Saturday, October 1, 2022
HomeMandiHimachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan दिव्यांगजनों के उत्थान के...

Himachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan दिव्यांगजनों के उत्थान के लिए हिमाचल सरकार कृतसंकल्प

Himachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan दिव्यांगजनों के उत्थान के लिए हिमाचल सरकार कृतसंकल्प

  • जयराम ठाकुर ने सुंदरनगर में विशेष ओलंपिक भारत के कार्यक्रम दिव्यांगजनों के लिए स्वास्थ्य पर्व का शुभारंभ किया।

इंडिया न्यूज, मंडी।

Himachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan : मुख्यमंत्री ने सुंदरनगर में आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत विशेष ओलंपिक भारत के कार्यक्रम दिव्यांगजनों के लिए स्वास्थ्य पर्व का शुभारंभ किया।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने गुरुवार को मंडी जिले के सुंदरनगर में बीबीएमबी कालोनी में आजादी का अमृत महोत्सव शृंखला के अंतर्गत विशेष ओलंपिक भारत द्वारा आयोजित कार्यक्रम नेशनल हेल्थ फेस्ट फार दिव्यांगजन-वी केयर (दिव्यांगजनों के लिए स्वास्थ्य पर्व) का शुभारंभ किया।

उन्होंने विशेष ओलंपिक के विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया तथा विशेष ओलंपिक संघ को 25 लाख अनुदान राशि देने की घोषणा की।

इस अवसर पर जनसभा को संबोधित करते हुए जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार दिव्यांगजनों के सर्वांगीण विकास के लिए योजनाबद्ध ढंग से कार्य कर रही है।

प्रदेश सरकार द्वारा पिछले 4 वर्षों में इस वर्ग के सामाजिक, शैक्षणिक एवं आर्थिक उत्थान के लिए विशेष प्रयास किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक दिव्यांगजनों को लाभान्वित करने व उन्हें मुख्यधारा से जोड़कर समाज में उनकी पूर्ण भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा केंद्र सरकार के दिव्यांगजन अधिकार अधिनियम, 2016 को लागू किया गया है।

उन्होंने कहा कि दिव्यांगजनों को शारीरिक व मानसिक रूप से स्वस्थ्य रखने के लिए खेल क्षेत्र में उनकी भागीदारी को प्रोत्साहन व बढ़ावा दिया जा रहा है।

हिमाचल प्रदेश में विशेष ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक विजेता को 75 हजार रुपए, रजत पदक विजेता को 50 हजार रुपए, कांस्य पदक विजेता को 20 हजार रुपए तथा अन्य प्रतिभागियों को 10-10 हजार रुपए की सम्मान राशि प्रदान की जा रही है।

दिव्यांग बच्चों से ट्यूशन फीस नहीं (Himachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan)

शिक्षा को व्यक्ति के समग्र विकास का मूल बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि दिव्यांगजनों को शिक्षा क्षेत्र में प्रोत्साहित करने के लिए राज्य में पहली कक्षा से औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों, बहुतकनीकी संस्थानों सहित विश्वविद्यालय स्तर तक दिव्यांग बच्चों से ट्यूशन फीस नहीं ली जा रही है तथा उन्हें उच्च शिक्षण संस्थानों में 5 प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया जा रहा है।

दिव्यांग छात्रों को पहली कक्षा से विश्वविद्यालय स्तर तक शिक्षा ग्रहण करने में बिना किसी आय सीमा के 625 रुपए से लेकर 5 हजार रुपए तक प्रति माह की दर से छात्रवृति प्रदान की जा रही है।

परिणामस्वरूप दिव्यांगजन उच्च शिक्षा प्राप्त करके जीवन में विशेष सफलताएं अर्जित कर हर क्षेत्र में पारंगत व आत्मनिर्भर हुए हैं और शिक्षा तथा खेलों के क्षेत्र में देश व प्रदेश का नाम रोशन कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा मूक-बधिर व दृष्टिबाधित बच्चों को शिक्षित करने के उद्देश्य से सुंदरनगर व ढली में 12वीं कक्षा तक विशेष योग्यता संस्थान संचालित करके उन्हें मुफ्त शिक्षा व आवासीय सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं। दिव्यांगजनों को सरकारी योजनाओं में सम्मिलित करने के उद्देश्य से डिजिटल व देश में मान्य यूनिक नम्बर दिए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर सुंदरनगर में आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत विशेष ओलंपिक भारत के कार्यक्रम में भाग लेने वाले दिव्यांगजनों व अन्यों को सम्बोधित करते हुए।

देशव्यापी सुगम्य भारत अभियान (Himachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan)

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिव्यांगजनों को गरिमापूर्ण व स्वतंत्रता के साथ सार्वजनिक व निजी परिवहन सुविधाओं का उपयोग करने के लिए देशव्यापी सुगम्य भारत अभियान आरंभ किया गया है जिसके तहत देश में सैंकड़ों भवन, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट इत्यादि दिव्यांगजनों के लिए सुगम बनाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि दिव्यांगजनों द्वारा आज विभिन्न क्षेत्रों में कई सराहनीय उपलब्धियां प्राप्त की गई हैं। वर्ष 2019 में आबूधाबी में आयोजित स्पेशल ओलंपिक खेलों में हिमाचल प्रदेश के विशेष रूप से सक्षम प्रतिभावान खिलाड़ियों ने अभूतपूर्व प्रदर्शन करते हुए 12 पदक जीत कर प्रदेश को गौरवान्वित किया।

खिलाड़ियों को पुरस्कृत किया (Himachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan)

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में स्पेशल ओलंपिक भारत में विश्व, शरद एवं ग्रीष्म खेलों के विजेता सहयोग स्पेशल स्कूल सुंदरनगर के जगदीश को स्नो गोल्ड में 2 कांस्य पदक, शुभम सिंह को एल्पाईन स्कीइंग में 2 रजत पदक, चिराग ठाकुर को बास्केटबाल में रजत पदक, राहुल को फुटबाल में 5वें स्थान पर रहने तथा पार्थ मल्होत्रा को स्नो शूइंग में भाग लेने के लिए पुरस्कृत किया।

विशेष ओलंपिक दिव्यांगजनों के प्रति सम्मान (Himachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan)

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डा. राजीव सैजल ने इस मौके पर कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम में विशेष ओलंपिक को जोड़ना दिव्यांगजनों के प्रति सम्मान दर्शाता है।

इस कार्यक्रम के तहत देश के 75 शहरों में 7,500 चिकित्सा विशेषज्ञों के माध्यम से 75,000 दिव्यांगजनों की स्वास्थ्य जांच करके लाभान्वित किया जा रहा है और इस कीर्तिमान को गिनीज बुक आफ रिकार्ड तथा लिम्का बुक आफ रिकार्ड में दर्ज किया जाएगा।

वेदों का कथन है कि कोई भी व्यक्ति अयोग्य नहीं हो सकता, अगर उसकी क्षमता को पहचान कर उसे आगे बढ़ाने का कार्य किया जाए और संघ द्वारा इस दिशा में अभूतपूर्व कार्य किया जा रहा है।

संघ की गतिविधियों की जानकारी दी (Himachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan)

सुंदरनगर के विधायक राकेश जम्वाल ने क्षेत्र में दिव्यांगजनों के सहयोग के लिए संचालित किए जा रहे कार्यक्रमों की जानकारी दी।

स्पेशल ओलंपिक संघ भारत के हिमाचल चैप्टर की उपाध्यक्ष रश्मिधर सूद ने संघ की गतिविधियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी।

बाल विकास परिषद की महासचिव पायल वैद्य ने दिव्यांगजनों को सरकार के विभिन्न कार्यक्रमों के प्रति जागरूक करने के दृष्टिगत इस कार्यक्रम को सराहनीय बताते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश में सुंदरनगर सहित 3 शिविरों का आयोजन करके 1,000 दिव्यांग विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र देने, जागरूक करने तथा स्वास्थ्य जांच के निर्धारित लक्ष्य को पूरा किया गया।

मंडी चैप्टर के अध्यक्ष जगदीश राणा ने मुख्यमंत्री व अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया तथा उपाध्यक्ष रमेश ठाकुर ने सभी का आभार जताया।

कार्यक्रम में सहयोग स्पेशल स्कूल, नागचला तथा साकार स्पेशल स्कूल के विद्यार्थियों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए।

इस मौके पर नाचन के विधायक विनोद कुमार, भारतीय खेल प्राधिकरण की कार्यकारी निदेशक ललिता शर्मा, अतिरिक्त उपायुक्त जतिन लाल, नगर परिषद के पदाधिकारी, स्पेशल ओलंपिक भारत, मंडी चैप्टर के पदाधिकारी भी उपस्थित थे। Himachal Government Determined for the Upliftment of Divyangjan

Read More : Chief Minister Mobile Clinic हिमाचल के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में खुलेंगे मुख्यमंत्री मोबाइल क्लीनिक

Read More : Part Time Multi Task Worker देहरा के 31 स्कूलों में भरे जाएंगे पार्ट टाइम मल्टी टास्क वर्कर के पद

Read More : Divyangjan Integral Part of Society दिव्यांगजन समाज का अभिन्न अंग

Read More : Conducive Environment for Education in Himachal हिमाचल में शिक्षा के लिए अनुकूल वातावरण

Read More : Student Parent Forum छात्र अभिभावक मंच का उच्चतर शिक्षा निदेशालय के बाहर प्रदर्शन

Read More : BJP Wants to Make Anurag as CM जयराम को हटा अनुराग को सीएम बनाना चाहती है भाजपा

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular