Saturday, February 4, 2023
Homeहिमाचल प्रदेशमुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हर घर तिरंगा अभियान की तैयारियों की समीक्षा...

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हर घर तिरंगा अभियान की तैयारियों की समीक्षा की

- Advertisement -

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हर घर तिरंगा अभियान की तैयारियों की समीक्षा की

इंडिया न्यूज, Shimla (Himachal Pradesh)

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (Chief Minister Jai Ram Thakur) ने आज यहां आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत हर घर तिरंगा अभियान (har ghar tiranga campaign), हिमाचल के गठन के 75 वर्षों के आयोजन और विशेष टीकाकरण अभियान के दृष्टिगत सभी जिलों के उपायुक्तों, पुलिस अधीक्षकों और मुख्य चिकित्सा अधिकारियों के साथ वर्चुअल माध्यम से आयोजित बैठक (reviews the preparations) की अध्यक्षता की।

उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि सभी 14.83 लाख घरों, अधिकारिक भवनों, शैक्षणिक संस्थानों और निजी प्रतिष्ठानों में जन भागीदारी से 13 से 15 अगस्त तक तिरंगा फहराया जाए।

तिरंगा प्रत्येक भारतीय के लिए राष्ट्रीय गौरव का प्रतीक

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय ध्वज प्रत्येक भारतीय के लिए राष्ट्रीय गौरव का प्रतीक है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत हमारे राष्ट्रीय ध्वज को सम्मान प्रदान करने के उद्देश्य से हर घर तिरंगा अभियान आयोजित करने का निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि यह प्रत्येक भारतीय को अपने घरों में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए प्रेरित करता है।

आयोजन को सफल बनाने की कवायद

जयराम ठाकुर ने कहा कि इस आयोजन को सफल बनाने के लिए पंचायती राज संस्थाओं और शहरी निकायों के प्रतिनिधियों की सहभागिता सुनिश्चित की जाएगी।

उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूह, युवक मंडल, महिला मंडल और अन्य गैर सरकारी संगठनों को विस्तृत स्तर पर शामिल किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि विभिन्न सांस्कृतिक, सामाजिक और धार्मिक संगठनों को भी इसमें अवश्य शामिल किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि उपायुक्तों के पास राष्ट्रीय ध्वज की उपलब्धता के लिए एक प्रभावी तंत्र विकसित किया जाना चाहिए ताकि उन्हें संबंधित जिलों में वितरित किया जा सके।

सरकारी वैबसाइटों के होम पेज पर दिखे राष्ट्रीय ध्वज

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की सभी सरकारी वैबसाइटों के होम पेज पर 22 जुलाई से राष्ट्रीय ध्वज दिखाई देना चाहिए तथा नागरिकों को भी फेस बुक, इंस्ट्राग्राम, ट्वीटर और अन्य सोशल मीडिया अकाउंट्स पर तिरंगा प्रदर्शित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

उन्होंने लोगों को तिरंगे के साथ सेल्फी लेने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि बच्चे, बुजुर्ग, युवा और किशोर मिलकर भारत माता के गौरव में गीत गाएं और जनता में देशभक्ति की भावना जागृत करने के लिए गांवों में तिरंगा लेकर प्रभातफेरी निकालें।

आयोजन को जन आंदोलन का रूप दें

जयराम ठाकुर ने कहा कि सूचना एवं जन संपर्क विभाग विज्ञापन के माध्यम से इस आयोजन को बढ़ावा देने के लिए अभियान चलाए ताकि इस आयोजन को जन आंदोलन बनाया जा सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश अपने अस्तित्व के 75 वर्ष मना रहा है इसलिए राज्य के 75 स्थानों में जन संपर्क कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि यह आयोजन 15 दिनों की अवधि में होगा और प्रतिदिन 5 से 6 कार्यक्रम करवाए जाएंगे। उन्होंने अधिकारियों को प्रदेश के विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों को शामिल कर इसे जन आंदोलन बनाने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि पिछले 75 वर्षों की विकास यात्रा को प्रदर्शित करने के लिए सभी आयोजन स्थलों पर प्रदर्शनियां भी लगाई जानी चाहिएं।

विकास यात्रा बुकलेट/लीफलेट तैयार होगी

जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य पर्यटन विभाग सूचना, शिक्षा और सम्प्रेषण सामग्री के मुद्रण के लिए नोडल विभाग होगा और विभिन्न विभागों की योजनाओं और विभिन्न क्षेत्रों में हिमाचल प्रदेश की पिछले 75 वर्षों की विकास यात्रा को प्रदर्शित करते हुए एक बुकलेट/लीफलेट तैयार की जाएगी।

उन्होंने संबंधित विभागों को प्रदेश द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में किए गए विकास का तुलनात्मक विवरण तैयार करने के निर्देश दिए।

एहतियाती खुराक लगाने में भी हो बेहतर प्रदर्शन

मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने 15 जुलाई से 30 सितंबर, 2022 तक लोगों को मुफ्त एहतियाती खुराक उपलब्ध करवाने के लिए वैक्सीन अमृत महोत्सव नाम से एक नई पहल की भी घोषणा की है।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने टीके की पहली और दूसरी खुराक लगाने में बेहतरीन प्रदर्शन किया है इसलिए राज्य को एहतियाती खुराक लगाने में भी बेहतर प्रदर्शन करना चाहिए।

उन्होंने उपायुक्तों को टीकाकरण की एहतियाती खुराक लगाने के लिए लोगों को प्रेरित करने के लिए विशेष अभियान शुरू करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि इसके लिए शिक्षण संस्थानों में भी विशेष अभियान चलाया जाना चाहिए और इस संबंध में पंचायती राज संस्थाओं और शहरी स्थानीय निकायों के प्रतिनिधियों को शामिल किया जाना चाहिए।

टीकाकरण के लिए विशेष अभियान चलाएं

जयराम ठाकुर ने कहा कि टीकाकरण से वंचित लोगों के टीकाकरण के लिए विशेष अभियान चलाया जाना चाहिए और एहतियाती खुराक के बारे में लोगों को जागरूक करने और लाभार्थियों को टीकाकरण केंद्रों तक पहुंचाने के लिए स्वयं सहायता समूहों की भागीदारी सुनिश्चित की जानी चाहिए।

आयोजनों को सफल बनाने का आश्वासन

मुख्य सचिव आरडी धीमान ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया और बैठक की कार्यवाही का संचालन किया। उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया कि उक्त तीनों आयोजनों को सफल बनाने में अधिकारी कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

प्रधान सचिव सामान्य प्रशासन भरत खेड़ा ने हिमाचल प्रदेश के अस्तित्व के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में प्रस्तुति दी। प्रधान सचिव स्वास्थ्य सुभासीष पंडा ने कोविड-19 की एहतियाती खुराक पर प्रस्तुति दी।

सचिव भाषा, कला एवं संस्कृति राकेश कंवर ने हर घर तिरंगा अभियान के संबंध में प्रस्तुति दी। इस अवसर पर सभी जिला उपायुक्तों ने भी सुझाव प्रदान किए।

इस अवसर पर प्रधान सचिव ओंकार शर्मा, आरडी नजीम, डा. रजनीश, देवेश कुमार, हिमाचल पथ परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक संदीप कुमार, निदेशक ग्रामीण विकास ऋग्वेद ठाकुर, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मिशन निदेशक हेमराज बैरवा, निदेशक सूचना एवं जन संपर्क हरबंस सिंह ब्रसकोन, निदेशक भाषा कला एवं संस्कृति डा. पंकज ललित और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें : कोविड वैक्सीन अम्रुत महोत्सव के तहत मुफ्त दी जाएगी एहतियाती खुराक

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular