Wednesday, September 28, 2022
HomeKangraपहाड़ी कृषि में महिलाओं की भूमिका सराहनीय The Role of Women in...

पहाड़ी कृषि में महिलाओं की भूमिका सराहनीय The Role of Women in Hill Agriculture is Commendable

पहाड़ी कृषि में महिलाओं की भूमिका सराहनीय The Role of Women in Hill Agriculture is Commendable

  • गेहूं और धान अनुसंधान मलां में मनाया फसल दिवस
  • कुलपति प्रो. एचके चौधरी ने समारोह की अध्यक्षता की

इंडिया न्यूज, पालमपुर।

The Role of Women in Hill Agriculture is Commendable : चौधरी सरवण कुमार हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय के गेहूं और धान अनुसंधान केंद्र मलां (नगरोटा बगवां) में फसल दिवस का आयोजन किया गया।

कुलपति प्रो. एचके चौधरी ने समारोह की अध्यक्षता करते हुए पहाड़ी कृषि में महिलाओं की भूमिका की सराहना की। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय के मलां केंद्र में विकसित गेहूं और धान की किस्मों से उत्पादन में वृद्धि हुई है और किसानों को अपने खेतों से अधिक कमाई हुई है।

उन्होंने कहा कि राज्य में कृषि जलवायु विविधता कई चुनौतियों का सामना करती है लेकिन विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने इसे एक अवसर के रूप में लिया है।

उन्होंने लाल चावल की 2 किस्मों के विकास, इसे पंजीकृत कराने और किसानों को पुरस्कार दिलवाने सहित विश्वविद्यालय की कई उपलब्धियों पर चर्चा की।

उन्होंने कहा कि हर जिले और क्षेत्र में विशिष्ट फसलें होती हैं जिन्हें विश्वविद्यालय द्वारा लोकप्रिय बनाया जा रहा है।

किसानों के साथ बातचीत करते कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक।

फसलों की ताकत पहचानने का आह्वान (The Role of Women in Hill Agriculture is Commendable)

कुलपति प्रो. एचके चौधरी ने किसानों से ऐसी फसलों की ताकत को पहचानने और अधिक कमाई के लिए ऐसी फसलों को लोकप्रिय बनाने के लिए कहा।

उन्होंने गुणवत्तापूर्ण बीज, नई तकनीक, जलवायु परिवर्तन आदि के महत्व को भी रेखांकित किया और किसानों से विश्वविद्यालय और इसके स्टेशनों का बार-बार दौरा करने के लिए कहा।

नगरोटा से विधायक अरुण कुक्का, वैज्ञानिक, किसान व अन्य कृषि उपज प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुए।

विकसित वैज्ञानिक तकनीक अपनाएं किसान (The Role of Women in Hill Agriculture is Commendable)

नगरोटा बगवां विधानसभा क्षेत्र से विधायक मुख्य अतिथि अरुण कुमार मेहरा ने किसानों से अपनी कृषि आय बढ़ाने के लिए विकसित वैज्ञानिक तकनीक को अपनाने के लिए कहा।

उन्होंने किसानों की कुछ समस्याओं जैसे आवारा पशुओं, जंगली जानवरों की समस्या पर चर्चा की और बताया कि सरकार ने ऐसी समस्याओं को हल करने के लिए ठोस प्रयास किए हैं।

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के शहद में औषधीय गुण हैं लेकिन उचित विपणन की आवश्यकता है।

नगरोटा से विधायक अरुण कुक्का, वैज्ञानिक, किसान व अन्य कृषि उपज प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुए।

बीजों के संरक्षण के लिए किया प्रेरित (The Role of Women in Hill Agriculture is Commendable)

मुख्य अतिथि ने किसानों को स्थानीय फसलों की पारंपरिक किस्मों के बीजों के संरक्षण के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि हमें आने वाली पीढ़ियों के लिए अपने प्राकृतिक संसाधनों का ध्यान रखना चाहिए।

कार्यक्रम के दौरान अनुसंधान निदेशक डा. एसपी दीक्षित और प्रसार शिक्षा निदेशक डा. वीके शर्मा ने विश्वविद्यालय में अनुसंधान और विस्तार गतिविधियों के बारे में विस्तार से बताया।

प्रभारी वैज्ञानिक डा. अजयदीप बिंद्रा ने केंद्र की प्रमुख अनुसंधान गतिविधियों का विस्तृत विवरण दिया।

डा. आरके कपिला, डा. डीआर चौधरी, डा. केडी शर्मा, डा. वीके सूद, डा. जनार्दन सिंह, डा. एसके उपाध्याय, डा. एनके भूपिंदर मनकोटिया, डा. संजय शर्मा, डा. सुरिंदर शर्मा आदि ने भी किसानों को संबोधित किया।

5 नगरोटा से विधायक अरुण कुक्का, वैज्ञानिक, किसान व अन्य गेहूं व धान के खेत का दौरा करते हुए।

कृषि संबंधी सवालों के जवाब दिए (The Role of Women in Hill Agriculture is Commendable)

प्रश्नोत्तर सत्र भी आयोजित किया गया जहां वैज्ञानिकों ने किसानों के कृषि संबंधी सवालों के जवाब दिए। इस अवसर पर कृषि उपज प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया।

कुलपति और प्रमुख अतिथि ने प्रायोगिक क्षेत्र का भी दौरा किया और कुछ कृषि प्रकाशनों का विमोचन किया। किसानों ने भी खेत का दौरा किया। फसल दिवस में आसपास के गांवों के लगभग 200 किसानों ने भाग लिया। The Role of Women in Hill Agriculture is Commendable

Read More : दंगल में लड़कियों का आगे आना सराहनीय Coming Forward of Girls in Dangal is Commendable

Read More : धर्म परिवर्तन करने वालों को न मिले आरक्षण का लाभ Do Not Get the Benefit of Reservation on Change of Religion

Read More : सनातन धर्म को बचाने के लिए ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करें हिंदू Hindus Should Produce More And More Children

Read More : घरों में ही सुरक्षित नहीं हिंदुओं की बहू-बेटियां Hindu Daughters are not Safe in Their Homes

Read More : ट्रक की चपेट में आने से तेंदुए की मौत Leopard Dies After Being Hit By Truck

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular