Saturday, October 1, 2022
HomeKulluअधिकारी काबिलियत से समाज कल्याण और विकास को दें नई दिशा: महेंद्र...

अधिकारी काबिलियत से समाज कल्याण और विकास को दें नई दिशा: महेंद्र ठाकुर

अधिकारी काबिलियत से समाज कल्याण और विकास को दें नई दिशा: महेंद्र ठाकुर

  • कहा- मुख्यमंत्री की घोषणाओं को 31 जुलाई तक पूरा करें सभी विभाग

इंडिया न्यूज, कुल्लू।

जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर (Jal Shakti Minister Mahendra Singh Thakur) ने कहा कि अधिकारी यस मैन न होकर अपनी काबिलियत से समाज के कल्याण और विकास को एक नई दिशा प्रदान करने में लोगों की अपेक्षाओं को पूरा अपनी भूमिका को सार्थक बनाएं।

वे रविवार को जिला परिषद सभागार में कुल्लू सदर विधानसभा क्षेत्र (Kullu Sadar Assembly Constituency) में हुए विकास तथा मुख्यमंत्री की घोषणाओं की प्रगति पर समीक्षा बैठक (Review meeting on the progress of Chief Minister’s announcements) की अध्यक्षता कर रहे थे।

महेंद्र सिंह ने कहा कि लाखों लोगों की नजरें बड़े पदों पर आसीन अधिकारियों व जन प्रतिनिधियों पर हैं। उनके कल्याण और बेहतरी के लिए क्या कुछ किया जा सकता है, इस पर बल दिया जाना चाहिए।

लोग आपका काम देखकर स्वयं आपकी तारीफ करें। उन्होंने कहा कि विकास व निर्माण कार्यों की गुणवत्ता को लेकर किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जाना चाहिए।

नकारा कबाड़ का निस्तारण करने की जरूरत

महेंद्र सिंह ने कहा कि जल शक्ति, लोक निर्माण, बिजली व स्वास्थ्य सहित समस्त विभागों को पुराने नकारा कबाड़ का निस्तारण करने की जरूरत है।

इससे अनावश्यक जगह घिरी रहती है और कार्यशैली पर भी विपरीत प्रभाव पड़ता है। उन्होंने जल विद्युत परियोजनाओं (hydroelectric project) की सीमा के आस-पास अतिक्रमण पर भी संज्ञान लिया।

उन्होंने कहा कि बहुत-सी बिजली परियोजनाओं ने लीज का नवीनीकरण वर्षों से नहीं करवाया है और अतिक्रमण अलग से किया जा रहा है। इससे सरकार को राजस्व घाटा हो रहा है।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार के अतिक्रमण को रोका जाना चाहिए। परियोजनाओं की डंपिंग साइट चिन्हित की जाती है लेकिन वर्षों से हो रही बेतरतीब डंपिंग के कारण बांध रेत-मिट्टी से भर चुके हैं।

उन्होंने कहा कि इन बांधों को खाली करवाने के लिए निविदाएं आमंत्रित की जानी चाहिएं जिससे राजस्व भी प्राप्त होगा।

60 किलोमीटर नई लाइनें बिछाई

विद्युत विभाग (electrical department) के कार्यकलापों की समीक्षा करते हुए अवगत करवाया गया कि कुल्लू सदर विधानसभा क्षेत्र में पिछले 4 सालों के दौरान 60 किलोमीटर नई लाइनें बिछाई गई हैं।

125 किलोमीटर की डीपीआर तैयार की गई है। 80 किलोमीटर एलटी लाइनें बिछाई गई और इस पर 21.03 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। सभी पुराने लकड़ी के खम्भों को बदला गया।

मंत्री ने कहा कि पिछले 4 सालों में प्रदेश में लकड़ी के सभी खम्भों को बदल दिया गया है। उससे पिछले 30 सालों में इतने खम्भे कभी नहीं बदले गए।

उन्होंने विद्युत निगम के अभियंताओं को 30 साल पहले तथा आज की स्थिति पर एक तुलनात्मक विवरणिका तैयार करने को कहा।

कुल्लू विधानसभा क्षेत्र में 86 किलोमीटर नई सड़कें

लोक निर्माण विभाग (Public Works Department) के अभियंताओं ने अवगत करवाया कि कुल्लू विधानसभा क्षेत्र में 86 किलोमीटर नई सड़कें बनाई गई। 58 किलोमीटर का सीडी कार्य किया गया।

टारिंग 44 किलोमीटर की गई। 4 पुल बनाए गए तथा 10 गांवों को सड़कों से जोड़ा। 13 परियोजनाओं की वित्तीय मंजूरी प्राप्त हुई है। मंत्री ने मुख्यमंत्री की घोषणाओं को 31 जुलाई तक पूरा करने के निर्देश दिए।

उन्होंने अभियंताओं को गुणवत्ता के लिए आधुनिक तकनीकी का इस्तेमाल करने को कहा। उन्होंने मुख्य जिला सड़कों पर ध्यान केंद्रित करने की भी बात कही।

उन्होंने सड़क कटिंग के दौरान मलबे को केवल चिन्हित स्थलों पर फैंकने को कहा। उन्होंने बर्फीले क्षेत्रों में सड़क निर्माण पर विशेष तकनीक अपनाने की जरूरत पर बल दिया।

31.30 करोड़ रुपए की 33 योजनाएं

जल शक्ति विभाग (water power department) ने अवगत करवाया कि 31.30 करोड़ रुपए की 33 योजनाएं पूरी की गई है। जल जीवन मिशन के तहत 80 करोड़ की राशि खर्च की जा रही है।

नाबार्ड के तहत 36 करोड़ की 8 योजनाओं को स्वीकृति मिली है। बफर भंडारण 180 करोड़ का है। मंत्री ने अभियंताओं को सोर्स को मजबूत करने की जरूरत पर बल दिया।

उन्होंने कहा कि कोई भी बस्ती अथवा घर ऐसा न हो जहां नल और नल में जल की सुविधा लोगों को न हो।

सिंचाई योजनाओं पर फोकस हो

मंत्री ने सिंचाई योजनाओं (irrigation scheme) पर फोकस करने को कहा। उन्होंने एक योजना के लिए अनेक सोर्स उपयोग करने की बात कही। उन्होंने पल्चान से औट तक 1,676 करोड़ की लागत से होने वाले बाढ़ नियंत्रण कार्य (flood control work) की औपचारिकताओं को जल्द पूरा करने के लिए अभियंताओं को कहा।

उन्होंने वर्षा जल संग्रहण को समय की मांग व महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने स्नो हार्वेस्टिंग (Snow Harvesting) पर भी काम करने के लिए कहा। उन्होंने अभियंताओं को 25 से 30 करोड़ की बड़ी डीपीआर स्नो हार्वेस्टिंग के लिए बनाने को कहा ताकि एक पायलट परियोजना (pilot project) के तौर पर इसे प्रस्तुत किया जा सके।

सीएम की घोषणाओं को पूरा करने के हरसंभव प्रयास

बैठक की कार्रवाई का संचालन करते हुए उपायुक्त ने आश्वासन दिया कि मुख्यमंत्री की घोषणाओं को पूरा करने के हरसंभव प्रयास किए जाएंगे। अधिकारी इसके लिए 31 जुलाई का लक्ष्य निर्धारित करें।

कुल्लू के विधायक सुंदर सिंह ठाकुर (Kullu MLA Sunder Singh Thakur) ने खराहल घाटी के लिए 12 करोड़ की पेयजल योजना का कार्य जल्द पूरा करने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा कि बिजली महादेव तक यह पानी पहुंचेगा जिससे सेलानियों व श्रद्धालुओं को सुविधा मिलेगी। उन्होंने बिजली महादेव तक सड़क को पूरा करने के लिए भी आग्रह किया। बैठक में सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। अधिकारी काबिलियत से समाज कल्याण और विकास को दें नई दिशा: महेंद्र ठाकुर

Read More : हिमाचल में जन मंच में निपटाई समस्याएं

Read More : रंधाड़ा में सजे जन मंच में शिक्षा मंत्री ने निपटाई समस्याएं

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular