Tuesday, December 6, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशहिमाचल प्रदेश में रिवाज बदलना तय है-जगत प्रकाश नड्डा

हिमाचल प्रदेश में रिवाज बदलना तय है-जगत प्रकाश नड्डा

- Advertisement -

हिमाचल प्रदेश में रिवाज बदलना तय है-जगत प्रकाश नड्डा

  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में ऐतिहासिक बहुमत से भाजपा सरकार बनाने का दृढ़ निश्चय हिमाचल प्रदेश की जनता ने कर लिया है।
  • जब मैं राजनीति में आया तो कभी मुझे पारला बोला तो कभी वारला बोला। मैंने कहा कि न तो मैं वारला हूं और ना ही पारला। इसके बाद लोगों ने बोला यह तो दिल्ली चला जाएगा। मैंने कहा कि मैं दिल्ली नहीं जाउंगा बल्कि दिल्ली को बिलासपुर लेकर आउंगा।
  • हर बार चुनाव के समय भ्रम जाल फैलाया जाता है, कई बार लोग भ्रम जाल में फंस भी जाते हैं लेकिन आप हमेशा मेरे साथ, भारतीय जनता पार्टी के साथ खड़े रहे। आपका प्यार हमेशा से मुझे मिलता रहा है और मुझे विश्वास है कि आप भाजपा की सरकार फिर से बना कर मेरे इस भरोसे को और मजबूत करेंगे।
  • पौधा चाहे कितना भी अच्छा क्यों न होए उसमें भले ही फल कितने भी लगे हों लेकिन यदि मिट्टी अपना हक अदा नहीं करती तो पौधा सूख जाता है। इसलिएए इस चुनाव में मिट्टी को अपना हक अदा करना पड़ेगा। यह चुनाव मेरे लिए नहीं बल्कि हिमाचल प्रदेश के विकास के लिएए प्रदेश के भविष्य के लिए है।
  • आजादी के 75 साल गुजर गए। कांग्रेस की सरकारों में बिलासपुर और हिमाचल में प्रधानमंत्री महज राजनीतिक पर्यटन के लिए आया करते थे। कांग्रेस की सरकारों ने यहां के बारे में न तो सोचा और न ही चिंता की लेकिन हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी हमेशा हिमचल प्रदेश की जनता के साथ खड़े रहे।
  • इसमें कोई दो राय नहीं है कि केंद्र और हिमाचल प्रदेश में जब-जब भाजपा की सरकार आई है तो विकास हुआ है लेकिन जब-जब कांग्रेस की सरकार आई है तो विकास कार्य बाधित हुआ है। इसलिए रिवाज बदलते हुए फिर से भाजपा को काम दीजिये और विकास कार्यों को रोकने वालों को घर में बिठाइये।
  • कांग्रेस की सरकार ने तो हिमाचल प्रदेश से विशेष राज्य का दर्जा तक हटा दिया था। इतना ही नहीं, हिमाचल को दिया गया इंडस्ट्रियल पैकेज भी वापस ले लिया था। ये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी हैं जिन्होंने हिमाचल प्रदेश का विशेष राज्य का दर्जा फिर से बहाल किया।
  • आजकल राहुल गाँधी भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं। ये वही राहुल गाँधी हैं जिन्होंने जेएनयू में देशद्रोही नारे लगाने का समर्थन किया था। देश को टुकड़े-टुकड़े करने वालों का समर्थन करने वालों का समर्थन करने वाले राहुल गाँधी आज भारत जोड़ो यात्रा लेकर निकले हैं!
  • एक पार्टी आपके हकों की रक्षा करने आती है और एक पार्टी आपके हकों को नुकसान पहुंचाने आती है। बटन सही दब जाए तो विकास होता है और यदि गलती से भी गलत जगह दब जाय तो घर-घर चिंता होती है। कमल का बटन दबता है तो सर्वत्र विकास होता है और नहीं दबता है तो नुकसान होता है।
  • हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लेह तक रेलवे लाइन पहुंचाने की बात की है ताकि हमारा डिफेंस मजबूत हो सके। कांग्रेस की पिछली सरकार ने रेलवे लाइन के लिए जमीन उपलब्ध नहीं कराई, लेकिन अब हमारी सरकार में जमीन मिलने के बाद पटरी बिछाने का काम शुरू हो गया है।
  • नरेन्द्र मोदी सरकार में अटल टनल का निर्माण हुआ है। ऊना में लगभग 2000 करोड़ रुपये की लागत से बल्क ड्रग पार्क बन रहा है। नालागढ़ में मेडिकल डिवाइस पार्क का निर्माण हो रहा है। जल जीवन मिशन के तहत 90 प्रतिशत से अधिक घरों को जोड़ा जा चुका है।
  • बिलासपुर में 1500 करोड़ रुपये की लागत से एम्स का निर्माण हुआ है। आज बिलासपुर सहित पूरे हिमाचल प्रदेश में घरों में नल से जल पहुंचाया जा रहा है। लगभग 1,400 करोड़ रुपये के लागत से किन्नौर सतलुज को पर्यटन स्थल बनाने पर काम हो रहा है।

इंडिया न्यूज, शिमला (Shimla-Himachal Pradesh)

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने बुधवार को हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर में भाजपा के विजय संकल्प अभियान के तहत कई जनसभाओं को संबोधित किया और हिमचल की जनता से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में रिवाज को बदलते हुए हिमाचल प्रदेश में एक बार पुनः पूर्ण बहुमत से डबल इंजन वाली भारतीय जनता पार्टी सरकार बनाने की अपील की।

इस अवसर पर उन्होने कहा कि मैं आप लोगों के आशीर्वाद से ही यहाँ तक पहुंचा हूँ, इसलिए कभी भी आपका दिल दुखा नहीं सकता। आपके प्यार से मैं यहाँ से कई बार चुनाव लड़ा और जीता। मेरे बारे में काफी भ्रम फैलाया गया, लेकिन आपने हर बार ऐसे लोगों को लोकतांत्रिक तरीके से करारा जवाब दिया है। जब मैं राजनीति में आया तो कभी मुझे पारला बोला तो कभी वारला बोला।

मैंने कहा कि न तो मैं वारला हूं और ना ही पारला। इसके बाद लोगों ने बोला यह तो दिल्ली चला जाएगा। मैंने कहा कि मैं दिल्ली नहीं जाउंगा, बल्कि दिल्ली को बिलासपुर लेकर आउंगा। कभी कहा कि यह तो पहाड़ों पर नहीं चढ़ेगा।

मैंने कहा कि मौका दो आपसे ज्यादा तेजी से पहाड़ों पर चलूंगा। हर बार चुनाव के समय भ्रम जाल फैलाया जाता है, कई बार लोग भ्रम जाल में फंस भी जाते हैं लेकिन आप हमेशा मेरे साथ भारतीय जनता पार्टी के साथ खड़े रहे। आपका प्यार हमेशा से मुझे मिलता रहा है और मुझे विश्वास है कि आप मेरे इस भरोसे को और मजबूत करेंगे। पौधा चाहे कितना भी अच्छा क्यों न हो, उसमें भले ही फल कितने भी लगे हों लेकिन यदि मिट्टी अपना हक अदा नहीं करती तो पौधा सूख जाता है। इसलिए, इस चुनाव में मिट्टी को अपना हक अदा करना पड़ेगा। यह चुनाव मेरे लिए नहीं बल्कि हिमाचल प्रदेश के विकास के लिए, प्रदेश के भविष्य के लिए है।

उन्होने कहा कि आजादी के 75 साल गुजर गए, आपने और हमने क्या कभी देखा कि हम लोगों को कोई पूछता भी था! कांग्रेस की सरकारों में बिलासपुर और हिमाचल में प्रधानमंत्री महज राजनीतिक पर्यटन के लिए आया करते थे।

कांग्रेस की सरकारों ने यहां के बारे में न तो सोचा और न ही चिंता की लेकिन हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हमेशा हिमचल प्रदेश की जनता के साथ खड़े रहे।

उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हिमाचल प्रदेश से विशेष लगाव रहा है। इंदिरा गांधी ने 1971 में यहाँ एक पुल का शिलान्यास किया था, वह भी जनता के आंदोलन के बाद। 1993-94 में जब मैं विधायक बना था, तब तक उस पुल एक पाये भी पूरे नहीं बने थे। 1998 में यह पुल बन कर तैयार हुआ, वहां से विकास की यात्रा शुरू हुई। जब हमारे मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल थे, तब मैंने उनसे बिलासपुर में हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज देने की मांग की थी। 2012 में यहां एनटीपीसी, एनएचपीसी और हिमाचल प्रदेश सरकार के बीच हाइड्रो इंजीनिरिंग कॉलेज खोलने के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर हुआ।

इसके बाद हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आई, लेकिन 2012 से 2017 तक इस पर कोई काम नहीं हुआ। तत्कालीन कांग्रेस सरकार के मंत्री वीरप्पा मोइली ने कहा कि हम इसे खोलना चाहते हैं किंतु हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र नहीं चाहते हैं। फिर इसे बिलासपुर से हटा कर नगरोटा ले जाया गया।

उन्होने कहा कि बिलासपुर के फोरलेन की तस्वीर लेने पर ऐसा लगता है, मानो स्विट्जरलैंड की तस्वीर हो। बिलासपुर में 1500 करोड़ रुपये की लागत से एम्स का निर्माण हुआ है। बिलासपुर हॉस्पिटल में ट्रॉमा सेंटर, मातृ और बाल केयर सेंटर बना है। हाल ही में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने 26 करोड़ रुपये की परियोजना का उद्घाटन किया। आज बिलासपुर सहित पूरे हिमाचल प्रदेश में घरों में नल से जल पहुंचाया जा रहा है।

श्रद्धेय वाजपेयी की सरकार में कोल डैम पर काम शुरू हुआ, लेकिन कांग्रेस की सरकार आने के बाद उस पर काम रुक गया। जब नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री बने तो कोल डैम पर काम हुआ। लगभग 1,400 करोड़ रुपये के लागत से किन्नौर सतलुज को पर्यटन स्थल बनाने पर काम हो रहा है। मैं दो दिनों के भीतर 103 करोड़ रुपये की लागत से भवानीपुर की परियोजना को लेकर आया था। ऊना में लगभग 2000 करोड़ रुपये की लागत से बल्क ड्रग पार्क बन रहा है। नालागढ़ में मेडिकल डिवाइस पार्क का निर्माण हो रहा है।

यह हिमाचल को दुनिया के नक्शे पर स्थापित करेगा। आज दुनिया में भारत फार्मा इंडस्ट्री में दूसरे स्थान पर खड़ा है। जल जीवन मिशन के तहत 90 प्रतिशत से अधिक घरों को जोड़ा जा चुका है।

उन्होने कहा की पिछले 5 वर्षों में हमारी सरकार में लगभग 6,000 किमी ग्रामीण सड़कें बनी हैं। हिमाचल प्रदेश को वंदे भारत ट्रेन की सौगात मिली है। कांग्रेस की सरकार में अटल टनल का काम भी बाधित हुआ, जबकि यह परियोजना श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी के कितने करीब थी, हम सब जानते हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आने के बाद अटल टनल पर तेज गति से काम हुआ और पूरा होकर राष्ट्र को समर्पित हुआ। इसमें कोई दो राय नहीं है कि केंद्र में और हिमाचल प्रदेश में जब-जब भारतीय जनता पार्टी की सरकार आई है तो विकास हुआ है लेकिन जब-जब कांग्रेस की सरकार आई तो विकास कार्य बाधित हुआ है। इसलिए रिवाज बदलते हुए फिर से भाजपा को काम दीजिये और विकास कार्यों को रोकने वालों को घर में बिठाइये।

उन्होने कहा कि जब भी केंद्र में कांग्रेस की सरकार रही है तो हिमाचल प्रदेश के हितों का हनन हुआ है। कांग्रेस की सरकार ने तो हिमाचल प्रदेश से विशेष राज्य का दर्जा तक हटा दिया था। इतना ही नहीं, स्पेशल स्टेटस के तहत केंद्रीय योजना में 90ः10 के रेशियो को भी कांग्रेस की सरकार ने बदल कर 60ः40 कर दिया था, वह भी तब जब केंद्र और हिमाचल प्रदेशए दोनों जगह कांग्रेस की सरकार थी।

कांग्रेस की सरकार ने देश में भी अलग.अलग राज्यों के साथ भेदभाव किया। 2014 में जब नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने तो हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की वीरभद्र सरकार थी, उन्होंने कोई डिमांड भी नहीं की, लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पुनः हिमाचल प्रदेश का विशेष राज्य का दर्जा बहाल कर दिया और केन्द्रीय योजनाओं में 90ः10 का फॉर्मूला भी पुनः लागू कर दिया। इससे हिमाचल प्रदेश पर वित्तीय बोझ भी कम हुआ है जिसका सीधा लाभ राज्य के गरीबों और किसानों को मिल रहा है।

उन्होने कहा कि जब केंद्र में श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार थी और हिमाचल प्रदेश में प्रेम कुमार धूमल की सरकार थी, तब श्रद्धेय अटल सरकार ने हिमाचल प्रदेश को 10 वर्षों के लिए इंडस्ट्रियल पैकेज मिला था। यदि केंद्र में हमारी सरकार रहती तो इस इंडस्ट्रियल पैकेज को फिर से एक्सटेंशन दिया जाता, लेकिन कांग्रेस की यूपीए सरकार आने के बाद 8वें वर्ष में ही हिमाचल प्रदेश को मिल रहे इंडस्ट्रियल पैकेज को विदड्रा कर दिया गया। यदि हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज का काम रूक जाता है, कोल डैम का काम रुक जाता है हिमाचल को नुकसान होता है।

हिमाचल विकास में पीछे छूट जाता है, इसलिए हिमाचल प्रदेश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पुनः भारतीय जनता पार्टी सरकार का गठन जरूरी है ताकि विकास कार्यों को गति मिले और हमारा हिमाचल आगे बढ़े। हिमाचल प्रदेश में विकास का कोई काम उठाएंगे तो पीछे कमल का फूल ही मिलेगा।

कांग्रेस पर बरसते हुए नड्डा ने कहा कि आजकल राहुल गाँधी भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं। ये वही राहुल गाँधी हैं जिन्होंने जेएनयू में देशद्रोही नारे लगाने का समर्थन किया था। देश को टुकड़े-टुकड़े करने वालों का समर्थन करने वालों का समर्थन करने वाले राहुल गाँधी आज भारत जोड़ो यात्रा लेकर निकले हैं! ऐसे लोग हिमाचल प्रदेश का कभी भी भला नहीं कर सकते।

एक पार्टी आपके हकों की रक्षा करने आती है और एक पार्टी आपके हकों को नुकसान पहुंचाने आती है। बटन सही दब जाए तो विकास होता है और यदि गलती से भी गलत जगह दब जाय तो घर.घर चिंता होती है। कमल का बटन दबता है तो सर्वत्र विकास होता है और नहीं दबता है तो नुकसान होता है।

वीरभद्र जी कहते थे रेल लाइन रामपुर तक पहुंचाएंगे, लेकिन हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लेह तक रेलवे लाइन पहुंचाने की बात की है ताकि हमारा डिफेंस मजबूत हो सके। कांग्रेस की पिछली सरकार ने रेलवे लाइन के लिए जमीन उपलब्ध नहीं कराई। इसके बाद जयराम ठाकुर मुख्यमंत्री बने। जयराम ने जमीन उपलब्ध करवा दी और उस पर पटरी बिछाने का काम शुरू हो गया है। दो साल के अंदर बिलासपुर तक रेल लाइन पहुंच जाएगी। जमीन का मुआवजा देने का भी काम हो गया है। सही हाथों में सरकार आने पर यह अंतर आता है।

उन्होने कहा कि भारत अब मोबाईल चिप का मेकर बनने जा रहा है। भारत मोबाइल मैन्युफेक्चारिंग में दूसरे स्थान पर पहुँच गया है। पहले भारत रक्षा उपकरण खरीदता था। भारत आज रक्षा हथियार एवं उपकरण का निर्यात कर रहा है। रक्षा क्षेत्र में भारत का निर्यात लगभग 6 गुना बढ़ गया है।

देश में सिंचाई योजना के लिए नरेन्द्र मोदी सरकार ने 93 हजार करोड़ रुपये आवंटित किये हैं। आज कृषि बजट 1.24 लाख करोड़ रुपये हो गया है जबकि वर्ष 2014 में कृषि बजट महज 27 हजार करोड़ रुपये था। पिछले 8 वर्षों में प्रधानमंत्री के अथक पर्यासों के कारण भारत में गरीबों की संख्या में कमी आयी है।

पिछले दो साल से अधिक समय से देश के लगभग 80 करोड़ लोगों को पांच किलो मुफ्त अनाज दिया जा रहा है। ये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हैं जिन्होंने वन रैंक, वन पेंशन योजना को लागू किया। सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक कर आतंकवाद पर करारा प्रहार किया गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विभिन्न योजनाओं में लगभग 25 लाख करोड़ रुपये बिना किसी बिचैलिए के लाभार्थियों के खाते में पहुंचाए हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular