Thursday, December 8, 2022
Homeहिमाचल प्रदेशRespect to Shriya हिमाचल की बेटी श्रिया लोहिया को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल...

Respect to Shriya हिमाचल की बेटी श्रिया लोहिया को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार

- Advertisement -

Respect to Shriya हिमाचल की बेटी श्रिया लोहिया को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार

  • 13 वर्षीय श्रिया को खेल श्रेणी में मिला पुरस्कार, मोटर स्पोर्ट्स खिलाड़ी हैं श्रिया
  • देश-विदेश में हुई कई कार्ट रेसिंग प्रतियोगिताओं में मनवाया है हुनर का लोहा
  • मंडी जिले की सुंदरनगर तहसील के महादेव गांव की रहने वाली हैं श्रिया

इंडिया न्यूज, मंडी :

Respect to Shriya : हिमाचल की बेटी श्रिया लोहिया (13) प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार-2022 से नवाजी गई हैं। श्रिया को खेल श्रेणी में यह पुरस्कार मिला है।

वे मोटर स्पोर्ट्स खिलाड़ी हैं और कार्ट रेसिंग प्रतियोगिताओं में छोटी सी उम्र में ही उन्होंने देश-विदेश में अपने हुनर का लोहा मनवाया है। श्रिया मंडी जिले की सुंदरनगर तहसील के महादेव गांव की रहने वाली हैं।

सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से ब्लाकचेन तकनीक का उपयोग करते हुए साल 2022 और 2021 के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार (PMRBP) विजेताओं से बातचीत की और उन्हें डिजिटल प्रमाण-पत्र प्रदान किए।

प्रत्येक पुरस्कार विजेता को 1-1 लाख का नकद पुरस्कार और डिजिटल प्रमाण-पत्र प्रदान किए गए। नकद पुरस्कार की राशि पुरस्कार विजेताओं के सीधे खाते में अंतरित की गई।

जिला प्रशासन मंडी ने वर्चुअल माध्यम से आयोजित इस कार्यक्रम के लिए उपायुक्त मंडी कार्यालय के वीडियो कांफ्रेंस कक्ष में व्यवस्था की थी।

कार्यक्रम में श्रिया ने अपने पिता रितेश लोहिया और माता वंदना लोहिया के साथ भाग लिया। इस दौरान उपायुक्त अरिंदम चौधरी ने जिला प्रशासन की ओर से श्रिया को सम्मानित किया। इस मौके पर जिला बाल विकास परियोजना अधिकारी अंजू बाला भी उपस्थित रहीं।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से नवाजे जाने पर श्रिया को बधाई दी। मुख्यमंत्री ने मोटर स्पोर्ट्स क्षेत्र में श्रिया की असाधारण उपलब्धियों की प्रशंसा करते हुए उन्हें अन्यों के लिए प्रेरणादायी बताया।

इन 6 श्रेणियों में पुरस्कार (Respect to Shriya)

भारत सरकार नवाचार, सामाजिक सेवा, शैक्षिक योग्यता, खेल, कला एवं संस्कृति और बहादुरी जैसी 6 श्रेणियों में बच्चों को उनकी असाधारण उपलब्धि के लिए पीएमआरबीपी पुरस्कार प्रदान करती है। Respect to Shriya

Read More : Death of Elephant पांवटा के बहराल के कौंचवाली में मृत मिला हाथी

Read More : Check the Quality of Alcohol with the App उपभोक्ता भी कर सकेंगे शराब की गुणवत्ता की जांच

Read More : Relationship Shame : 6 साल की बच्ची से मामा ने किया दुष्कर्म

Read More : Corona हिमाचल में 11 और मरीजों की मौत

Read More : Unique Wedding जब जेसीबी लेकर दुल्हन लेने पहुंचा दूल्हा

Connect with us : Twitter | Facebook | Youtube

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular