Wednesday, October 5, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशएचपी सीएम जय राम ठाकुर ने रामपुर विधानसभा क्षेत्र में विकासात्मक परियोजनाओं...

एचपी सीएम जय राम ठाकुर ने रामपुर विधानसभा क्षेत्र में विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास किए

एचपी सीएम जय राम ठाकुर ने रामपुर विधानसभा क्षेत्र में विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास किए

इंडिया न्यूज, Shimla (Himachal Pradesh)

मुख्यमंत्री (hp cm) जय राम ठाकुर (jai ram thakur) ने आज शिमला जिले के रामपुर विधानसभा क्षेत्र (Rampur Assembly Constituency) के रामपुर में 124 करोड़ रुपए की 30 विकासात्मक योजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए।

गोविंद बल्लभ पंत राजकीय डिग्री कालेज रामपुर मैदान (Govind Ballabh Pant Government Degree College Rampur Maidan) में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने शिंगला में संस्कृत महाविद्यालय, नीरथ में हिमाचल प्रदेश राज्य विद्युत बोर्ड का उपमंडल, खोलीघाट में पुलिस पोस्ट, ज्यूरी और थली चकती में उप-तहसील, सराहन में बस स्टैंड और ज्यूरी में फायर पोस्ट खोलने की घोषणा की।

उन्होंने सीआरएफ के अंतर्गत 108 करोड़ की लागत से बन रही टिक्कर खमांडी सड़क के रखरखाव के लिए 10 करोड़ रुपए देने की भी घोषणा की।

उन्होंने बरांदली खड्ड-सुनगरी सड़क का निर्माण और रखरखाव प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना-ााा के अंतर्गत करने की भी घोषणा की।

उन्होंने क्षेत्र के 3 पशु औषधालयों को पशु अस्पताल में स्तरोन्नत करने, 1 प्राथमिक पाठशाला को माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने व प्राथमिक पाठशाला रामपुर को माडल स्कूल करने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि जाखड़ी से कहरकहान गौरा सड़क के मैटलिंग कार्य पर नाबार्ड के अंतर्गत 5.85 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

रामपुर क्षेत्र सराज क्षेत्र के समान

जय राम ठाकुर ने कहा कि रामपुर क्षेत्र उनके अपने सराज क्षेत्र के समान है और सरकार द्वारा विकास के मामले में इसे प्राथमिकता प्रदान की जा रही है।

उन्होंने रामपुर विधानसभा क्षेत्र के लोगों से भाजपा को एक बार प्रतिनिधित्व का अवसर प्रदान करने का आग्रह किया ताकि वे विकास में अंतर को महसूस कर सकें।

उन्होंने कहा कि यह हैरानी की बात है कि कांग्रेस द्वारा प्रतिनिधित्व करने के बावजूद क्षेत्र की कई पंचायतें और गांव सड़क सुविधा से वंचित हैं।

उन्होंने कहा कि यद्यपि यह क्षेत्र प्रदेश के सबसे बड़े नेता से जुड़ा हुआ है परंतु इस क्षेत्र में बुनियादी सुविधाओं की कमी है।

उन्होंने कहा कि लोगों को इस बात पर विचार करना चाहिए कि वे कब तक स्वयं को एक परिवार से जोड़कर रखेंगे और विकास के मामले में पिछड़े रहेंगे।

महामारी के दौरान प्रधानमंत्री ने राष्ट्र को सुरक्षित रखा

जय राम ठाकुर ने कहा कि सदी की सबसे बड़ी महामारी के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को सुरक्षित रखा और लोगों का भी सफलतापूर्वक मार्गदर्शन किया।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने संकट की इस घड़ी में प्रदेशवासियों की सुरक्षा सुनिश्चित की। इस महामारी के प्रबंधन में प्रदेश सरकार द्वारा उठाए गए कदमों और कोविड की पहली और दूसरी खुराक का शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करने में पहला स्थान प्राप्त करने पर प्रधानमंत्री द्वारा प्रदेश की सराहना की गई है।

उन्होंने कहा कि हाल ही में प्रधानमंत्री ने प्रदेश के दौरे के दौरान शिमला से राष्ट्र स्तरीय कार्यक्रम को संबोधित किया और वर्चुअल माध्यम से देश के 17 लाख से अधिक लोग इस कार्यक्रम के साक्षी बने।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री लोगों के साथ सीधा संपर्क स्थापित करने से स्वयं को रोक नहीं पाए और उन्होंने माल रोड पर पदयात्रा भी की। यह प्रदेश के लोगों के प्रति उनके अपार स्नेह को दर्शाता है।

दूसरी ओर, कांग्रेस के प्रधानमंत्री केवल शिमला के वातावरण का आनंद लेने के लिए ही प्रदेश की यात्रा करते थे।

सहायक सिद्ध हो रही सरकारी योजनाएं

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री हिमकेयर, सहारा योजना, मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना, मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना, शगुन जैसी योजनाएं प्रदेश के जरूरतमंद परिवारों की आवश्यकताओं की पूर्ति में सहायक सिद्ध हो रही हैं।

उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन में उल्लेखनीय वृद्धि की है और बिना आय सीमा के वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त करने की आयु सीमा को पहले 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष और अब 60 वर्ष कर दिया गया है।

चालू वित्त वर्ष के दौरान जरूरतमंद लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान करने पर 1,300 करोड़ की राशि व्यय की जा रही है। इसके बावजूद कांग्रेस के नेता प्रदेश सरकार पर कमजोर वर्गों की अनदेखी के आधारहीन आरोप लगा रहे हैं।

महिला सशक्तिकरण पर विशेष बल

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण और उनके उत्थान पर विशेष बल दे रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने इस वर्ष के जुलाई से हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट प्रदान करने और घरेलू विद्युत उपभोक्ताओं को प्रतिमाह 125 यूनिट मुफ्त बिजली प्रदान करने का निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में मुफ्त पेयजल उपलब्ध करवाने का भी निर्णय लिया है। प्रदेश सरकार ने विभिन्न पैरा कार्यकर्ताओं के मानदेय में भी रिकार्ड वृद्धि की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता प्रदेश में हो रहे विकास को पचा नहीं पा रहे हैं।

स्वयं सहायता समूहों के लिए रिवाल्विंग फंड

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने राज्य के स्वयं सहायता समूहों के लिए 25 हजार रुपए के रिवाल्विंग फंड का प्रावधान किया है। उन्होंने विकास के मुद्दों पर इस ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं की सक्रियता के लिए उनकी सराहना की।

मुख्यमंत्री ने इनका किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री ने 13.45 करोड़ रुपए से निर्मित कुरपान खड्ड से ननखड़ी उठाऊ जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत दतनगर में ट्यूबवेल से गांव भदरास तक 1.64 करोड़ रुपए की उठाऊ जलापूर्ति योजना, ग्राम पंचायत खरांगला की विभिन्न बस्तियों के लिए 1.67 करोड़ रुपए की बहाव जलापूर्ति योजना, 3.17 करोड़ रुपए से निर्मित ननान से धरेली सड़क, 5.92 करोड़ रुपए से निर्मित रूगेंहा से धरला सड़क, 8.69 करोड़ रुपए से निर्मित समेज से सरपरा सड़क, 4.30 करोड़ रुपए से निर्मित कोटला से कुन्नी सड़क, 1.33 करोड़ रुपए से निर्मित लस्सा से भलीधार सड़क, 1.97 करोड़ रुपए से निर्मित लस्सा से लमनाह खनेशनी सड़क, ननखड़ी में 31 लाख रुपए से निर्मित निरीक्षण कुटीर आदर्श नगर, बाहली के नरेन में 49 लाख रुपए से निर्मित वन विश्राम गृह और दियोठी में 1.10 करोड़ रुपए से निर्मित विश्राम गृह का लोकार्पण किया।

सीएम ने इनका किया शिलान्यास

मुख्यमंत्री ने 1.78 करोड़ की लागत से जल शक्ति उपमंडल रामपुर के तहत विभिन्न पेयजल आपूर्ति योजनाओं के स्रोतों के सुदृढ़ीकरण और ग्राम पंचायत भड़ावली, शिंगला और सरपारा की विभिन्न बस्तियों के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना/बहाव पेयजल आपूर्ति योजना, 1.65 करोड़ की लागत से जल शक्ति उपमंडल सराहन के तहत विभिन्न जलापूर्ति योजनाओं के स्रोत के सुदृढ़ीकरण और जल शक्ति उपमंडल सराहन के तहत विभिन्न गांव के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना/बहाव पेयजल आपूर्ति योजना, 1.98 करोड़ की लागत से जल शक्ति उपमंडल तकलेच के तहत विभिन्न जलापूर्ति योजनाओं के स्रोतों के सुदृढ़ीकरण, 1.85 करोड़ की लागत से जल शक्ति उपमंडल ननखड़ी के तहत विभिन्न जलापूर्ति योजनाओं के सुदृढ़ीकरण, 11.81 करोड़ की लागत से ग्राम पंचायत देलथ और करांगला में छबेड़ खड्ड से देलथ करांगला बागवानी क्षेत्र के लिए उठाऊ सिंचाई योजना, 2.63 करोड़ की लागत से ग्राम पंचायत किन्नू में विभिन्न गांवों के लिए बहाव जलापूर्ति योजना, 7.59 करोड़ की लागत से तहसील रामपुर की ग्राम पंचायत लम्बाना संधाना और फांचा के विभिन्न गांवों को उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, 4.83 करोड़ की लागत से ग्राम पंचायत बड़ावली में बड़ावली समूह गांव के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, 4.84 करोड़ की लागत से ग्राम पंचायत शिंगला के गांवों के लिए उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, 2.79 करोड़ की लागत से ग्राम पंचायत सरपारा में डीपीएफ दिलपा, डीपीएफ बस्तियां सुरुगढ़, डगशिणी की आंशिक रूप से कवर बस्तियों के लिए बहाव जलापूर्ति योजना, 15.10 करोड़ की लागत से जल शक्ति उपमंडल रामपुर के तहत विभिन्न बस्तियों के लिए बहाव जलापूर्ति योजना, 14.81 करोड़ की लागत से ग्राम पंचायत बाहली में जलाूपर्ति योजना बाहली, 3.96 करोड़ की लागत से ग्राम पंचायत देवनगर में जलापूर्ति योजना सोबली देवनगर, 1.22 करोड़ की लागत से सराहन में सहायक अभियंता कार्यालय एवं आवास, 42 लाख की लागत से नगर परिषद रामपुर के वार्ड नम्बर 4 में परिधि गृह से गौसदन तक संपर्क मार्ग, 83 लाख की लागत से वार्ड नम्बर 3 रामपुर में स्वपोषित योजना के तहत परिषद की दुकानें, 89 लाख की लागत से करांगला से कुंथ तक संपर्क मार्ग और 53 लाख की लागत से बाडी से धौण तक संपर्क मार्ग का शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत

स्थानीय लोगों ने शिंगला हेलीपैड से लेकर जनसभा स्थल रामपुर कालेज मैदान तक मुख्यमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया। इस अवसर पर अनेक सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक संगठनों ने मुख्यमंत्री को सम्मानित भी किया।

आम आदमी की आवश्यकताओं को समझते हैं सीएम: सुरेश भारद्वाज

शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि मुख्यमंत्री स्वयं साधारण परिवेश से होने के कारण आम आदमी की विकासात्मक आवश्यकताओं को बेहतर ढंग से समझते हैं।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा गत साढ़े 4 वर्षों के दौरान शुरू की गई अनेक कल्याणकारी योजनाएं क्षेत्र की विकासात्मक मांगों के प्रति उनकी चिंता को दर्शाती हैं।

मांगों को प्राथमिकता देने पर मुख्यमंत्री का धन्यवाद

हिमकोफेड के अध्यक्ष कौल नेगी ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए क्षेत्र की विकासात्मक मांगों को हमेशा ही प्राथमिकता देने के लिए उनका आभार व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का वर्तमान कार्यकाल रामपुर विधानसभा क्षेत्र के लोगों के लिए वरदान साबित हुआ है और इस दौरान क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है।

उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों पर क्षेत्र के लोगों को पूर्ण विश्वास है और वे विधानसभा चुनावों में भाजपा को पूर्ण समर्थन देंगे।

भीम सेन ने विकासात्मक मांगें मुख्यमंत्री के समक्ष रखीं

इस अवसर पर भाजपा मंडलाध्यक्ष भीम सेन ठाकुर ने मुख्यमंत्री व अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए क्षेत्र की विकासात्मक मांगें मुख्यमंत्री के समक्ष रखीं।

उन्होंने गरीब वर्ग के लोगों के उत्थान और कल्याण के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं शुरू करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार भी व्यक्त किया।

इस अवसर पर चौपाल के विधायक बलबीर वर्मा, आनी के विधायक किशोरी लाल सागर, हस्तशिल्प एवं हथकरघा निगम के अध्यक्ष संजीव कटवाल, राज्य वन निगम के उपाध्यक्ष सूरत नेगी, पूर्व मंत्री सिंघी राम, महासू संगठन जिला भाजपा अध्यक्ष अजय श्याम, भाजपा नेता बृजलाल, केवल राम बुशैहरी, उपायुक्त आदित्य नेगी, पुलिस अधीक्षक डा. मोनिका सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें : आईफा अवार्ड 2022 में तमिल ओरिजिनल सीरीज सुजल-द वोर्टेक्स के ग्लोबल प्रीमियर की घोषणा

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular