Monday, November 28, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशSlum Ownership Issue झुग्गी-झोंपड़ी वालों को मालिकाना हक मामले पर कांग्रेस का...

Slum Ownership Issue झुग्गी-झोंपड़ी वालों को मालिकाना हक मामले पर कांग्रेस का वाकआउट

- Advertisement -

Slum Ownership Issue झुग्गी-झोंपड़ी वालों को मालिकाना हक मामले पर कांग्रेस का वाकआउट

  • कहा- जल्दबाजी में रखा गया विधेयक

इंडिया न्यूज, शिमला :

Slum Ownership Issue : हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में झुग्गी-झोंपड़ी वालों को उनकी झुग्गी-झोंपड़ियों का मालिकाना हक देने के लिए विधानसभा में पेश हिमाचल प्रदेश स्लमवासी (सम्पत्तिक अधिकार) विधेयक 2022 को सदन में जल्दबाजी में पेश करने और विपक्ष को इस विधेयक पर अपने संशोधन देने के लिए कम समय देने के मुद्दे पर विपक्षी दल कांग्रेस ने सदन से देर सायं वाकआउट किया।

यह विधेयक शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने सोमवार सायं 7 बजे के बाद सदन में पेश किया। विधेयक पेश करने का विपक्ष ने पुरजोर विरोध किया और पहले सदन में नारेबाजी की तथा बाद में पूरा विपक्ष सदन से वाकआउट कर बाहर चला गया।

इससे पूर्व, इसी मुद्दे पर विपक्ष ने सदन में काफी देर तक हंगामा किया जिसके चलते विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज ने सदन की कार्रवाई 5 मिनट के लिए स्थगित कर दी।

सदन की बैठक फिर से शुरू होने पर विपक्ष अपने रुख पर अड़ा रहा और इस विधेयक को पेश करने के तौर-तरीके का विरोध करता रहा।

विपक्ष की ओर से विधायक सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने मामला उठाया और कई विधायकों ने इस पर ऐतराज जताया कि आज इस विधेयक को शाम के समय पेश करने का क्या मतलब है।

विधायकों को इसे पढ़ने के लिए समय नहीं मिल पाएगा और वह अपने संशोधन नहीं दे सकेंगे।

गलती से सकुर्लेट हुआ बिल: सुरेश भारद्वाज (Slum Ownership Issue)

संसदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने गलती को मानते हुए कहा कि किसी कर्मचारी ने गलती से यह बिल विधायकों को दे दिया है, जोकि नहीं दिया जाना चाहिए।

यह गलती हुई है, लिहाजा इसे विपक्ष मुद्दा न बनाए। विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज ने भी कहा कि विधानसभा सचिवालय के कर्मचारियों की ओर से मानवीय भूल हुई है।

उन्होंने कहा की कि किसकी ओर से यह भूल हुई है, उसको देखा जाएगा और कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि मंगलवार सुबह 11 बजे तक अपने सुझाव विधायक दे सकते हैं।

विधायक हर्षवर्धन चौहान ने कहा कि यदि गलती हुई है तो ठीक है मगर यह कागजात विधानसभा सचिवालय ने दिया है। जब यह पेश नहीं किया गया है तो इसे सरकार वापस ले।

जयराम ने बताई मानवीय त्रुटि (Slum Ownership Issue)

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस मामले पर कहा कि मानवीय त्रुटि हुई है जो किसी से भी हो सकती है। विपक्ष को इस तरह का व्यवहार नहीं करना चाहिए।

यह विधेयक अभी स्थापित किया जाना है जिसके बाद उस पर चर्चा होगी। उन्होंने कहा कि गलती उसी से होती है जो काम करता है इसलिए इस मामले को बढ़ाना नहीं चाहिए।

बाद में सदन में सरकार की ओर से इस विधेयक को पेश कर दिया गया। Slum Ownership Issue

Read More : Governor Arlekar visited the International Youth Hostel राज्यपाल आर्लेकर ने अंतरराष्ट्रीय युवा छात्रावास का किया दौरा

Read More : Himachal Cabinet Decisions 2 बिस्वा भूमि पर झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वाले शहरी गरीबों को मिलेगा मालिकाना हक

Read More : HP CM Statement हुड़दंगी कर्मियों की बात सुनेंगे, मानी नहीं जाएगी

Read More : BJP Delegation Met CM सरकार हिमाचल के विकास के लिए संकल्पबद्ध

Read More : Himachal Students Returned Safely from Ukraine यूक्रेन से हिमाचल के सभी छात्र सुरक्षित लौटे

Read More : Chief Minister Him Care Scheme मुख्यमंत्री हिम केयर योजना के अंतर्गत पूरा साल बनेंगे स्वास्थ्य कार्ड

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular