Saturday, February 4, 2023
HomeKangraInauguration and foundation stone of projects in Dharamshala धर्मशाला में 63 करोड़...

Inauguration and foundation stone of projects in Dharamshala धर्मशाला में 63 करोड़ की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास

- Advertisement -

Inauguration and foundation stone of projects in Dharamshala धर्मशाला में 63 करोड़ की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास

  • मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने धर्मशाला में सरस मेला-2022 के समापन समारोह की अध्यक्षता की
  • धर्मशाला महाविद्यालय में उपलब्ध होगी डिजिटल पुस्तकालय सुविधा

इंडिया न्यूज, शिमला।

प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के अंतर्गत पिछले 3 वर्षों के दौरान राज्य में विभिन्न स्वरोजगार उद्यम स्थापित करने के लिए 100 करोड़ रुपए से अधिक धनराशि वितरित की गई है।

यह बात मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आज धर्मशाला पुलिस मैदान में सरस मेला-2022 के समापन समारोह की अध्यक्षता करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि यह योजना प्रदेश के लोगों विशेषकर बेरोजगार युवाओं के लिए स्वरोजगार के अवसर पैदा करने के लिए बहुत ही परिणामोन्मुखी साबित हुई है।

जयराम ठाकुर ने महिलाओं से मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना का लाभ उठाने के लिए आगे आने का आह्वान किया क्योंकि पुरुष लाभार्थियों की तुलना में महिलाओं के लिए अनुदान की राशि अधिक है।

उन्होंने कहा कि सरस मेला न केवल स्वयं सहायता समूहों के विभिन्न उत्पादों को बेचने के लिए एक मंच प्रदान करता है, बल्कि इससे विपणन के अवसर भी मिलते हैं।

जिला प्रशासन की सराहना (Inauguration and foundation stone of projects in Dharamshala)

मुख्यमंत्री ने 10 दिवसीय सरस मेला आयोजित करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा उठाए गए प्रभावी कदमों की सराहना करते हुए कहा कि इस प्रकार के आयोजन ग्रामीण अर्थव्यवस्था को भी बदल सकते हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार ने निर्णय लिया है कि स्वयं सहायता समूहों को अगले वित्तीय वर्ष से प्रत्येक को टॉप अप के रूप में 25,000 रुपए का अतिरिक्त रिवाल्विंग फंड दिया जाएगा।

 

धर्मशाला में ग्रीष्मोत्सव पर चर्चा (Inauguration and foundation stone of projects in Dharamshala)

विधायक विशाल नैहरिया द्वारा धर्मशाला में ग्रीष्मोत्सव को फिर से शुरू करने की मांग पर मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को ग्रीष्मोत्सव आयोजित करने के लिए उचित कदम उठाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने सरस मेले में हिमाचल प्रदेश सहित विभिन्न राज्यों के स्वयं सहायता समूहों द्वारा लगाए गए सभी स्टालों का अवलोकन किया।

उन्होंने महर्षि वाल्मीकि स्वच्छता पुरस्कार योजना और बालिका गौरव पुरस्कार योजना के अंतर्गत जिला कांगड़ा के विकास खंडों को पुरस्कार भी प्रदान किए।

  • मुख्यमंत्री ने 3.28 करोड़ रुपए से निर्मित होने वाले राजकीय महाविद्यालय धर्मशाला के एमबीए ब्लाक और राजकीय महाविद्यालय धर्मशाला में 3.76 करोड़ रुपए से निर्मित होने वाले स्कूल आफ कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग ब्लाक का शिलान्यास किया।
  • मुख्यमंत्री ने 2.89 करोड़ रुपए की लागत से खनियारा से रक्कड़ वाया तिल्लू नड्डी सम्पर्क सड़क व मनूणी खड्ड पर निर्मित पुल, 1.04 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित माडल कैरियर सेंटर और 3.63 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित शहरी आजीविका केंद्र का लोकार्पण किया।

  • मुख्यमंत्री ने 24 करोड़ रुपए से निर्मित होने वाले आईएसबीटी धर्मशाला के नजदीक अत्याधुनिक बहुमंजिला पार्किंग, स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत धर्मशाला में 4.48 करोड़ रुपए से निर्मित होने वाले सिटी कन्वेंशन सेंटर एवं पार्किंग, धर्मशाला में ई-बसों के लिए 13 करोड़ रुपए से निर्मित होने वाले चार्जिंग स्टेशन सहित सिटी बस डिपो, 5 करोड़ रुपए से निर्मित होने वाले ई-टायलेट्स के निर्माण तथा रखरखाव और 2.29 करोड़ रुपए से निर्मित होने वाले प्री-सेग्रिगेटेड एमएसडब्ल्यू फीड स्टाक आधारित बायोगैस प्लांट के शिलान्यास किए।

वर्तमान समय डिजिटल दुनिया का (Inauguration and foundation stone of projects in Dharamshala)

धर्मशाला महाविद्यालय के वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्यतिथि के रूप में अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान समय डिजिटल दुनिया का दौर है इसलिए धर्मशाला महाविद्यालय में विद्यार्थियों की सुविधा के लिए डिजिटल पुस्तकालय खोला जाएगा।

उन्होंने कहा कि धर्मशाला महाविद्यालय का नाम भी शीघ्र ही किसी प्रसिद्ध महान व्यक्ति के नाम पर रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि आगामी 3 माह में ईवीएमस वेयरहाउस का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

इसके बनने के उपरांत ईवीएम को नवनिर्मित वेयर हाउस में स्थानांतरित कर दिया जाएगा।

 

अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र का निर्माण (Inauguration and foundation stone of projects in Dharamshala)

मुख्यमंत्री ने कहा कि एशियाई विकास बैंक प्लान के अंर्तगत धर्मशाला में अत्याधुनिक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र का निर्माण किया जाएगा जिस पर 150 करोड़ रुपए व्यय किए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि धर्मशाला ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध गंतव्य के रूप में अपनी पहचान बनाई है और यह सम्मेलन केंद्र अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों और कार्यक्रमों के आयोजन में मील पत्थर साबित होगा।

उन्होंने कहा कि 207 करोड़ रुपए की लागत से धर्मशाला-मैक्लोडगंज में निर्मित रोप-वे यहां आने वाले पर्यटकों के लिए मुख्य आकर्षण का केंद्र बनकर उभरा है।

सरस मेले में 2.50 करोड़ रुपए की बिक्री (Inauguration and foundation stone of projects in Dharamshala)

इससे पूर्व उपायुक्त डा. निपुण जिंदल ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि 10 दिवसीय सरस मेले के दौरान लगभग 2.50 करोड़ रुपए की बिक्री की गई है।

उपायुक्त एवं आयुक्त मंदिर डा. निपुण जिंदल ने मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 1 करोड़ 16 लाख 2 हजार रुपए का चैक भी भेंट किया।

यह भी रहे मौजूद (Inauguration and foundation stone of projects in Dharamshala)

इस अवसर पर उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह, सांसद सुरेश कश्यप, धर्मशाला के विधायक विशाल नैहरिया, बैजनाथ के विधायक मुलखराज प्रेमी, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल, नगर निगम धर्मशाला के महापौर ओंकार नैहरिया, जिला परिषद के अध्यक्ष रमेश बराड़, भाजपा के जिलाध्यक्ष चंद्रभूषण नाग, पुलिस अधीक्षक डा. कुशाल शर्मा भी उपस्थित थे। Inauguration and foundation stone of projects in Dharamshala

Read More : Integrated Digital Agriculture Platform Project Approved एचपी की एकीकृत डिजिटल कृषि प्लेटफार्म परियोजना को स्वीकृति प्रदान

Read More : Discussion on 73 Demands of Employees कर्मचारियों की 73 मांगों पर चर्चा

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular