Saturday, October 1, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशपुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में डीजीपी हो बर्खास्त: निगम भंडारी

पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में डीजीपी हो बर्खास्त: निगम भंडारी

पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में डीजीपी हो बर्खास्त: निगम भंडारी

  • आरोप- भाजपा सरकार की मिलीभगत से हिमाचल में पेपर लीक गिरोह सक्रिय

इंडिया न्यूज, Shimla (Himachal Pradesh):

हिमाचल प्रदेश युवा कांग्रेस ने प्रदेश में हुई पुलिस भर्ती (police recruitment) पेपर लीक मामले (paper leak case) को लेकर मंगलवार से हर जिला पुलिस मुख्यालयों के बाहर क्रमिक अनशन (hunger strike) शुरू किया है। इस कड़ी में प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष नेगी निगम भंडारी (Negi Nigam Bhandari) के नेतृत्व में युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता शिमला में पुलिस अधीक्षक कार्यालय के बाहर क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठे हैं।

युवा कांग्रेस के पदाधिकारी तब तक क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठेंगे, जब तक सरकार उनकी मांगों पर गौर नहीं करती। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार की मिलीभगत से पेपर लीक गिरोह सक्रिय है।

युवा कांग्रेस की मांगें

हिमाचल प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष नेगी निगम भंडारी ने कहा कि पेपर लीक मामले में युवा कांग्रेस कार्यकर्ता 5 मुख्य मांगों को लेकर क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठे हैं।

उन्होंने मांग है कि पुलिस पेपर लीक मामले में डीजीपी संजय कुंडू को तुरंत बर्खास्त किया जाए। सरकार द्वारा जो एसआईटी गठित की गई है, उनको फ्री हैंड दिया जाए।

जिस भी एसआईटी अधिकारी के ऊपर उंगली उठ रही है, उनको हटाया जाए। सरकार द्वारा गठित एसआईटी हाईकोर्ट के सीटिंग जज की निगरानी में इनवेस्टिगेशन का कार्य करे।

सरकार इसमें एक समय सीमा तय करे कि कितने समय में इस पेपर लीक मामले का फैसला सुनाया जाएगा।

जिला पुलिस मुख्यालयों में हस्ताक्षर अभियान

भंडारी ने कहा कि क्रमिक भूख हड़ताल के दौरान सभी जिला पुलिस मुख्यालयों में हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया है। इसमें नोन पालीटिकल युवा जो इस पेपर लीक भर्ती मामले में शिकार हुए हैं, उनके अभिभावकों को भी शामिल किया गया है।

उन्होंने कहा कि यह उन परीक्षार्थियों के साथ अन्याय है जिन्होंने परीक्षा के लिए कठोर मेहनत की थी। प्रदेश सरकार व प्रशासन की लापरवाही का खमियाजा युवाओं को भुगतना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि पुलिस में भर्ती होने के लिए 74 हजार से अधिक युवाओं ने परीक्षा दी थी। जिन अभ्यर्थियों ने अपनी मेहनत से परीक्षा पास कर ली थी, उनकी इसमें क्या गलती थी।

अभ्यर्थियों की मेहनत पर सरकार ने पानी फेरा

नेगी ने कहा कि जिन्होंने यह परीक्षा पास की थी, उनकी मेहनत व आशाओं पर सरकार ने पानी फेर दिया है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री, मंत्री व पुलिस डीजीपी नाटी डाल कर नाचने में मस्त हैं और उनको नौजवान युवाओं के साथ हो रहे बार-बार अन्याय व भविष्य की कोई चिंता नहीं है।

इस मौके पर जिला युवा कांग्रेस शिमला ग्रामीण के अध्यक्ष रविंद्र ठाकुर टीनू, शहरी अध्यक्ष अंकुश कुमार गोनू, महेश सिंह ठाकुर, राहुल नेगी आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें : नेरवा में शिरगुल देवता का मंदिर जल कर राख

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular