Thursday, December 8, 2022
HomeKangra90 प्रतिशत गौवंश को मिलेगा आश्रय - विरेंद्र कंवर

90 प्रतिशत गौवंश को मिलेगा आश्रय – विरेंद्र कंवर

- Advertisement -

90 प्रतिशत गौवंश को मिलेगा आश्रय – विरेंद्र कंवर

  • प्रदेश में गरीबों के लिये समर्पित सरकार
  • वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 22 हजार से अधिक गोवंश को गौ सदनों में पहुंचाया गया

इंडिया न्यूज, पालमपुर (Palampur-Himachal Pradesh)

दिसंबर माह तक प्रदेश की सड़कों में घूम रहे लावारिश 90 प्रतिशत गौवंश को आश्रय उपलब्ध हो जाएगा। ये शब्द ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि, पशुपालन एवं मत्स्य पालन मंत्री वीरेंद्र कुमार मंगलवार को जयसिंहपुर विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत संघोल के बाड़ू का बन खालटा में मां कामाख्या गौ नर-नारायण समिति द्वारा निर्मित कामाख्या मंदिर के गुंबद निर्माण कार्य के पूजन अवसर के उपरांत लोगों को संबोधित करते हुए कहे।

उन्होंने कहा कि यह सौभाग्य की बात है की माता कामाख्या मंदिर के दूसरे चरण के निर्माण कार्य आरंभ होने के अवसर पर उन्हें माता का आशीर्वाद का सुअवसर प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के प्रत्येक नागरिक पर माता का आशीर्वाद बना रहे और सबका जीवन सुखमय हो।

प्रदेश में गरीब वर्ग के लिये समर्पित सरकार कार्यशील है-वीरेंद्र कवंर

उन्होने कहा कि प्रदेश में गरीब वर्ग के लिये समर्पित सरकार कार्यशील है जो गांव, गरीब, किसान कल्याण का दायित्व निभा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार बनने पर पहला निर्णय गौवंश के संरक्षण और उसके संवर्धन के लिए लिया गया। जिसमें सड़कों पर बेसहारा गौवंश को आश्रय उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया गया था।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में पहले से ही संचालित गौसदनों को आर्थिक रूप में सशक्त करने के लिए प्रदेश में गौ सेवा आयोग गठित किया गया है।

गौ सेवा आयोग सराहनीय कार्य के चलते पूरे देश के लिए मॉडल के रूप में सामने आया

उन्होंने कहा कि गौसदनों को प्रति पशु राशि को 500 रुपये से 700 रुपये बढ़ाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश का गौ सेवा आयोग सराहनीय कार्य के चलते पूरे देश के लिए मॉडल के रूप में सामने आया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गौवंश सड़कों में ना हो उसे आश्रय देने के लिए प्रदेश में गौ-अभ्यारण बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि जयसिंहपुर विधान सभा के कांगेहण गौ-अभ्यारण बनाया गया है।

वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 22 हजार से अधिक गोवंश को गौ सदनों में पहुंचाया गया

उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 22 हजार से अधिक गोवंश को गौ सदनों में पहुंचाया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में लगभग 36 हजार के करीब गौवंश सड़कों पर था और शेष को प्रदेश में बनीं कुछ गौशालाओं और दिसंबर माह तक बन रही 5 गौशालाएं तैयार हो जाएंगी, जिससे प्रदेश का 90 प्रतिशत गौवंश को आश्रय प्राप्त हो जाएगा।

इससे पहले जयसिंहपुर के विधायक रविन्द्र धीमान ने मुख्यातिथि का स्वागत किया और उपस्थित लोगों को गांव में कामाख्या मंदिर के निर्माण की बधाई दी। उन्होंने कहा कि माता कामाख्या सबको सुख, समृद्धि दें और जीवन निरोग रहे। उन्होंने कहा कि सनातनी संस्कृति को संजोए रखना हम सभी की जिम्मेवारी है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 के बाद भारत की दशा और दिशा दोनों ही बदली है तथा भारत विश्व गुरु बनने की ओर अग्रसर है।

कार्यक्रम में गौ सेवा आयोग के सदस्य एवं उपाध्यक्ष जिला परिषद ऊना केवल कृष्ण शर्मा, मां कामाख्या गौ नर-नारायण समिति हिमाचल प्रदेश के अध्यक्ष पंडित दयानंद शर्मा, मंडल अध्यक्ष राम रतन शर्मा, प्रदेश भाजपा कार्यसमिति के सदस्य विनोद शर्मा, बीडीसी के अध्यक्ष कुलवंत राणा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी और क्षेत्र के गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular