Saturday, October 1, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशहिमाचल के राज्यपाल ने बल्देयां स्कूल के बच्चों से किया संवाद

हिमाचल के राज्यपाल ने बल्देयां स्कूल के बच्चों से किया संवाद

हिमाचल के राज्यपाल ने बल्देयां स्कूल के बच्चों से किया संवाद

इंडिया न्यूज, Shimla (Himachal Pradesh)

राज्यपाल (Governor) राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर (RAJENDRA VISHWANATH ARLEKAR) ने शुक्रवार को शिमला के निकट मशोबरा विकास खंड के तहत बल्देयां स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला (Baldeyan School) का दौरा किया।

उन्होंने स्कूल की 9वीं कक्षा में जाकर विद्यार्थियों से संवाद किया। राज्यपाल ने प्रदेश में नई पहल की है। वह किसी भी सरकारी स्कूल में जाकर विद्यार्थियों से बातचीत करते हैं और उन्हें पुस्तकें भेंट कर पढ़ने की आदत को विकसित करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

पिछले दिनों उन्होंने सोलन के राजकीय दलीप वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल का दौरा भी किया था और वहां भी 9वीं कक्षा के विद्यार्थियों से संवाद किया था।

राज्यपाल आर्लेकर शुक्रवार प्रात: करीब 11 बजे स्कूल पहुंचे। उन्होंने केवल कक्षा अध्यापक की उपस्थिति में विद्यार्थियों से बातचीत की। उन्होंने बच्चों से सामान्य प्रश्न किए जोकि उनकी पढ़ाई की आदत से जुड़े थे।

41 विद्यार्थियों की कक्षा में 2-3 बच्चों को छोड़कर पाठ्य पुस्तकों के अलावा अन्य पुस्तकें पढ़ने का शौक उनमें न होने पर राज्यपाल ने चिंता जाहिर की।

देश की आजादी और स्वतंत्रता आंदोलन के हमारे नायकों के नाम तो विद्यार्थी जानते थे लेकिन उनकी जीवनी किसी ने नहीं पढ़ी। राज्यपाल ने कहा कि पुस्तकें हमारी दोस्त, चिंतक और मार्गदर्शक होती हैं।

घर पर अच्छी पुस्तकें रहेंगी तो पढ़ने की आदत बनेगी। उन्होंने कहा कि अक्सर अभिभावक कहते हैं कि उनके बच्चे मोबाइल व टेलीविजन देखते हैं लेकिन कितने अभिभावक अपने बच्चों को पढ़ने के लिए अच्छी पुस्तकें लाते हैं।

पुस्तकों का चयन भी अभिभावकों को ही करना है। उन्होंने कहा कि समाज की अधिकांश समस्याएं पढ़ाई की आदत न होने से हैं।

विद्यार्थियों को महापुरुषों की पुस्तकें भेंट की

राज्यपाल ने कक्षा के सभी 41 विद्यार्थियों को महापुरुषों की पुस्तकें भेंट कीं। उन्होंने आश्वासन लिया कि वे इन पुस्तकों को पढ़ेंगे और पढ़ने के बाद अपनी प्रतिक्रिया के रूप में उन्हें 15 दिनों में पत्र लिखेंगे।

उन्होंने कहा कि विद्याथियों को पढ़ने के प्रति प्रोत्साहित करने का यह छोटा प्रयास है जिसे वह भविष्य में भी जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि स्कूल के पुस्तकालय के माध्यम से भी बच्चों को पढ़ने के लिए पुस्तकें दी जानी चाहिएं।

बाद में, राज्यपाल ने स्कूल के स्टाफ से भी बातचीत की। उन्होंने स्कूल परिसर में पौधारोपण भी किया।

यह भी पढ़ें : एचपी सीएम जय राम ठाकुर ने रामपुर विधानसभा क्षेत्र में विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास किए

यह भी पढ़ें : आईफा अवार्ड 2022 में तमिल ओरिजिनल सीरीज सुजल-द वोर्टेक्स के ग्लोबल प्रीमियर की घोषणा

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular