Monday, November 28, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशजिला निर्वाचन अधिकारी ने जांची निगरानी दलों की कार्य प्रणाली

जिला निर्वाचन अधिकारी ने जांची निगरानी दलों की कार्य प्रणाली

- Advertisement -

जिला निर्वाचन अधिकारी ने जांची निगरानी दलों की कार्य प्रणाली

इंडिया न्यूज, धर्मशाला(Dharamshala-Himachal Pradesh)

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त डॉ0 निपुण जिंदल (District Election Officer Cum Deputy Commissioner Dr. Nipun Jindal) ने विधानसभा चुनाव 2022 (vidhan sabha election-2022) के दौरान कांगड़ा जिले में आदर्श आचार संहिता (code of conduct) की अनुपालना सुनिश्चित बनाने कोे जिला मुख्यालय धर्मशाला पर स्थापित विभिन्न निगरानी दलों की कार्य प्रणाली का गुरुवार को निरीक्षण किया। उन्होंने विभिन्न निगरानी और नियंत्रण कक्षों में जाकर मॉनीटरिंग की संपूर्ण व्यवस्था का जायजा लिया।

एमसीएमसी सैल का किया निरीक्षण, प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया की निगरानी की संपूर्ण व्यवस्था का लिया जायजा

जिला निर्वाचन अधिकारी ने इस क्रम में पेड न्यूज (paid news) की निगरानी के लिए धर्मशाला में जिला लोक संपर्क अधिकारी कार्यालय में स्थापित जिलास्तरीय एमसीएमसी (mcmc) (मीडिया प्रमाणीकरण एवं निगरानी सैल) नियंत्रण कक्ष (control room) का निरीक्षण किया। उन्होंने प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया की निगरानी की संपूर्ण व्यवस्था का जायजा लिया। साथ ही मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म पर चुनावी विज्ञापनों के प्रसारण और प्रकाशन को लेकर एमसीएमसी से पूर्व प्रमाणीकरण (प्री सर्टिफिकेशन) के मैकेनिज्म का ब्यौरा भी लिया।

पूरी मुस्तैदी से करें दायित्व निर्वहन

उन्होंने एमसीएमसी नियंत्रण कक्ष में निगरानी को तैनात अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पूरी मुस्तैदी से अपने दायित्व निर्वहन के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि टीवी, ई पेपर और सोशल मीडिया पर जारी होने वाले राजनैतिक विज्ञापन पूर्व प्रमाणन के दायरे में हैं। उन्हें बिना अनुमति के प्रसारित नहीं किया जा सकता।

इस पर बारीकी से नजर रखें। सोशल मीडिया पर चुनाव को प्रभावित करने वाले, आदर्श आचार संहिता के उल्लघंन, हेट स्पीच, मतदाताओं को लुभाने सम्बन्धी खबरों को तुरंत रिपोर्ट करें। इसके साथ ही कमेटी समाचार पत्रों में प्रकाशित समाचारों का बारीकी से परीक्षण करे ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोई समाचार पेड न्यूज की श्रेणी में तो नहीं है।

एमसीएमसी के ईमेल पते पर भेज सकते हैं विज्ञापनों के पूर्व प्रमाणीकरण के लिए आवेदन पत्र

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि राजनीतिक विज्ञापनों के पूर्व प्रमाणीकरण के लिए उम्मीदवार अथवा उनकी ओर से प्राधिकृत व्यक्ति एमसीएमसी सैल के ईमेल पते एमसीएमसीकांगड़ा 2022 एट दी रेट जीमेल डॉट कॉम पर आवेदन भेज सकते हैं।आवेदक निर्धारित प्रपत्र पर विज्ञापन संबंधी जानकारी, ऑडियो-वीडियो फाइल व स्क्रिप्ट की स्व-हस्ताक्षरित कॉपी भेज कर अनुमति प्राप्त कर सकते हैं। एमसीएमसी से पूर्व प्रमाणीकरण को लेकर किसी प्रकार की जानकारी के लिए डीपीआरओ कार्यालय के दूरभाष नंबर 01892-222319 पर फोन भी संपर्क किया जा सकता है।

वाट्सऐप नंबर 6230953104 पर भी भेज सकते हैं चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि चुनावों में आदर्श आचार संहिता को और प्रभावी तरीके से लागू करने के लिए जिला प्रशासन ने एक वाट्सऐप नंबर 6230953104 जारी किया है। लोग इस पर भी आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत कर सकते हैं। आचार संहिता निगरानी दल द्वारा संचालित इस वाट्सऐप नंबर पर प्राप्त शिकायतों का त्वरित निपटारा तय बनाया जाएगा।

टोल फ्री नंबर 18001808013 भी कर सकते हैं आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत

डॉ. निपुण जिंदल ने बताया कि इसके अलावा उपायुक्त कार्यालय में स्थापित नियंत्रण कक्ष में टोल फ्री नंबर 18001808013 पहले से ही चैबीसों घंटे क्रियाशील है। लोग इस पर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन अथवा चुनाव से जुड़ी अन्य बात व सुझाव को लेकर संपर्क कर सकते हैं।

अब तक मिलीं आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन की 30 शिकायतें, सभी का निपटारा

डीसी ने दिए पूरी सतर्कता और गंभीरता से काम करने के निर्देश

इसके अलावा जिला निर्वाचन अधिकारी ने उपायुक्त कार्यालय में स्थापित, एमसीसी निगरानी सैल और चुनावी व्यय निगरानी सैल का निरीक्षण किया और उनकी कार्यप्रणाली का ब्यौरा लिया। उन्होंने डियूटी में लगे सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को पूरी सतर्कता और गंभीरता से काम करने के निर्देश दिए।

उन्होंने बताया कि जिले भर से अभी तक ईमेल, फोन सहित विभिन्न माध्यमों से आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन से जुड़ी 30 शिकायतें प्राप्त हुई हैं, सभी का निपटारा किया जा चुका है।

इस दौरान अतिरिक्त उपायुक्त गंधर्वा राठौर, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी रोहित राठौर, आईएएस प्रोबेशनर व एमसीएमसी के नोडल अधिकारी ओम कांत ठाकुर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular