Monday, October 3, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशमुख्यमंत्री ने शिलाई में की प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष समारोह...

मुख्यमंत्री ने शिलाई में की प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष समारोह की अध्यक्षता

मुख्यमंत्री ने शिलाई में की प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष समारोह की अध्यक्षता

  • शिलाई के प्रसिद्ध गोगा नवमी मेले को जिला स्तरीय दर्जा देने की घोषणा की

इंडिया न्यूज, Shimla (Himachal Pradesh)

सिरमौर जिले के शिलाई (Shillai) में आयोजित प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष (75 years of establishment of Progressive Himachal) समारोह में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री (Chief Minister) जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश को प्रगतिशील राज्य बनाने में हर प्रदेशवासी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

15 अप्रैल, 1948 को अस्तित्व में आने के बाद राज्य ने अपनी 75 साल की यात्रा के दौरान कई मुकाम हासिल किए हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश को प्रगतिशील राज्य बनाने में लोगों के योगदान के प्रति धन्यवाद देने के लिए सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों में इन कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के गठन के समय केवल चंबा, महासू, सिरमौर और मंडी सहित कुल 4 जिले ही थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल की स्थापना में सिरमौर के सपूत डा. यशवंत सिंह परमार ने अग्रणी भूमिका निभाई थी।

अनेक कल्याणकारी योजनाएं शुरू की

जयराम ठाकुर ने कहा कि गरीब लोगों के दर्द और मुश्किलों को समझते हुए प्रदेश सरकार ने पौने 5 वर्षों के दौरान अनेक कल्याणकारी योजनाएं शुरू कीं।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना की तर्ज पर राज्य सरकार ने भी प्रदेश के शेष पात्र लोगों को स्वास्थ्य कवर प्रदान करने के लिए हिमकेयर योजना शुरू की है।

केंद्र सरकार की उज्ज्वला योजना से शेष अन्य महिलाओं को मुफ्त गैस कनेक्शन प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना आरंभ की जिसके माध्यम से अभी तक 3.34 लाख महिलाओं को गैस कनेक्शन दिए जा चुके हैं।

उन्होंने कहा कि हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को किराये में 50 प्रतिशत की छूट दी जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बिजली उपभोक्ताओं को 125 यूनिट तक मुफ्त बिजली और ग्रामीण क्षेत्रों में मुफ्त पानी की सुविधा भी प्रदान की है।

शिलाई में आती है सराज की याद

जयराम ठाकुर ने कहा कि जब भी वह शिलाई आते हैं तो उन्हें अपने गृह क्षेत्र सराज की याद आ जाती है क्योंकि दोनों क्षेत्रों की भौगोलिक संरचना एक समान ही है।

शिलाई क्षेत्र के समग्र विकास के लिए उन्होंने सदैव प्रयास किए हैं। उन्होंने कहा कि शिलाई और शिमला के बीच बेहतर सड़क संपर्क स्थापित करने के लिए 1350 करोड़ की लागत से राष्ट्रीय उच्च मार्ग का निर्माण किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि क्षेत्र में लोगों की सुविधा के लिए उपमंडलाधिकारी (नागरिक), खंड विकास अधिकारी, पुलिस उपाधीक्षक, खंड चिकित्सा अधिकारी, विद्युत मंडल और जल शक्ति मंडल कार्यालय खोले गए हैं। क्षेत्रवासियों को घर-द्वार के निकट बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए यहां विभिन्न स्वास्थ्य संस्थान खोले गए हैं।

केंद्र सरकार के समक्ष रखी हाटी समुदाय की मांगें

मुख्यमंत्री ने कहा कि हाटी समुदाय की मांगों को राज्य सरकार ने केंद्र सरकार के समक्ष रखा है और इन्हें शीघ्र पूरा किया जाएगा।

जयराम ठाकुर ने क्षेत्र में मनाए जाने वाले गोगा नवमी मेला को जिला स्तरीय दर्जा प्रदान करने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार लोगों की उचित मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करेगी।

ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने राज्य में विकास की गति तीव्र करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सिरमौर जिले के लोगों की उचित मांगों के प्रति हमेशा संवेदनशील रहते हैं।

सिरमौर का चहुंमुखी विकास: सुरेश कश्यप

सांसद एवं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप (Suresh Kashyap) ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार के कार्यकाल में सिरमौर का चहुंमुखी विकास हुआ है।

उन्होंने कहा कि हाटी समुदाय की मांग हर स्तर पर उठाई जा रही है और शीघ्र ही इस बारे में क्षेत्र के लोगों को अच्छी खबर मिलने की उम्मीद है।

हिमाचल प्रदेश राज्य खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम के उपाध्यक्ष बलदेव तोमर ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए क्षेत्र का अभूतपूर्व विकास सुनिश्चित करने के लिए उनका आभार व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने सदैव ही बिना किसी विलम्ब के क्षेत्र के लोगों की विकासात्मक मांगों को पूरा किया है जिसके लिए शिलाई के लोग मुख्यमंत्री के ऋणी हैं।

इस अवसर पर उन्होंने मुख्यमंत्री को टोपी, लोइया, डांगरा और स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित भी किया। मंडलाध्यक्ष सूरत सिंह चौहान ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।

इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त सिरमौर मनेश कुमार यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बबीता राणा, उपमंडलाधिकारी (ना.) शिलाई सुरेश सिंघा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें : 25 करोड़ से हुआ बिजली का सुदृढ़ीकरण – विपिन सिंह परमार

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular