Monday, September 26, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशबिजली बोर्ड को इकाई खराब होने से 15 मेगावाट का नुकसान

बिजली बोर्ड को इकाई खराब होने से 15 मेगावाट का नुकसान

बस्सी विद्युत परियोजना के औचक निरीक्षण पर पहुंचे एमडी क्योंकि बिजली बोर्ड को एक इकाई बंद मिली है। यहां कुल चार इकाइयां हैं जिनमे से 60 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है।

इंडिया न्यूज़, शिमला

बस्सी विद्युत परियोजना के औचक निरीक्षण पर पहुंचे एमडी क्योंकि बिजली बोर्ड को एक इकाई बंद मिली है। यहां कुल चार इकाइयां हैं जिनमे से 60 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है। ये सभी इकाईयां 15-15 मेगावाट बिजली उत्त्पन करती हैं, लेकिन पिछले कुछ दिनों से इनमे से एक इकाई बंद पड़ी है। इस इकाई के बंद होने से बिजली बोर्ड को15 मेगावाट का नुकसान हो रहा है।

बिजली बोर्ड को इकाई खराब होने से 15 मेगावाट का नुकसान

इकाई की मशीनरी को रिपेयर कराने की लिए भेजा

बिजली बोर्ड कर्मियों ने इकाई बंद होने के कारणों की जांच की है। इसके बाद इकाई की मशीनरी को रिपेयर कराने की लिए भेजा गया है। एक हफ्ते में इसकी मशीनरी ठीक होकर आ जाएगी। परियोजना में फिलहाल 45 मेगावाट बिजली का ही उत्पादन हो रहा है। इस इकाई के बंद होने से बोर्ड को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

अगले हफ्ते से 60 मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा

बस्सी परियोजना का निर्माण 1981 में पूरा हुआ था और यहाँ चार इकाइयां स्थापित की गयी थी। इनमें से सभी इकाइयां 15 मेगावाट की बिजली का उत्पादन करती रहीं हैं, लेकिन अब थोड़ी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। बिजली बोर्ड के प्रबंध निदेशक पंकज डढवाल ने बस्सी पावर हाउस का निरीक्षण कर इकाई बंद होने के बारे में बताया है। लकिन इकाई को ठीक करने की पूरी तैयारियां कर दी हैं। अगले हफ्ते से सभी इकाइयां शुरू कर 60 मेगावाट बिजली का उत्पादन शुरू हो जाएगा।

ये भी पढ़े: स्कूल के बच्चों की जीप लुढ़कने से दस बच्चे घायल

ये भी पढ़ें: स्कूल के बच्चों को मई माह तक मिलेंगे मोदी और जय राम की फोटो वाले बैग

ये भी पढ़ें: हिमफेड के पेट्रोल पंप पर सरकारी राशि के गबन होने का मामला दर्ज जांच शुरू

Connect With Us : Twitter | Facebook

Sachin
Sachin
Learner , Hardworking , Aquarius hu toh samajh lo kya kya hounga .....
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular