Saturday, October 1, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशभारत को लोकतांत्रिक देश बनाने में डा. अंबेडकर का योगदान अमूल्य Dr....

भारत को लोकतांत्रिक देश बनाने में डा. अंबेडकर का योगदान अमूल्य Dr. Ambedkar’s contribution in making India a democratic country is priceless

भारत को लोकतांत्रिक देश बनाने में डा. अंबेडकर का योगदान अमूल्य Dr. Ambedkar’s contribution in making India a democratic country is priceless

  • मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बाबा साहेब तथा कैप्टन विक्रम बत्तरा की प्रतिमाओं का किया अनावरण
  • मुख्यमंत्री ने पालमपुर में 40 करोड़ रुपए के विकास कार्यों के उद्घाटन व शिलान्यास किए

इंडिया न्यूज, शिमला।

Dr. Ambedkar’s contribution in making India a democratic country is priceless : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि आज भारत को यदि दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश के रूप में जाना जाता है तो उसमें संविधान शिल्पकार कहे जाने वाले बाबा साहेब अम्बेडकर के विचारों का बड़ा ही महत्वपूर्ण योगदान रहा है।

बाबा साहेब अंबेडकर सिर्फ एक नाम ही नहीं, बल्कि प्रेरणा का स्रोत भी हैं। उन्होंने कहा कि वह ऐसे महापुरुष हैं जिन्होंने अपना पूरा जीवन देश के लिए समर्पित कर दिया।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर आज पालमपुर में बाबा साहेब अम्बेडकर तथा कैप्टन विक्रम बत्तरा की प्रतिमा का अनावरण करने उपरांत मिनी सचिवालय पालमपुर में जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

इससे पहले मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पालमपुर विधानसभा क्षेत्र में 40 करोड़ रुपए के विकास कार्यों के उद्घाटन तथा शिलान्यास भी किए।

उन्होंने जल जीवन मिशन के तहत 2.04 करोड़ की लागत से पेयजल योजना डाढ के सुधार तथा 2.27 करोड़ की लागत से बहाव सिंचाई योजना घरूहल कुहल के निर्माण का उद्घाटन किया।

इसके अतिरिक्त जल जीवन मिशन के अंतर्गत 2.12 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली पेयजल योजना बड़सर, दियाला व जिया खास के निर्माण कार्य, जल जीवन मिशन के अंतर्गत 4.84 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली पेयजल योजना चच्चियां, गढ़ व बलेहड़ के सुधार कार्य, जल जीवन मिशन के अंतर्गत 4.75 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली पेयजल योजना घुग्गर, आईमा के सुधार कार्य, जल जीवन मिशन के अंतर्गत 2.68 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली पेयजल योजना बंदला, लोहना के सुधार कार्य, जल जीवन मिशन के अंतर्गत 2.85 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली उठाऊ पेयजल योजना हंगलो, दराटी व लाहला के सुधार कार्य, जल जीवन मिशन के अंतर्गत 1.76 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली पेयजल योजना कुसमल, बगोड़ा व बल्ला के सुधार कार्य, जल जीवन मिशन के अंतर्गत 2.05 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली उठाऊ पेयजल योजना सिद्धपुर सरकारी व बिंद्रावन के सुधार कार्य, जल जीवन मिशन के अंतर्गत 2.79 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली उठाऊ पेयजल योजना गदियाड़ा, आसनपट व ब्रह्मथेड़ू के सुधार कार्य, 9.34 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली बहाव सिंचाई योजना बरूहल कुहल की एकमुश्त मरम्मत कार्य तथा 1.94 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली पेयजल योजना चंदपुर, लंघा, कुलानी के सम्वर्द्धन व सुधार कार्य का शिलान्यास किया।

शहीदों और देश के नायकों का सम्मान किया (Dr. Ambedkar’s contribution in making India a democratic country is priceless)

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि शहीदों और देश के नायकों के सम्मान के लिए प्रदेश सरकार ने सदैव तत्परता से कार्य किया है।

उन्होंने कहा कि कैप्टन विक्रम बत्तरा ने देश के लिए सर्वस्व कुर्बान किया है। ऐसे वीर सपूतों की कुर्बानियां याद रखने वाला देश और समाज ही आगे बढ़ता है।

उन्होंने कहा कि सेवा चयन बोर्ड के इलाहाबाद केंद्र जहां पर एनडीए की परीक्षाएं आयोजित होती हैं, उस ब्लाक का नाम देवभूमि के वीर सपूत विक्रम बत्तरा के नाम पर रखा गया है जोकि मातृभूमि के उस सच्चे सपूत के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि है।

सेना में भर्ती होने का सपना संजोने वाले हर युवा के लिए यह प्रेरणा का स्रोत भी है। उन्होंने कहा कि जबलपुर छावनी में एक आवासीय क्षेत्र को भी कैप्टन विक्रम बत्तरा के नाम से जाना जाता है।

उन्होंने कहा कि शहीद सौरव कालिया पार्क के पुनर्निर्माण के लिए सरकार कार्य कर रही है।

चच्चियां में उप-तहसील खोलने की घोषणा (Dr. Ambedkar’s contribution in making India a democratic country is priceless)

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पालमपुर में नया विकास खंड खोलने तथा चच्चियां में उप-तहसील खोलने की घोषणा की।

उन्होंने पालमपुर के टांडा में स्वास्थ्य उप-केंद्र, बनूरी में जल शक्ति विभाग का सब-डिवीजन, राजकीय वरिष्ठ माध्यम पाठशाला कंडी में कामर्स तथा विज्ञान, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला जिया में विज्ञान की कक्षाएं आरंभ करने, ख्याह पट्ट में पशु औषधालय को स्तरोन्नत कर पशु अस्पताल करने की घोषणा की।

डा. अंबेडकर की शिक्षाएं आज भी प्रासंगिक (Dr. Ambedkar’s contribution in making India a democratic country is priceless)

इस अवसर पर राज्यसभा सांसद इंदू गोस्वामी ने कहा कि डा. अंबेडकर की शिक्षाएं आज भी प्रासंगिक हैं। केंद्र सरकार ने वर्ष 2017 में अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर स्वीकृत किया जिसमें सामाजिक, आर्थिक अध्ययन की व्यवस्था की गई है।

उन्होंने कहा कि अंबेडकर से जुड़े स्थानों को पंचतीर्थ के रूप में विकसित किया जा रहा है। वूल फेडरेशन के चेयरमैन त्रिलोक कपूर ने पालमपुर में विकास को गति प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का आभार व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि गत साढ़े 4 वर्षों में पालमपुर में स्वास्थ्य, शिक्षा तथा पेजयल के क्षेत्र में अनेक परियोजनाएं क्रियान्वित की गई हैं।

इस अवसर पर डा. भीमराव अंबेडकर स्वाभिमान एवं सामाजिक न्याय मंच के प्रदेशाध्यक्ष डा. एचआर नूर ने भी विचार व्यक्त किए। इससे पहले मंडलाध्यक्ष अभिमन्यू भट्ट ने मुख्यातिथि का स्वागत किया।

इस अवसर पर पूर्व विधायक प्रवीण शर्मा, पूर्व विधायक दुलो राम, पर्यटन प्रकोष्ठ के संयोजक विनय शर्मा, खेल प्रकोष्ठ के संयोजक आकाशदीप जरियाल, आईटी के संयोजक मनोज रत्न, भाजपा की राज्य कार्य समिति के सदस्य रविंद्र तथा अरविंद, कर्मचारी कल्याण बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष घनश्याम शर्मा, उपायुक्त कांगड़ा डा. निपुण जिंदल, पुलिस अधीक्षक खुशाल शर्मा, जीएस बत्तरा सहित पार्षद मोनिका तथा संतोष अकेला उपस्थित थीं। Dr. Ambedkar’s contribution in making India a democratic country is priceless

Read More : ऐसा डेस्टिनेशन जो रुह को जिंदगी से जोड़ता है Hyatt Centric

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular