Saturday, October 1, 2022
HomeDharmshalaकेंद्रीय विवि के संस्कृत विभाग की ओर से संस्कृत की विशेष कक्षाओं...

केंद्रीय विवि के संस्कृत विभाग की ओर से संस्कृत की विशेष कक्षाओं का संचालन

केंद्रीय विवि के संस्कृत विभाग की ओर से आयोजित प्रदर्शनी का अवलोकन करते डा0 सुमन शर्मा।

केंद्रीय विवि के संस्कृत विभाग की ओर से संस्कृत की विशेष कक्षाओं का संचालन

  • विवि के कुलपति के मार्गदर्शन में संस्कृत भाषा का किया जा रहा प्रचार- बृहस्पति
  • संस्कृत वस्तु प्रदर्शनी को सबने सराहा
इंडिया न्यूज धर्मशाला (Dharamshala Himachal Pradesh)
हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय धर्मशाला के संस्कृत विभाग (Sanskrit Department of Central University HP) की ओर से विगत 17 मई से धर्मशाला स्थिति बाल वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला धर्मशाला और नर्सरी माध्यमिक पाठशाला धर्मशाला में संचालित संस्कृत की विशेष कक्षाओं का मंगलवार को समापन कार्यक्रम आयोजित किया गया। समापन कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि (सेवानिवृत सैनिक) कर्नल राजेश रहे तथा विशिष्ट अतिथि विद्यालय की प्रवक्ता लक्ष्मी ज्योतिशा एवं सारस्वत अतिथि अभिषेक शास्त्री रहे।
केंद्रीय विवि के संस्कृत विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में मौजूद विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थी।
कार्यक्रम की अध्यक्षता हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय के संस्कृत विभाग (Sanskrit Department of Central University HP) के अध्यक्ष डॉ0 बृहस्पति मिश्र ने की। इस अवसर पर संस्कृत वस्तु प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया। प्रदर्शनी का उद्घाटन विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक डॉ0 सुमन शर्मा तथा वित्त अधिकारी नरेंद्र कुमार ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया।
संस्कृत भाषा

संस्कृत भाषा के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए प्रयास जारी

कार्यक्रम के संयोजक संस्कृत संवर्धन समिति के प्रभारी एवं संस्कृत पाली एवं प्राकृत विभाग के सहायक आचार्य नरेंद्र कुमार पांडेय ने बताया कि कक्षाओं का संचालन संस्कृत-विभाग के स्नातकोत्तर कक्षाओं के छात्रों ने किया। इस अवसर पर विभाग के अध्यक्ष डा. बृहस्पति मिश्र जी के अनुसार विवि के कुलपति प्रो0 सत प्रकाश बंसल के मार्गदर्शन में संस्कृत भाषा के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए प्रयास जारी हैं।

संस्कृत की विशेष कक्षाएं संचालित हो रही

इस क्रम में विगत 17 मई से धर्मशाला के बालक वर्ग वरिष्ठ विद्यालय तथा सीनियर सेकेंडरी स्कूल में संस्कृत की विशेष कक्षाएं संचालित हो रही थीं। वहीं समापन अवसर पर संस्कृत वस्तु प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इसमें स्नातकोत्तर चतुर्थ सत्र के विद्यार्थी विशाल, कविता, उर्मिला, सुधीर कुमार, निधी, डिंपल, नेहा और पंकज आदि ने प्रदर्शनी के आयोजन में अपनी सहभागिता निभाई।
प्रदर्शनी की संयोजिका डा0 अर्चना कुमारी ने इस अवसर पर अतिथियों को प्रर्दशनी के विषय में जानकारी दी। इस अवसर पर विभाग के प्राध्यपक डा0 विवेक, डा0 कुलदीप, डा0 भजहरिदास, डा0 रणजीत और डा0 वैथि सुब्रह्मणियन मौजूद रहे।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular