Wednesday, October 5, 2022
HomeKangraज्वालाजी में आश्विन नवरात्र मेलों की तैयारियों को लेकर बैठक आयोजित

ज्वालाजी में आश्विन नवरात्र मेलों की तैयारियों को लेकर बैठक आयोजित

ज्वालाजी में आश्विन नवरात्र मेलों की तैयारियों को लेकर बैठक आयोजित

  • विधायक रमेश धवाला रहे उपस्थित

इंडिया न्यूज, धर्मशाला(Dharamshala-Himachal Pradesh)

प्रसिद्ध शक्तिपीठ माँ ज्वालाजी मंदिर (Famous Shaktipeeth Maa Jwalaji Temple) में आश्विन नवरात्र मेले (ashwin navratri fair) 26 सितम्बर से 04 अक्तूबर, 2022 तक पूर्ण उत्साह से आयोजित किये जाएंगे। सहायक आयुक्त मंदिर एवं एसडीएम ज्वालामुखी मनोज ठाकुर (Assistant Commissioner Temple and SDM Jwalamukhi Manoj Thakur) ने प्रदेश योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष एवं विधायक ज्वालामुखी रमेश धवाला की उपस्थिति में मेले की तैयारियों को लेकर आयोजित मंदिर न्यास की बैठक में यह जानकारी दी।

नवरात्र मेले में श्रद्धालुओं को हर सम्भव व्यवस्था उपलब्ध करवाने हेतु सभी विभाग अभी से तैयारी प्रारम्भ कर दें

बैठक में विधायक रमेश धवाला ने कहा कि ज्वालामुखी विश्वप्रसिद्ध धार्मिक स्थल है, तथा देश-विदेश के श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र होने के कारण यहां नवरात्र मेलों में श्रद्धालू हर नवरात्र में बड़ी संख्या में आते हैं। उन्होंने कहा कि नवरात्र मेले में श्रद्धालुओं को हर सम्भव व्यवस्था उपलब्ध करवाने हेतु सभी विभाग अभी से तैयारी प्रारम्भ कर दें।

प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं के लिए हर संभव व्यवस्था उपलब्ध करवाई जाएगी

सहायक आयुक्त मंदिर एवं एसडीएम ज्वालामुखी मनोज ठाकुर ने कहा कि प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं के लिए हर संभव व्यवस्था उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि सुरक्षा व्यवस्था के तहत क्षेत्र में हथियारों पर भी पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने कहा कि इस दौरान सभी विभाग एवं आने वाले श्रद्धालू स्वच्छता एवं अपनी कीमती वस्तुओं का विशेष ध्यान रखें और किसी भी प्रकार की लापरवाही ना करें।

पेयजल स्त्रोतों की साफ सफाई सुनिश्चित करने तथा सभी स्त्रोतों की क्लोरीफिकेशन के निर्देश

उन्होंने मेलों के दौरान साफ-सफाई की बेहतर व्यवस्था एवं स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित बनाने तथा मेलों के दौरान सभी स्थानों पर जरूरी सुविधा उपलब्ध करवाने के सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंनेे जल शक्त विभाग के अधिकारियों को पेयजल स्त्रोतों की साफ सफाई सुनिश्चित करने तथा सभी स्त्रोतों की क्लोरीफिकेशन के निर्देश दिए। इसके अतिरिक्त इस दौरान क्षेत्र में शस्त्र एवं विस्फोटक प्रदार्थों पर भी पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।

मंदिर रोड़ पर ढ़ोल-नगाड़े और भिक्षा देने पर पूर्ण प्रतिबन्ध

उन्होंने कहा कि पुलिस, स्वास्थ्य, लोक निर्माण, जल शक्ति, परिवहन, विद्युत, इत्यादि सम्बन्धित विभाग श्रद्धालुुओं को हर सम्भव सहायता एवं सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए तत्पर रहें। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को मेले के दौरान मंदिर परिसर में सभी आवश्यक औषधियों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि मंदिर रोड़ पर ढ़ोल-नगाड़े और भिक्षा देने पर पूर्ण प्रतिबन्ध रहेगा। मनोज ठाकुर ने कहा कि व्यवस्थाओं को सुव्यवस्थित करना उनकी प्राथमिकता रहेगी।

उन्होंने स्थानीय व बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि वह नवरात्रोें के दौरान स्थानीय प्रशासन, मंदिर समितियों व धार्मिक स्थलों के स्वयंसेवकों को व्यवस्था बनाये रखने में अपना सहयोग दें। उन्होंने कहा कि किसी भी दशा में वाहनों में क्षमता से अधिक लोगों को न भरा जाये। यातायात नियमों का कड़ाई से पालन करें ताकि दुर्धटनाओं तथा अनावश्यक जाम से बचा जा सके।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular