Wednesday, October 5, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशराज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने अमृत काल में स्वदेशी अपनाने का किया...

राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने अमृत काल में स्वदेशी अपनाने का किया आह्वान

राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने अमृत काल में स्वदेशी अपनाने का किया आह्वान

इंडिया न्यूज, Shimla (Himachal Pradesh)

राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर (Governor Rajendra Vishwanath Arlekar) ने कहा कि हर व्यक्ति अमृत काल (Amrit period) का साक्षी बना है। हमें तय करना है कि आने वाले 25 वर्षों में हमें किस दिशा में जाना है और राष्ट्र के विकास में हमारा क्या योगदान हो सकता है।

राज्यपाल रविवार को सोलन जिले के नालागढ़ में आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

अतीत को भी याद करने की आवश्यकता

राज्यपाल ने कहा कि अमृत महोत्सव के दौरान हमें अपने अतीत को भी याद करने की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि अंग्रेजों सहित विदेशी आक्रांताओं ने हमारी संस्कृति, परंपराओं और शिक्षा प्रणाली को नुकसान पहुंचाया और हमारे पूर्वज उस समय आजादी के बारे में शायद सोच भी नहीं सकते थे।

उन्होंने कहा कि देश को आजाद करवाने के लिए बड़ी संख्या में भारतीयों ने अपने प्राणों की आहुति दी और ऐसे में हमें इस आजादी का महत्व समझने की आवश्यकता है।

देश के बंटवारे की पीड़ा का किया जिक्र

राज्यपाल ने देश के बंटवारे की पीड़ा का जिक्र करते हुए कहा कि इतिहास में इस दुखद घटना को याद रखने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमें उन सभी बलिदानियों को याद करना होगा जिनके कारण हम एक स्वतंत्र राष्ट्र में रह रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हर घर तिरंगा कार्यक्रम में शामिल होकर हम अपने महान स्वतंत्रता सेनानियों को याद कर सकते हैं। यह अभियान किसी पार्टी या संगठन का नहीं, बल्कि पूरे देश का है और इसी लिए हम सभी इस अभियान से जुड़े हैं।

उन्होंने लोगों से अमृत काल में स्वदेशी अपनाने का भी आह्वान किया।

सर्वश्रेष्ठ कर्मचारियों व विभूतियों किया पुरस्कृत

राज्यपाल ने कंपनी के सर्वश्रेष्ठ कर्मचारियों और अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली विभूतियों को भी पुरस्कृत किया।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकारी सदस्य इंद्रेश कुमार ने आजादी का अमृत महोत्सव (azadi ka amrit mahotsav) आयोजित करने के लिए माइक्रोटेक कंपनी को बधाई देते हुए कहा कि इस तरह की गतिविधियां दूसरों को भी राष्ट्र के प्रति समर्पण भाव से कार्य करने के लिए प्रेरित करेंगी।

उन्होंने देश की स्वतंत्रता से संबंधित विभिन्न घटनाओं का उल्लेख किया। उन्होंने स्वतंत्रता संग्राम से जुड़े विभिन्न नारों और उस समय उनके महत्व का जिक्र करते हुए कहा कि वर्तमान संदर्भ में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ और हर घर तिरंगा जैसे नारे और अभियान भी राष्ट्रवाद से जुड़े हैं।

राज्यपाल को सम्मानित किया

माइक्रोटेक के अध्यक्ष एवं सीआईआई हिमाचल प्रदेश के अध्यक्ष सुबोध गुप्ता ने इस अवसर पर राज्यपाल को सम्मानित किया।

इस अवसर पर रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर विधायक परमजीत सिंह पम्मी, पूर्व विधायक एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हर घर तिरंगा कार्यक्रम में भाग लिया

यह भी पढ़ें : द ग्रेट इंडिया रन 829 KM का सफर तय कर पहुंची सोनीपत

यह भी पढ़ें : हिमाचल में 15 अगस्त के समारोह पर 4 जवान होंगे पुलिस तमगे से सम्मानित

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular