Saturday, October 1, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशमेले एवं त्यौहार हमारी समृद्ध संस्कृति के प्रतीक-डाॅ0 राम लाल मारकंडा

मेले एवं त्यौहार हमारी समृद्ध संस्कृति के प्रतीक-डाॅ0 राम लाल मारकंडा

मेले एवं त्यौहार हमारी समृद्ध संस्कृति के प्रतीक-डाॅ0 राम लाल मारकंडा

  • तीन दिवसीय राज्य स्तरीय जनजातीय उत्सव में बतौर मुख्यातिथि की शिरकत
  • विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनियां व स्टाॅलों का किया अवलोकन

इंडिया न्यूज, केलंग (Keylong-Lahul and Spiti)

प्रदेश में मनाए जाने वाले मेले एवं त्यौहार हमारी समृद्ध संस्कृति के प्रतीक हैं। मेलों एवं त्यौहारों के माध्यम से न केवल हमारी संस्कृति का संरक्षण होता है बल्कि हमारे रीति-रिवाजों एवं परम्पराओं को भी जानने व देखने का मौका मिलता है। ये शब्द तकनीकी शिक्षा, जनजातीय विकास, सूचना एवं प्रौद्योगिकी तथा जन शिकायत निवारण मंत्री डाॅ0 राम लाल मारकंडा ने रविवार को लाहौल स्पिति के केलंग में 14 से 16 अगस्त, 2022 तक आयोजित होने वाले तीन दिवसीय राज्य स्तरीय जनजातीय उत्सव के शुभारंभ अवसर पर कहे।

उन्होंने कहा कि मेले के दौरान आयोजित होने वाले विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से पहाड़ी संस्कृति विषेषकर जनजातीय संस्कृति की झलक देखने को मिलती है, जिसका लोग भरपूर आंनद उठाते हैं। उन्होंने कहा कि मेलों के माध्यम से स्थानीय कलाकारों को अपनी प्रतिभा प्रस्तुत करने के लिए मंच तो प्राप्त होता ही है, साथ ही महोत्सव क्षेत्र में पर्यटन गतिविधियों को भी बढ़ावा मिलता है।
उन्होंने कहा कि इस बार का उत्सव कोविड महामारी के कारण दो साल के अन्तराल के बाद मनाया जा रहा है।

डाॅ0 रामलाल मारकंडा ने लिया शोभा यात्रा में भाग

इससे पूर्व डाॅ0 राम लाल मारकंडा ने शोभा यात्रा में भाग लिया। यह शोभा यात्रा दुर्गा माता मंदिर से शुरू होकर पुलिस ग्राॅंउड में समाप्त हुई। इसमें उपायुक्त सुमित खिमटा सहित जिला मुख्यालय के अधिकारी, कर्मचारी, स्थानीय लोग, महिला, युवक मंडल तथा आमन्त्रित कलाकारों के दलों सहित सभी पारम्परिक परिधानों में सुसज्जित होकर शोभा यात्रा में शामिल रहे। पुलिस मैदान में सभी लोगों द्वारा पारम्परिक सामूहिक नृत्य का आयोजन किया गया।

तकनीकी शिक्षा मंत्री ने विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्षिनयों व स्टाॅलों का किया अवलोकन

इसके उपरांत डाॅ0 राम लाल मारकंडा ने विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्षिनयों व स्टाॅलों का अवलोकन किया और उनकी सराहना की।

उन्होंने शोभायात्रा में भाग लेने वाले प्रत्येक महिला मण्डल 10 हजार रुपये जारी करने की भी घोषणा की।
इस अवसर पर मेला कमेटी के अध्यक्ष एवं उपायुक्त लाहौल स्पिति सुमित खिमटा ने मुख्यातिथि का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि जनजातीय उत्सव, केलंग जोकि लाहौल स्पिति की शताब्दियों पुरानी सांस्कृतिक धरोहर का प्रतिबिम्ब है, जिसकी झलक हमें इस उत्सव में देखने को मिलती है। उन्होंने कहा कि आधुनिक युग में मनोरंजन के अनेक विकसित साधनों के होते हुए भी मेले और त्यौहार हमारे मनोरंजन के मुख्य एवं सुलभ साधन हैं। उन्होंने मेले के आयोजन में सहयोग करने के लिए सभी का आभार प्रकट किया।

ये रहे मौजूद

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक मानव वर्मा, एसडीएम प्रिया नागटा, एसी टू डीसी डाॅ0 रोहित शर्मा, टीएसी सदस्य नवांग उपासक, पुष्पा, बीडीसी अध्यक्ष सोनम, मंडलाध्यक्ष संजय यारपा तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारियों सहित विभिन्न महिला मंडलों, युवक मंडलों के प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular