Monday, September 26, 2022
HomeKangraकुपोषण और एनीमिया से समाज को दूर रखना सभी की जिम्मेवारी -...

कुपोषण और एनीमिया से समाज को दूर रखना सभी की जिम्मेवारी – डॉ0 निपुण जिंदल

उपायुक्त कांगड़ा डॉ0 निपुण जिंदल ने शनिवार को उपतहसील कार्यालय पंचरुखी का निरीक्षण किया और जनसमस्याओं को सुना। इस अवसर पर जयसिंहपुर के विधायक रविंदर धीमान विशेष रूप में उपस्थित रहे।

इंडिया न्यूज़, पालमपुर

उपायुक्त कांगड़ा डॉ0 निपुण जिंदल (Deputy Commissioner Kangra Dr. Nipun Jindal) ने शनिवार को उपतहसील कार्यालय पंचरुखी (Sub Tehsil Office Panchrukhi) का निरीक्षण किया और जनसमस्याओं को सुना। इस अवसर पर जयसिंहपुर के विधायक रविंदर धीमान (Jaisinghpur MLA Ravinder Dhiman) विशेष रूप में उपस्थित रहे। उन्होंने अधिकांश समस्याओं का मौके पर ही निपटारा कर दिया तथा शेष समस्याओं के समाधान हेतू सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को उचित दिशा-निर्देश जारी किये।

कुपोषण और एनीमिया से समाज को दूर रखना सभी की जिम्मेवारी - डॉ0 निपुण जिंदल

जिलाधीश ने पंचरुखी में सुनीं जनमस्याए

इसके उपरांत उन्होंने अंबेडकर भवन पंचरुखी (Ambedkar Bhawan Panchrukhi) में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा राष्ट्रीय पोषण अभियान (national nutrition campaign) जन आंदोलन पर आयोजित जागरूकता शिविर की अध्यक्षता की।

उन्होने कहा कि कुपोषण और एनीमिया की समस्या को समाप्त करने के लिए सभी को अपने परिवारिक उत्तरदायित्व का निर्वहन करना चाहिए। उन्होंने शिविर में उपस्थित महिलाओं एवं किशोरियों को अभियान के बारे में विस्तृत जानकारी दी।उपायुक्त ने कम वजन वाले नवजात शिशु और कुपोषित बच्चों के स्वास्थ्य की गहन निगरानी व सतत समीक्षा पर बल दिया।

कुपोषण और एनीमिया से समाज को दूर रखना सभी की जिम्मेवारी - डॉ0 निपुण जिंदल

उन्होंने कहा कि पूरक पोषाहार के लिए प्रोटीन युक्त आहार देने की बात कही। बच्चों, गर्भवती और धात्री महिलाओं में एनीमिया के उपचार के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उच्च रक्तचाप और एनीमिया से पीड़ित गर्भवती और धात्री की समय रहते पहचान और उपचार किया जाएगा और कुपोषित बच्चों का सही उपचार किया जाएगा।

बच्चों की देखरेख के लिए खोला शिवर

उन्होंने ने कहा कि बच्चों को आंगनवाड़ी केन्द्र में पूरक पोषण आहार के अतिरिक्त स्थानीय स्तर पर निःशुल्क पौष्टिक आहार और कुपोषित महिलाओं और बच्चों को पौष्टिक भोजन की व्यवस्था की है। उन्होंने कहा कि स्थानीय स्तर पर उपलब्ध सब्जियों और पौष्टिक चीजों के प्रति भी लोगों में जागरूकता बढ़ी है। इस अवसर पर स्वास्थ्य खंड गोपालपुर द्वारा बच्चों की स्वास्थ्य जाँच व आयु के अनुसार बच्चों की लंबाई और बजन जांच के लिये भी शिविर का आयोजन किया गया।

बीएमओ गोपालपुर डॉ0 मीनाक्षी गुप्ता ने भी महिलाओं को कुपोषण व अनीमिया के कारणों और इससे बचाव के बारे में जागरूक किया। उन्होंने महिलाओं को हरी पत्तेदार सब्जियों व छिलके वाली दालों के सेवन और पौष्टिक भोजन का प्रयोग करने की सलाह दी और खाने में फलों को भी शामिल करें ताकि उन्हें उनमें मौजूद जरूरी पोषक तत्व मिल सकें।

उपमंडल के विकास कार्यों का जायजा लिया

इसके उपरांत जिलाधीश ने जयसिंहपुर उपमंडल में चल रहे विभिन्न विकास कार्यों का जायजा लिया और अधिकारियों को विकास कार्यों को निर्धारित समय में पूरा करने की निर्देश दिए। इस मौके पर एसडीएम जयसिंहपुर पवन शर्मा व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

कार्यक्रम में एसडीएम पालमपुर डॉ. अमित गुलेरिया, बीडीओ राजेश्वर भाटिया, तहसीलदार पालमपुर सार्थक शर्मा, नायब तहसीलदार पंचरुखी किरण चैहान, बीएमओ गोपालपुर डॉ. मीनाक्षी गुप्ता, सीडीपीओ पंचरुखी रेनू शर्मा, आंगनबाड़ी पर्यवेक्षक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी सहायिका, आशा वर्कर, मेल फीमेल हेल्थ वर्कर व लाभार्थी उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें: ज्वाली विधानसभा की ग्राम पंचायत हार आज भी सड़क सुविधा से वंचित

Connect With Us : Twitter | Facebook

Sachin
Sachin
Learner , Hardworking , Aquarius hu toh samajh lo kya kya hounga .....
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular