Friday, September 30, 2022
Homeशिमलाएसजेवीएन एनटीपीसी राजभाषा शील्ड के तृतीय पुरस्कार से सम्मानित

एसजेवीएन एनटीपीसी राजभाषा शील्ड के तृतीय पुरस्कार से सम्मानित

एसजेवीएन एनटीपीसी राजभाषा शील्ड के तृतीय पुरस्कार से सम्मानित

  • आरके सिंह ने निगम के सीएमडी को सौंपा पुरस्कार

इंडिया न्यूज, शिमला।

एसजेवीएन (SJVN) को वर्ष 2018-19 तथा वर्ष 2019-20 के दौरान राजभाषा नीति के श्रेष्ठ कार्यान्वयन के लिए एनटीपीसी (NTPC) राजभाषा शील्ड के तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

यह पुरस्कार विद्युत और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह (RK Singh, Minister of Power and New and Renewable Energy) के हाथों निगम के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक नंद लाल शर्मा ने विद्युत मंत्रालय की हिन्दी सलाहकार समिति की नई दिल्ली में आयोजित एक बैठक के दौरान प्राप्त किया।

इस अवसर पर विद्युत राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर (Minister of State for Power Krishan Pal Gurjar) एवं निगम की ओर से निदेशक (कार्मिक) गीता कपूर एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

एसजेवीएन के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक नंद लाल शर्मा ने बताया कि यह पुरस्कार निगम की विभिन्न परियोजनाओं तथा कार्यालयों में राजभाषा नीति के श्रेष्ठ कार्य निष्पादन के लिए प्रदान किया गया है।

उन्होंने कहा कि राजभाषा हिन्दी के प्रयोग एवं प्रसार की दिशा में निगमों द्वारा किए गए प्रयासों के लिए विद्युत मंत्रालय भारत सरकार द्वारा प्रतिवर्ष एनटीपीसी राजभाषा शील्ड पुरस्कार प्रदान किया जाता है।

SJVN NTPC honored with 3rd prize of Rajbhasha Shield

इस शील्ड की स्थापना एनटीपीसी ने 29 अक्टूबर, 1997 को विद्युत मंत्रालय के नियंत्रणाधीन सभी उपक्रमों/संस्थानों/निगमों के लिए की गई।

इसके तहत विद्युत मंत्रालय द्वारा प्राप्त प्रविष्टियों का मूल्यांकन कर राजभाषा नीति के कार्यान्वयन संबंधी सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर किया जाता है।

शर्मा ने कहा कि विद्युत मंत्रालय द्वारा सभी उपक्रमों/संस्थानों/निगमों में राजभाषा नीति की अनुपालना को सुनिश्चित किया जाता है।

हिन्दी के उत्तरोत्तर प्रयोग को गतिशील करते हुए विद्युत उत्पादन के साथ-साथ राजभाषा के प्रकाश को भी देश के कोने-कोने तक पहुंचाया जाता है। एसजेवीएन एनटीपीसी राजभाषा शील्ड के तृतीय पुरस्कार से सम्मानित

Read More : पंडित सुख राम का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular