Monday, November 28, 2022
HomeKangraविश्व दृष्टि दिवस नगरोटा बगवां खंड के अंतर्गत गवर्मेंट आईटीआई नगरोटा बगवां...

विश्व दृष्टि दिवस नगरोटा बगवां खंड के अंतर्गत गवर्मेंट आईटीआई नगरोटा बगवां सिथत सेरा थाना में मनाया गया।

- Advertisement -

विश्व दृष्टि दिवस नगरोटा बगवां खंड के अंतर्गत गवर्मेंट आईटीआई नगरोटा बगवां सिथत सेरा थाना में मनाया गया।

इंडिया न्यूज, धर्मशाला(Dharamshala-Himachla Pradesh)

मुख्य चिकित्सा अधिकारी जिला कांगड़ा के सौजन्य से विश्व दृष्टि दिवस (World Sight Day) नगरोटा बगवां खंड के अंतर्गत गवर्मेंट आईटीआई नगरोटा बगवां सिथत सेरा थाना में मनाया गया। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य युवा (youth) वर्ग को आंखों (eyes) की उचित देखभाल के प्रति जागरूक करना था। कार्यक्रम में जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर गुरदर्शन गुप्ता (Chief Medical Officer Dr Gurdarshan Gupta) ने बताया की आंखें भगवान द्वारा मनुष्य को दी हुई एक अनमोल देन है अतरू इसकी उचित देखभाल करें।

उन्होंने उपस्थित जनसमूह को बताया की अपने आहार में फल (fruits) तथा सब्जियों (vegetables) को प्रचुर मात्रा में सम्मिलित करें, जिससे हमें भरपूर मात्रा में विटामिन ए (vitamin-a) मिल सके, जोकि आंखों के स्वास्थ्य के लिए अति आवश्यक है। अपनी दिनचर्या में व्यायाम (exercise) को भी शामिल करें, इसके साथ-साथ मोबाइल फोन (mobile phone), कंप्यूटर (computer), लैपटॉप (laptop) आदि का प्रयोग आवश्यकता होने पर ही करें। अगर आप लगातार इन उपकरणो पर काम कर रहे हैं तो थोड़ी देर के लिए अपनी आंखों को आराम जरूर दें, साथ ही समय-समय पर आंखों का चेकअप जरूर करवाएं, ताकि समय रहते कोई भी आंखों की बीमारी हो को पता चल सके।

कार्यक्रम में जिला कार्यक्रम अधिकारी डॉक्टर गुरमीत कटोच (District Program Officer Dr Gurmeet Katoch) ने आंखों की आम बीमारियों के बारे में जानकारी दी तथा लोगों से आग्रह किया कि अपनी आंखों की नियमित जांच करवाएं। इसके साथ आई डोनेशन के बारे में भी विस्तार पूर्वक जानकारी उपलब्ध करवाई।

इस अवसर पर जन शिक्षा एवं सूचना अधिकारी जगदंबा मेहता ने स्वास्थ्य विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के बारे में जानकारी दी। स्वास्थ्य शिक्षिका अंजली ने बताया कि अगर आंखों में किसी प्रकार की समस्या है तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं अपनी मर्जी से किसी भी प्रकार की दवाई आंखों में ना डालें। यह हानिकारक हो सकता है।

इस मौके पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया तथा प्रतिभागियों को इनाम के तौर पर स्मृति चिन्ह भेंट किए गए। कार्यकम में आगे जानकारी देते हुए आईटीआई के प्रिंसिपल कीरत सिंह सोहल ने बच्चों को सलाह दी कि वह जरूरत के हिसाब से मोबाइल अथवा कंप्यूटर का उपयोग करें, कभी भी बिना जरूरत के मोबाइल का उपयोग करने से बचना चाहिए, ताकि हमारी आंखें स्वस्थ रहें तथा बच्चों से प्राप्त जानकारी को और लोगों के साथ सांझा करने का भी आग्रह किया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular