Wednesday, August 10, 2022
HomeMandiआईआईटी मंडी और कोरिया गणराज्य के दूतावास साझा शोध और अनुसंधान कार्यक्रमों...

आईआईटी मंडी और कोरिया गणराज्य के दूतावास साझा शोध और अनुसंधान कार्यक्रमों की संभावना तलाशेंगे

आईआईटी मंडी और कोरिया गणराज्य के दूतावास साझा शोध और अनुसंधान कार्यक्रमों की संभावना तलाशेंगे

  • कोरियाई विश्वविद्यालयों से संभावित सहयोग के लिए आईआईटी मंडी पहंुचे इंडो-कोरियन सेंटर फॉर रिसर्च एंड इनोवेशन नई दिल्ली के निदेशक डॉ. वाई जे पार्क और कोरिया गणराज्य के दूतावास में विज्ञान और प्रौद्योगिकी प्रतिनिधि ह्ये0 ही0 ली0

इंडिया न्यूज मंडी (Mandi Himachal Pradesh)

हाल में इंडो-कोरियन सेंटर फॉर रिसर्च एंड इनोवेशन (आईकेसीआरआई) नई दिल्ली के निदेशक डॉ0 वाई0 जे0 पार्क (Dr. Y.J. Park, Director, Indo-Korean Center for Research and Innovation (IKCRI), New Delhi) और कोरिया गणराज्य के दूतावास में विज्ञान और प्रौद्योगिकी प्रतिनिधि ह्ये0 ही0 ली0 (Ho He Lee , Science and Technology Representative at the Embassy of the Republic of Korea) आईआईटी मंडी (IIT Mandi) के दौरे पर आए। 2 दिन के दौरे में आईआईटी मंडी और कोरियाई विश्वविद्यालयों के बीच संभावित सहयोग पर चर्चा हुई। इससे आईआईटी मंडी के प्रौद्योगिकी प्रयास और अनुसंधान के माध्यम से दोनों समुदायों के भागीदारों की सेवा करने की दूरदृष्टि साकार करने में मदद मिलेगी। इस दौरे में डॉ0 पार्क और ली0 ने कैंपस के कई अत्याधुनिक लैब देखने गए जैसे मानस लैब, एसीएस लैब और एडवांस्ड मटीरियल्स रिसर्च सेंटर, बायोएक्स सेंटर, सेंटर फॉर डिजाइन एण्ड फैब्रिकेशन ऑफ इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज (सी4डीएफईडी) और आईआईटी मंडी आईहब और एचसीआई फाउंडेशन (आईहब) आदि। उन्होंने इन केंद्रों के छात्रों और शोधकर्ताओं से बात की।

संस्थान के निदेशक प्रो0 लक्ष्मीधर बेहरा से मुलाकात कर डॉ0 पार्क और ली0 ने कोरियाई राजदूत के भारत दौरे के बारे में जानकारी दी जो संस्थान के ‘संवाद’ में भाग लेने के साथ-साथ आईआईटी मंडी और योन्सी यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ मेडिसिन के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करेंगे।

आईआईटी मंडी का आईकेसीआरआई से जुड़ना खुशी की बात है

‘‘डॉ0 वाई0 जे0 पार्क और ह्ये0 ही0 ली0 की इस यात्रा के परिणामस्वरूप हमारा आईकेसीआरआई से जुड़ना खुशी की बात है। आईआईटी मंडी वैज्ञानिक संस्थानों, शिक्षा समुदायों और युवा विशेषज्ञों को प्रोत्साहित करने का साझा दृष्टिकोण रखता है। हम साथ मिल कर अभिनव कार्य करेंगे ताकि आगामी घटनाक्रम का तीव्र विकास हो।’’- प्रोफेसर लक्ष्मीधर बेहरा, निदेशक, आईआईटी मंडी।

संस्थान के आगामी आविष्कारी कार्यों को देख कर बहुत अच्छा लगा

“संस्थान के निदेशक प्रो. लक्ष्मीधर बेहरा के साथ-साथ प्रो0 वरुण दत्त, प्रो0 चयन नंदी और फैकल्टी के अन्य सदस्यों से मिल कर बहुत खुशी हंुई। दो दिन की आईआईटी मंडी यात्रा में हमंे सूचना प्रौद्योगिकी, बायोटेक, और अन्य क्षेत्र में संस्थान के आगामी आविष्कारी कार्यों को देख कर बहुत अच्छा लगा। भूस्खलन अलार्म सिस्टम, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में संज्ञानात्मक अनुसंधान, वीआर पद्धति आदि का अनुभव और अवलोकन कर बहुत अच्छा लगा। आईआईटी मंडी के दौरे के बाद मुझे विश्वास है कि हम मिल कर सामान्य लक्ष्य प्राप्त करने की दिशा में बहुत प्रभावी प्रयास कर सकते हैं।’’- डॉ0 वाई0 जे0 पार्क निदेशक, आईकेसीआरआई, नई दिल्ली।

आईकेसीआरआई भारत और कोरिया गणराज्य के बीच परस्पर सहयोग करार को बढ़ावा देता है। यह भारत कोरिया विज्ञान, प्रौद्योगिकी और इनोवेशन इकोसिस्टम बनाने का साझा मंच देता है ताकि दोनों समुदायों को लाभ और आवश्यक सहायता देने के लिए नियमित द्विपक्षीय बैठकें आयोजित हो। डॉ. पार्क की आईआईटी मंडी यात्रा इस संस्थान और आईकेसीआरआई के लिए परस्पर जुड़ने का अवसर बढ़ाएगी। दोनों समुदायों के परस्पर लाभ के लिए साझा प्रयास होंगे। प्रौद्योगिकियों के अनुसंधान और विकास में सहयोग बढ़ेगा।

 

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular