Monday, September 26, 2022
HomeHamirpurकौशल विकास एवं प्रेक्टिकल लर्निंग पर ध्यान दें युवा Youth Should Focus...

कौशल विकास एवं प्रेक्टिकल लर्निंग पर ध्यान दें युवा Youth Should Focus on Skill Development and Practical Learning

कौशल विकास एवं प्रेक्टिकल लर्निंग पर ध्यान दें युवा Youth Should Focus on Skill Development and Practical Learning

  • युवा भारत का भ्रमण कर अपने महान देश को समझें: अनुराग ठाकुर
  • करियर प्वाइंट यूनिवर्सिटी हमीरपुर के 7वें दीक्षांत समारोह में 579 विद्यार्थियों को प्रदान की डिग्रियां और मेडल

इंडिया न्यूज, हमीरपुर।

Youth Should Focus on Skill Development and Practical Learning : केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण, युवा मामले और खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने युवाओं से अपील की है कि वे भारत जैसे महान देश को समझने के लिए इसका अधिक से अधिक भ्रमण करें।

सांस्कृतिक आदान-प्रदान को बढ़ावा दें तथा जीवन में मेहनत एवं संघर्ष करें। सोमवार को खरवाड़ स्थित करियर प्वाइंट यूनिवर्सिटी हमीरपुर (Career Point University Hamirpur) के 7वें दीक्षांत समारोह में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि जीवन में आप जितना संघर्ष करेंगे, उतना ही सीखेंगे।

उन्होंने युवाओं से आग्रह किया कि वे देश के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाएं और इसके लिए किसी न किसी रूप में अपना योगदान दें ताकि हमारा देश प्रगति के पथ पर तेजी से अग्रसर हो सके।

उच्च शिक्षा का मतलब सिर्फ डिग्री हासिल करना नहीं (Youth Should Focus on Skill Development and Practical Learning)

अनुराग ठाकुर ने कहा कि उच्च शिक्षा का मतलब सिर्फ डिग्री हासिल करना ही नहीं होना चाहिए, बल्कि शिक्षा की गुणवत्ता और युवाओं के कौशल विकास पर विशेष रूप से फोकस करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि युवाओं को व्हाइट कालर जोब के पीछे भागने की बजाय कौशल विकास एवं प्रेक्टिकल लर्निंग पर ध्यान देना चाहिए।

सीपीयू के एक दशक के सराहनीय सफर की चर्चा करते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि एक भारत-श्रेष्ठ भारत के तहत इस संस्थान के युवाओं को एक्सपोजर प्रदान किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि सीपीयू हमीरपुर संभवत: प्रदेश का ऐसा पहला निजी शिक्षण संस्थान है जहां अटल इनोवेशन एवं इनक्यूबेशन सेंटर की स्थापना की गई है।

इस सेंटर के माध्यम से रिसर्च एवं स्टार्टअप को बढ़ावा मिलेगा। यहां उद्योग विभाग के सहयोग से सीएम स्टार्टअप योजना के तहत इनक्यूबेशन सेंटर में 21 युवा शोध कर रहे हैं।

5 शोधकर्ता विनिर्माण की स्टेज पर पहुंचने वाले हैं। केंद्रीय मंत्री ने सीपीयू के इनक्यूबेशन सेंटर के अंतर्गत स्थानीय संसाधनों पर आधारित 5 उद्यमों की लांचिंग भी की।

संस्थान के विद्यार्थियों को एक्सपोजर प्रदान करने का प्रयास (Youth Should Focus on Skill Development and Practical Learning)

अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि संस्थान के विद्यार्थियों को एक्सपोजर प्रदान करने के लिए भी विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में पत्रकारिता के विद्यार्थियों को दूरदर्शन के केंद्रों में प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है।

उन्होंने कहा कि लगभग 2 वर्षों के दौरान वैश्विक महामारी कोरोना ने हमें कई सबक दिए हैं। इस महामारी की 3 लहर गुजर जाने के बाद हमारे आम जनजीवन में कई बड़े बदलाव आए हैं।

कोरोना संकट के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आपदा में अवसर और आत्मनिर्भर भारत का मंत्र दिया। हमारा स्वास्थ्य तंत्र कोरोना जैसी भयंकर आपदा के लिए तैयार नहीं था लेकिन प्रधानमंत्री की दूरदर्शी सोच और सशक्त नेतृत्व के कारण भारत ने आपदा के दौरान बहुत कम समय में एक मजबूत एवं अत्याधुनिक स्वास्थ्य ढांचा खड़ा किया।

यही नहीं, अन्य क्षेत्रों में भी भारत के विकास की रफ्तार को रुकने नहीं दिया। पहले भारत में अधिकांश मोबाइल चीन से बनकर आते थे लेकिन अब हमारा देश दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल निर्माता बन चुका है। कोरोना संकट के दौरान मोदी ने 80 करोड़ लोगों को 2 साल तक मुफ्त राशन की व्यवस्था की।

मोदी के कार्यकाल में 12.3 प्रतिशत लोग गरीबी रेखा से निकले (Youth Should Focus on Skill Development and Practical Learning)

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि विश्व बैंक की रिपोर्ट बताती है कि मोदी के कार्यकाल में भारत में लगभग 12.3 प्रतिशत लोग गरीबी रेखा से ऊपर निकलने में सफल हुए हैं।

इनमें से ग्रामीण क्षेत्रों में 14 प्रतिशत से अधिक और शहरी क्षेत्रों में लगभग 7.9 प्रतिशत लोग गरीबी से बाहर निकले हैं।

सांसद मोबाइल स्वास्थ्य सेवा की चर्चा करते हुए अनुराग सिंह ठाकुर ने बताया कि इस सेवा के माध्यम से हिमाचल प्रदेश के 7 लाख से अधिक लोगों को घर-द्वार पर मुफ्त चिकित्सा सेवाएं प्रदान की जा चुकी हैं।

सीपीयू की दशक रिपोर्ट का विमोचन (Youth Should Focus on Skill Development and Practical Learning)

समारोह के दौरान केंद्रीय मंत्री ने 27 मेधावी विद्यार्थियों को गोल्ड मेडल और कुल 579 डिग्रियां भी प्रदान कीं तथा सीपीयू की दशक रिपोर्ट का विमोचन किया।

इस अवसर पर विशेष अतिथि विधायक एवं हिमाचल प्रदेश विधानसभा में उप मुख्य सचेतक कमलेश कुमारी ने कहा कि केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर आज देशभर के युवाओं के लिए एक बहुत बड़े प्रेरणास्रोत हैं।

सांसद खेल महाकुंभ और मेधावी विद्यार्थी भारत भ्रमण योजना के माध्यम से अनुराग सिंह ठाकुर ने हजारों प्रतिभाओं को प्रेरित एवं प्रोत्साहित किया है।

विशिष्ट अतिथि हिमाचल प्रदेश निजी शिक्षण संस्थान नियामक आयोग के अध्यक्ष मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) अतुल कौशिक एसएम, वीएसएम ने भी विद्यार्थियों को संबोधित किया।

सीपीयू हमीरपुर की प्रायोजक संस्था गोपीबाई फाउंडेशन के प्रबंधन ट्रस्टी ओम माहेश्वरी और सीपीयू हमीरपुर एवं कोटा के कुलपति प्रमोद माहेश्वरी ने ओनलाइन माध्यम से अपने विचार रखे।

शूटिंग रेंज का उद्घाटन (Youth Should Focus on Skill Development and Practical Learning)

दीक्षांत समारोह से पहले केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण, युवा मामले एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने सीपीयू परिसर में ही 10 मीटर शूटिंग रेंज का उद्घाटन भी किया।

उन्होंने कहा कि इसी परिसर में 4 माह के भीतर क्रिकेट अकादमी शुरू की जाएगी तथा यहां स्पोर्ट्स हब विकसित करने की संभावनाएं भी तलाशी जाएंगी। Youth Should Focus on Skill Development and Practical Learning

Read More : राजभवन के कर्मियों को मिलेगा संस्कृत का प्रशिक्षण Raj Bhavan Personnel Will Get Sanskrit Training

Read More : मेले समृद्ध संस्कृति के परिचायक Fair is a Symbol of Rich Culture

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular