 लाख रुपए की राशि की पहली किस्त आ चुकी है। उन्होने 4.,50 लाख से निर्मित राजकीय केंद्र पाठशाला प्राथमिक हारचकियां का उद्घाटन किया। इसके अतिरिक्त 1.50 लाख से स्कूल की चारदीवारी का कार्य प्रगति पर है। इस अवसर पर स्कूल के प्राचार्य रवि कुमार ने मुख्यतिथि का स्वागत किया और मुख्यमंत्री स्वर्ण जयंती उत्कृष्ट विद्यालय योजना के तहत स्कूल का चयन करने के लिए आभार जताया। उन्होंने स्कूल द्वारा चलाई जा रही विभिन्न गतिविधियों की विस्तृत जानकारी दी। इस दौरान स्कूली बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। उन्होंने सांस्कृतिक कार्यक्रमों को बढ़ावा देने के लिए बच्चों को आठ हजार रुपये देने की घोषणा की। उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले बच्चों को सम्मानित किया।
सरवीन ने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में शाहपुर निर्वाचन क्षेत्र के समग्र विकास पर करोड़ों रूपये की राशि व्यय की जा रही है और यह विधान सभा क्षेत्र प्रदेश में एक विकास का आदर्श मॉडल के रूप में उभर रहा हैे।


उन्होने कहा कि 40 लाख से संपर्क मार्ग लपियाना से गोरडा तथा 25 लाख से कनिष्ठ अभियंता आवास हारचकियां का कार्य प्रगति पर है। मनई बाजार के सुधारीकरण पर छः लाख रुपये व्यय किये जाएंगे। नागनी नाला के सुधारीकरण पर पांच लाख रुपए व्यय किये गए हैं। उन्होंने कहा कि छल, ठेहड़, चलाई, नेरा, नगरोटा, सरदयाल, लदोह संपर्क सड़क को विधायक प्राथमिकता में रखा गया है। उन्होंने बताया कि ठेहड़ से परगोड़ रोड़ पर 286 लाख, हारचकियां से धार रोड़ पर 166 लाख, हारचकियां से थाना रोड़ पर 76 लाख, थाना से धार सड़क पर 231 लाख, बडपल्हार से जोल रोड़ पर 91.60 लाख तथा संपर्क मार्ग मनई से भंडरेला पर 342 लाख व्यय किये गए हैं।

उन्होंने बताया कि बार-बार बिजली जाने की समस्या सेे निजात दिलाने हेतू एक नई 33 केवी लाइन शाहपुर से लंज तक लाई जा रही है। जिसकी लंबाई लगभग 16 किलोमीटर बनेगी और लागत लगभग 3.84 करोड़ आएगी। 11 केवी लंज से हारचकियां एक्सप्रेस फीडर डीडीयूजीजेवाय स्कीम के तहत बनाया जा रहा है जिसकी लागत 40 लाख रुपए आएगी। कम वोल्टेज की समस्या के कारण 63 केवीए ट्रांसफार्मर लाहडू में रखा गया है। जिसकी लागत 11 लाख रुपये है। कम वोल्टेज की समस्या के कारण 63 केवीए ट्रांसफार्मर की क्षमता को बढ़ाकर 100 केवीए ट्रांसफार्मर गांव धार खास में की गई। जिसकी लागत पाँच लाख रुपए है। कम वोल्टेज की समस्या के कारण 63 केवीए ट्रांसफार्मर सफेदा चैक में रखा जाएगा जिसकी लागत लगभग 12 लाख रुपये आएगी। कम वोल्टेज की समस्या के कारण 25 केवीए ट्रांसफार्मर परगोड के साथ बैरीयां में रखा जाएगा जिसकी लागत लगभग 10 लाख रुपये आएगी।

उन्होंने बताया कि उठाऊ पेयजल योजना हारचकियां लपियाना के सुधारीकरण व विस्तारीकरण पर 157.95 लाख रुपए व्यय किये जा रहे हैं जिससे आठ गांवों के 3256 लोग लाभान्वित होंगे। उन्होंने बताया कि विभिन्न पेयजल योजनाओं के सुधारीकरण के अंतर्गत ‘हर घर नल से जल’ के तहत 27 गाँवों के 7471 लोग लाभान्वित होंगे जिस पर 1003 लाख रुपये खर्च होंगे। विभिन्न पेयजल योजनाओं के सुधारीकरण के अंतर्गत हर घर नल से जल के तहत 28 गाँवों के 11869 लोग लाभान्वित होंगे जिसमें 507.37 लाख व्यय होंगे। विभिन्न पेयजल योजनाओं के सुधारीकरण में एडीबी के अंतर्गत एलडब्ल्यूएसएस लंज के नोसेहरा, मनई, परगोड और बंडी रछियालू के 27 गाँवों के 7471 लोग लाभान्वित होंगें जिसके लिए टेंडर प्रक्रिया जारी है और जिस पर 3190.34 लाख व्यय किये जायेंगे। उन्होंने बताया कि उठाऊ पेयजल योजना ग्राम पंचायत लपियाना, ठेहड़ व मनई के लिए अलग से बनाई जाएगी जिसे विधायक प्राथमिकता में रखा गया है।
इस दौरान उन्होंने लोगों की समस्याओं को सुना। अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया।
इस अवसर पर तहसीलदार परमिंदर सिंह, प्रान्त अध्यक्ष शिक्षा संघ पवन, प्रधान हारचकियां तिलक राज, प्रधान घरोह तिलक राज शर्मा, अधिशासी अभियंता जल जीवन मिशन सुमित कटोच, बीडीओ प्रीतम सिंह, एसडीओ लोक निर्माण विभाग बलबीत, जिला परिषद संजय कुमार, बीडीसी सदस्य कटक सिंह, संजीव सिंह गुलेरिया सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, विभिन्न स्कूलों के प्रधानाचार्य, विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधि, स्कूल का स्टाफ, बच्चों के अभिभावक, स्कूली बच्चों सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular