Wednesday, June 7, 2023
Homeकाँगड़ाHimachal pradesh: कांगड़ा में बनने वाले हेलीपोर्ट के लिए पर्यटन विभाग को...

Himachal pradesh: कांगड़ा में बनने वाले हेलीपोर्ट के लिए पर्यटन विभाग को सौंपी गई भूमि

- Advertisement -

India news (इंडिया न्यूज़), Himachal pradesh:, पालमपुर: हिमाचल प्रदेश के सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू ने जिला कांगड़ा के पालमपुर में बनने वाले हेलीपोर्ट के निर्माण के लिए पर्यटन विभाग को भूमि हस्तांतरित कर दी है। इस संबंध नें जल्द ही विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार की जाएगी। हेलीपोर्ट के लिए प्रस्तावित 82 कनाल भूमि चौधरी श्रवण कुमार हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय में स्थित है, जो पालमपुर शहर से 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। उन्होंने कहा कि हेलीपोर्ट के निर्माण पर लगभग 9 करोड़ रुपए व्यय किए जाएंगे साथ ही प्रदेश सरकार पालमपुर को सूचना प्रौद्योगिकी के केंद्र के रूप में विकसित कर रही है। इस हेलीपोर्ट का निर्माण हो जाने से ज़िला कांगड़ा में आने वाले पर्यटकों को नई दिशा मिलेगी।

  • कांगड़ा के पालमपुर में बनेगा हेलीपोर्ट
  • हेलीपोर्ट के लिए भूमि पर्यटन विभाग को की गई हस्तांतरित
  • हेलीपोर्ट के निर्माण में व्यय किए जाएंगे 9 करोड़

सभी जिला मुख्यालयों में हेलीपोर्ट बनाने के लिए सरकार प्रयासरत- सीएम सुक्खू

प्रदेश के सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि प्रदेश सरकार पर्यटकों की यात्रा को सुलभ बनाने के लिए सभी ज़िला मुख्यालयों के समीप हेलीपोर्ट बनाने की दिशा में प्रयासरत है। सभी ज़िला उपायुक्तों को अपने क्षेत्रों में हेलीपोर्ट के लिए भूमि चिंहित करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि इससे राज्य पर्यटन के साथ ही आपातकालीन स्थितियों में भी मदद मिलेगी। इससे मेडिकल इमरजेंसी की स्थिति में मरीजों को एयरलिफ्ट किया जा सकेगा। इसके अतिरिक्त इन हेलीपोर्ट को आपदा के समय निकासी स्थल के रूप में उपयोग किया जा सकेगा और संकट के समय राहत भी प्रदान की जा सकेगी।

कांगड़ा को बनाया जा रहा पर्यटन राजधानी

सीएम ने कहा कि कांगड़ा को प्रदेश की पर्यटन राजधानी के रूप में विकसित करने का काम किया जा रहा है। इससे जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अधोसंरचना को और सुदृढ़ करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांगड़ा हवाई अड्डे के विस्तार का काम चल रहा है और रनवे की लम्बाई 1372 मीटर से बढ़ाकर 3010 मीटर की जाएगी ताकि यहां पर बड़े विमान भी उतर सकें। उन्होंने कहा कि पर्यटन सुविधाओं के विकास पर्यटकों का आवागमन बढ़ेगा और युवाओं को रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे।

इसे भी पढ़े- GST Collection: अप्रैल महीने में रिकॅार्ड GST कलेक्शन, एक दिन में जमा किए गए 68,228 करोड़ टैक्स

Ashish Mishra
Ashish Mishra
Journalist, India News.
RELATED ARTICLES

Most Popular