Monday, November 28, 2022
Homeहिमाचल प्रदेश3 Books Released हिमाचल राज्यपाल ने शीतोष्ण फलों की बागवानी पर आधारित...

3 Books Released हिमाचल राज्यपाल ने शीतोष्ण फलों की बागवानी पर आधारित 3 पुस्तकों का किया विमोचन

- Advertisement -

3 Books Released हिमाचल राज्यपाल ने शीतोष्ण फलों की बागवानी पर आधारित 3 पुस्तकों का किया विमोचन

इंडिया न्यूज, शिमला :

3 Books Released : राज्पाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने रविवार को राजभवन में फल विज्ञान विभाग, औद्योगिकी एवं वानिकी महाविद्यालय नेरी, हमीरपुर द्वारा राष्ट्रीय कृषि विकास परियोजना के तहत शीतोष्ण फलों की बागवानी एवं कृषि से संबंधित नवीनतम तकनीकी जानकारी पर आधारित 3 पुस्तकों का विमोचन किया।

इस अवसर पर राज्यपाल ने कहा कि यह पुस्तकें प्रदेश एवं देश के अन्य भागों में इन फलों की खेती करने वाले किसानों तथा बागवानी विषय में शिक्षा प्राप्त कर रहे विद्यार्थियों के लिए सुलभ व्यवहारिक ज्ञान से परिपूर्ण हैं।

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश की जलवायु विभिन्न प्रकार के फलदार पौधों की खेती के लिए उपयुक्त है। यहां पर उपोष्ण जलवायु से लेकर विशेष शीतोष्ण जलवायु पाया जाता है, जोकि बागवानी के व्यापक आधार को दर्शाता है।

राज्यपाल ने कहा कि बागवानी को यहां पर एक मुख्य व्यवसाय के रूप में अपनाया जा रहा है जोकि कृषि क्षेत्र में खाद्य सुरक्षा और संतुलित पोषण के लिए महत्वपूर्ण है।

हिमाचल प्रदेश के निचले पर्वतीय क्षेत्रों में सरकार द्वारा किए जा रहे बागबानी क्षेत्र के प्रसार में अमरूद एवं लीची पर आधारित यह दोनों पुस्तकें निश्चित तौर पर किसान बागवानों के लिए मार्गदर्शन का कार्य करेंगी।

उन्होंने कहा कि पुस्तकों में दी गई जानकारी से इन फसलों की उत्पादन एवं उत्पादकता तथा किसानों की शुद्ध आय की बढ़ौतरी में सहायक होंगी।

पहली पुस्तक पर्वतीय क्षेत्रों में अमरूद की खेती जिसके लेखक डा. सोम देव शर्मा, डा. विकास कुमार शर्मा, डा. केके श्रीवास्तव एवं डा. शैलेंद्र कुमार यादव हैं।

इस पुस्तक में हिमाचल प्रदेश के शीतोष्ण क्षेत्रों में अमरूद की खेती की आधुनिक नवीनतम तकनीकी पर विस्तृत जानकारी दी गई है।

दूसरी पुस्तक पर्वतीय क्षेत्रों में लीची की खेती शीर्षक से प्रकाशित की गई है जिसका लेखन डा. सोम देव शर्मा एवं डा. विकास कुमार शर्मा द्वारा किया गया है।

एक अन्य पुस्तक कृषि में आत्मनिर्भरता-ग्राम स्वावलंबन एवं सतत विकास शीर्षक से प्रकाशित है जिसके लेखक डा. सोम देव शर्मा, डा. विकास कुमार शर्मा एवं डा. आशुतोष हैं।

यह पुस्तक मुख्य रूप से पर्वतीय क्षेत्रों की भौगोलिक संरचना पारिस्थितिकी, जलवायु तथा प्राकृतिक संसाधनों के दृष्टिगत उपयुक्त कृषि एवं कृषि से संबंधित विविध आयामों की तर्कसंगत और पर्यावरण सम्मत समन्वित खेती के चिंतन को इंगित करती है।

भारतीय किसान संघ के प्रदेश संगठन मंत्री हरि राम भी उपस्थित थे। 3 Books Released

Read More : Municipal Corporation Shimla Elections माकपा ने बनाई नगर निगम शिमला के चुनाव की रणनीति

Read More : Mobile Dental Van हिमाचल सीएम ने मोबाइल डेंटल वैन को दिखाई हरी झंडी

Read More : Book Released एचपी सीएम ने आशाओं भरा सफर पुस्तक का किया विमोचन

Read More : Student Parent Forum शिक्षा विभाग के दिशा-निर्देशानुसार तुरंत हों अभिभावकों की आम सभाएं

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular