Wednesday, September 28, 2022
HomeNationalसनातन धर्म को बचाने के लिए ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करें...

सनातन धर्म को बचाने के लिए ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करें हिंदू Hindus Should Produce More And More Children

सनातन धर्म को बचाने के लिए ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करें हिंदू Hindus Should Produce More And More Children

  • धर्म संसद में संतों ने जारी किया धर्मादेश
  • महामंडलेश्वर डा. अन्नपूर्णा भारती बोले- सनातन धर्म के मठ-मंदिरों को सरकार के कब्जे से किया जाए

रमेश पहाड़िया, ऊना।

Hindus Should Produce More And More Children : हिमाचल प्रदेश के जिला ऊना के मुबारकपुर में संपन्न हुई 3 दिवसीय हिमाचल धर्म संसद के आखिरी दिन संतों ने सनातनी समाज को ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करने का धर्मादेश जारी किया।

धर्म संसद में 3 दिन तक हिंदुओं की दुर्दशा पर गहन चिंतन किया गया। इस धर्म संसद में भारतवर्ष के हिंदुओं के विभिन्न पंथों एवं सामाजिक क्षेत्र के कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लेकर चिंतन एवं मनन किया।

धर्म संसद के समापन सत्र में महामंडलेश्वर डा. अन्नपूर्णा भारती (Mahamandaleshwar Dr. Annapurna Bharti) के निर्देश पर धर्म आदेश जारी किया गया। उक्त जानकारी देते हुए धर्म संसद के संयोजक यति सत्यदेवानंद सरस्वती महाराज ने बताया कि धर्मादेश में सनातनियों से आह्वान किया गया है कि सनातनी समाज अपनी जनसंख्या को कम न होने दे तथा ज्यादा से ज्यादा बच्चे पैदा करे।

धर्मादेश में यह भी मांग की गई कि सनातन धर्म के मठ-मंदिरों को सरकार के कब्जे से मुक्त किया जाए एवं आजादी के बाद से अब तक मठ-मंदिरों की जितनी भी सम्पत्तियां सरकार अथवा अवैध कब्जे में हैं, उन सभी को सनातनी समाज को सौंपा जाए।

सनातनी समाज अपने परिवार को सुरक्षा स्वयं करने के लिए सक्षम बने। उसके लिए आपस में, अपने समाज के साथ भाईचारा व सौहार्द बनाएं।

धर्म संसद के संयोजक यति सत्यदेवानंद सरस्वती महाराज (Yeti Satyadevanand Saraswati Maharaj) ने बताया कि धर्मादेश में आह्वान किया गया है कि सनातनी समाज को अपने पर हो रहे अत्याचारों से लड़कर जीना सीखे और अपनों के लिए खड़ा होना सीखे।

साथ ही आपस में जातियों तथा संगठनों में बांटने की बजाय और अलग-अलग विषयों में बिखरने की जगह एकमत होकर अपने बच्चों को सुरक्षित भविष्य देने की ओर आगे बढ़ें।

अपने आप को मजबूत बनाने के लिए शास्त्र ज्ञान के साथ-साथ शस्त्र भी रखें और उनको चलाना भी सीखें। उसके लिए जगह-जगह शस्त्र गुरुकुल परम्परा आरंभ करने की बात कही गई।

इस अवसर पर धर्म संसद अध्यक्ष बाल बाबा योगी ज्ञाननाथ के साथ मामा हंदलेश्वर, श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर राम मोहन दास, स्वामी सागर गिरि महाराज, स्वामी नारद गिरि महाराज, स्वामी आत्मानंद अवधूत महाराज, शेव शून्य स्वामी, स्वामी बलदेव इत्यादि संत समाज उपस्थित रहा। Hindus Should Produce More And More Children

Read More : घरों में ही सुरक्षित नहीं हिंदुओं की बहू-बेटियां Hindu Daughters are not Safe in Their Homes

Read More : ट्रक की चपेट में आने से तेंदुए की मौत Leopard Dies After Being Hit By Truck

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular