Wednesday, October 5, 2022
HomeMandiकार्यशाला में बताई उद्योग विभाग की योजनाएं

कार्यशाला में बताई उद्योग विभाग की योजनाएं

कार्यशाला में बताई उद्योग विभाग की योजनाएं

  • नाचन के विधायक विनोद ने की अध्यक्षता
  • मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना पर लोगों को किया जागरूक
  • हैंडलूम के 49 कामगारों को बांटे आर्टीजन कार्ड

इंडिया न्यूज, गोहर (मंडी)।

जिले के नाचन विधानसभा क्षेत्र (Nachan Assembly Constituency) की स्यांज पंचायत में उद्योग विभाग की विभिन्न योजनाओं पर बुधवार को एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला की अध्यक्षता नाचन के विधायक विनोद (MLA Vinod) ने की।

इस अवसर पर विशेष रूप से मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना को लेकर जन जागरूकता पर बल दिया गया। इसके अलावा, विधायक ने हैंडलूम के 49 कामगारों को आर्टीजन कार्ड भी वितरित किए।

उन्होंने केंद्रीय वस्त्र मंत्रालय के विशेष कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षित किए गए कामगार तथा शिल्पकारों को टूल किट भी भेंट कीं जिनमें मुख्यत: हथकरघा संबंधित कुल्लू शाल के कामगार (Handloom related Kullu Shawl workers) शामिल थे।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (Chief Minister Jai Ram Thakur) ने युवाओं को स्वरोजगार लगाने को प्रेरित करने और इसमें पूरी मदद के लिए मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना शुरू की है।

प्रदेश सरकार का प्रयास है कि हमारे युवा नौकरी मांगने की बजाय स्वरोजगार गतिविधियों से जुड़कर नौकरी देने वाले बन सकें। इसमें मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना बड़ी मददगार साबित हुई है।

इस मौके पर विकास कार्यों पर चर्चा करते हुए विनोद कुमार ने कहा कि स्यांज और आसपास लगती पंचायतों में जल जीवन मिशन में 6.50 करोड़ रुपए खर्चे जा रहे हैं।

इस क्षेत्र में सड़क नेटवर्क की मजबूती के साथ-साथ करोड़ों रुपए से 13 पुलों का निर्माण किया गया है।

नाचन के विधायक विनोद कुमार हैंडलूम के कामगारों को आर्टीजन कार्ड बांटते हुए।

मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना की जानकारी दी

शिविर में जिला उद्योग केंद्र मंडी के महाप्रबंधक (General Manager of District Industries Center Mandi) ओपी जरियाल ने मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना (Chief Minister’s Swavalamban Yojana) में कोई भी हिमाचली युवक व युवती जिनकी आयु 18 से 45 वर्ष के बीच में हो, वे अपना उद्योग स्थापित करने हेतु मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना में अनुदान राशि (grant money) युवाओं के लिए 25 प्रतिशत, युवतियों के लिए 30 प्रतिशत और विधवा महिलाओं को 35 प्रतिशत की दर से दी जाती है।

अधिक से अधिक महिलाओं को इस योजना के माध्यम से जोड़ने के लिए सरकार ने पात्रता की आयु सीमा को 45 वर्ष से बढ़ाकर 50 वर्ष कर दिया है।

इसके साथ इस योजना के तहत 5 प्रतिशत की दर से 3 वर्ष तक ऋण के ऊपर ब्याज की अनुदान राशि भी प्रदान की जाती है।

युवाओं से योजनाओं का लाभ उठाने का आग्रह

महाप्रबंधक ने बताया कि इस बार की बजट स्पीच में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर इस योजना के अंतर्गत सभी महिलाओं के लिए अब अनुदान राशि 35 प्रतिशत की दर से तथा स्पेशल कैटेगरी के युवा जोकि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग से हों और दिव्यांगजनों के लिए 30 प्रतिशत की दर से प्रदान करने घोषणा की है।

उन्होंने अधिक से अधिक युवाओं से इस योजना का लाभ लेने का आग्रह किया। इस मौके पर प्रधान ग्राम पंचायत स्यांज मनोज शर्मा, भाजपा शक्ति केंद्र स्यांज के अध्यक्ष कमल देव सोनी, भाजपा शक्ति केंद्र शिल्हनु के प्रधान हेम सिंह ठाकुर, बूथ अध्यक्ष कुटाहची लीला प्रकाश उपस्थित रहे। कार्यशाला में बताई उद्योग विभाग की योजनाएं

Read More : केंद्रीय कृषि मंत्री का किसानों से वर्चुअल संवाद

Read More : एचआरटीसी वर्कशॉप में भड़की आग लाखों रूपये का नुक्सान

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular