Monday, September 26, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशसराज विधानसभा क्षेत्र के 17 स्तरोन्नत विद्यालयों का शुभारम्भ

सराज विधानसभा क्षेत्र के 17 स्तरोन्नत विद्यालयों का शुभारम्भ

सराज विधानसभा क्षेत्र के 17 स्तरोन्नत विद्यालयों का शुभारम्भ

इंडिया न्यूज, शिमला।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (Chief Minister Jai Ram Thakur) ने आज शिमला से वर्चुअल माध्यम (virtual medium) से मंडी जिले के सराज विधानसभा क्षेत्र (Saraj Assembly Constituency) में स्तरोन्नत किए गए 17 विद्यालयों का शुभारम्भ किया।

इनमें राजकीय प्राथमिक पाठशाला से राजकीय माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत किए गए विद्यालय सुरांगी, काऊ, कांढी, कोठडा और मझाण शामिल हैं, जबकि राजकीय माध्यमिक पाठशाला से राजकीय उच्च पाठशाला में स्तरोन्नत किए गए स्कूलों में झौट, शालागाड, बाहवा, रैंनगलू, कल्हणी और नारायणबन तथा राजकीय उच्च पाठशाला से राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत किए गए स्कूलों में धरोटधार, माणी, सेरी-बटवाड़ा, बागी-भनवास, सुधराणी, लांबसाफड और चपलांदीधार शामिल हैं।

मुख्यमंत्री ने सभी स्तरोन्नत विद्यालयों में आयोजित कार्यक्रमों को सम्बोधित करते हुए क्षेत्रवासियों को बधाई देते हुए कहा कि इससे विद्यार्थियों की पाठशाला आने-जाने की समस्या के समाधान के साथ-साथ उन्हें सुविधा भी प्राप्त होगी। उन्होंने कहा कि सभी स्तरोन्नत विद्यालयों में आवश्यकता अनुसार अतिरिक्त भवनों का निर्माण किया जाएगा।

शिक्षा क्षेत्र को किया जा रहा सुदृढ़

जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के हर क्षेत्र का समान एवं सर्वांगीण विकास सुनिश्चित किया गया है। प्रदेश सरकार द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में आधारभूत ढांचे को सुदृढ़ करने के सशक्त प्रयास किए जा रहे हैं।

विद्यालयों के नवनिर्मित भवनों में कई नवोन्मेष पहल की गई है। वित्त वर्ष 2022-23 के बजट में 50 राजकीय महाविद्यालयों, 50 विद्यालयों और 20 औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में सौर ऊर्जा पैनल सिस्टम (solar power panel system) स्थापित किए जाने का प्रावधान किया गया है।

वन विभाग तथा आयुष विभाग के सहयोग से वर्ष 2022-23 में 200 राजकीय विद्यालयों तथा 50 राजकीय महाविद्यालयों में आयुष वाटिकाओं की स्थापना की जाएगी जिनमें दुर्लभ औषधीय पौधों तथा जड़ी-बूटियों का रोपण किया जाएगा।

हिमाचल ने शिक्षा के क्षेत्र में प्रगति की

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश ने शिक्षा के क्षेत्र में बहुत प्रगति की है। प्रदेश सरकार आर्थिक रूप से कमजोर मेधावी विद्यार्थियों (financially weak meritorious studentsfinancially weak meritorious students) को 12वीं तथा स्नातक के उपरांत मेडिकल, इंजीनियरिंग और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रशिक्षण के लिए वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है।

10वीं कक्षा में सर्वाधिक अंक प्राप्त कर 11वीं कक्षा में पढ़ रहे 100 मेधावी विद्यार्थियों को व्यवसायिक या तकनीकी कोर्स (professional or technical course) में प्रशिक्षण के लिए 1 लाख की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जा रही है।

कार्यक्रम में यह रहे शामिल

मुख्यमंत्री के साथ कार्यक्रम में शिमला से मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुभासीष पंडा (Subhasish Panda, Principal Secretary to Chief Minister) तथा मुख्यमंत्री के सलाहकार डा. आरएन बत्ता, निदेशक उच्च शिक्षा डा. अमरजीत शर्मा उपस्थित थे, जबकि सराज से वर्चुअल माध्यम से जिला परिषद सदस्य द्रोपदी देवी, पंचायत समिति अध्यक्ष शेर सिंह व देवेंद्र रावत, मंडल अध्यक्ष भागीरथ शर्मा, महामंत्री भीष्म ठाकुर व टिक्कम राम, भाजपा नेता गुलजारी लाल, उपायुक्त अरिंदम चौधरी, संगठन के पदाधिकारी और वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए। सराज विधानसभा क्षेत्र के 17 स्तरोन्नत विद्यालयों का शुभारम्भ

Read More : अप्रैल में 497 करोड़ रुपए जीएसटी एकत्र

Read More : विकासात्मक योजनाओं पर आधारित वीडियो एल्बम जारी

Read More : अधिकारी काबिलियत से समाज कल्याण और विकास को दें नई दिशा: महेंद्र ठाकुर

Read More : हिमाचल में जन मंच में निपटाई समस्याएं

Read More : रंधाड़ा में सजे जन मंच में शिक्षा मंत्री ने निपटाई समस्याएं

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular