Saturday, February 4, 2023
Homeहिमाचल प्रदेशमुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कोविड-19 टीकाकरण अमृत महोत्सव अभियान का शुभारंभ किया

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कोविड-19 टीकाकरण अमृत महोत्सव अभियान का शुभारंभ किया

- Advertisement -

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कोविड-19 टीकाकरण अमृत महोत्सव अभियान का शुभारंभ किया

इंडिया न्यूज, Shimla (Himachal Pradesh)

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (Chief Minister Jai Ram Thakur) ने मंगलवार को यहां दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल से कोविड-19 टीकाकरण अमृत महोत्सव अभियान (Covid-19 Vaccination Amrit Mahotsav campaign) का शुभारंभ (launches) किया।

इस अवसर पर मीडिया के प्रतिनिधियों से संवाद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अभियान 15 जुलाई, 2022 से शुरू किया गया है और इस वर्ष 30 सितम्बर तक चलेगा।

उन्होंने कहा कि इस अभियान के अंतर्गत 75 दिनों में 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 51 लाख पात्र लोगों को मुफ्त एहतियाती डोज लगवाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

उन्होंने कहा कि इस लक्ष्य को समय से पहले पूर्ण कर लिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड-19 के खिलाफ 16 जनवरी, 2021 को राष्ट्र स्तरीय टीकाकरण अभियान शुरू किया था।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने देश में कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण की पहली और दूसरी डोज लगाने का कीर्तिमान स्थापित किया था जिसकी प्रधानमंत्री ने भी सराहना की थी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश ने 6 दिसम्बर, 2021 को सभी पात्र लाभार्थियों को कोविड टीकाकरण की दूसरी डोज लगाने में भी देशभर का प्रथम राज्य बनकर कीर्तिमान स्थापित किया है।

कोविड-19 के बढ़ते मामलों की निगरानी

जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों की राज्य सरकार निरंतर निगरानी कर रही है। उन्होंने लोगों से कोविड अनुरूप व्यवहार अपनाने और कोविड टीका लगवाने के लिए आगे आने का आग्रह किया।

उन्होंने लोगों से एहतियाती खुराक लगवाने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में वर्तमान में लगभग 11,500 बिस्तर क्षमता के साथ 48 पीएसए प्लांट, 3 एलएमओ प्लांट, 18 हजार आक्सीजन सिलेंडर, 1014 वेंटिलेटर हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य में वर्तमान में 25 सक्रिय कोविड केंद्र हैं जिन्हें आवश्यकता के अनुसार बढ़ाया जा सकता है।

इस अवसर पर उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह, प्रधान सचिव स्वास्थ्य सुभासीष पंडा, निदेशक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डा. अनीता महाजन, उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी, शिमला की मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सुरेखा चोपड़ा और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें : किन्नौर के निगुलसरी में भूस्खलन की आशंका के चलते वाहनों की आवाजाही बंद

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular