Thursday, December 8, 2022
HomeUnaचुनाव पर्यवेक्षकों ने नोडल अधिकारियों के साथ की आवश्यक बैठक

चुनाव पर्यवेक्षकों ने नोडल अधिकारियों के साथ की आवश्यक बैठक

- Advertisement -

चुनाव पर्यवेक्षकों ने नोडल अधिकारियों के साथ की आवश्यक बैठक

  • जिला में चुनाव से संबंधित की गई व्यवस्थाओं की भी ली जानकारी
  • जिला में कुल 515 मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं – डीसी

इंडिया न्यूज, ऊना (Una-Himachal Pradesh)

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव-2022 (himachal pradesh vidhan sabha election) के लिए भारत निर्वाचन आयोग (election commion of India) की ओर से जिला ऊना के लिए नियुक्त किए हुए सामान्य पर्यवेक्षकों (general observer) ने वीरवार को चुनाव प्रक्रिया से जुड़े नोडल अधिकारियों (nodal officers) के साथ आवश्यक बैठक(meeting) की। डीआरडीए सभागार में आयोजित बैठक में सामान्य पर्यवेक्षक मुकेश कुमार आईएएस (Mukesh Kumar (IAS)) 2009 बैच और प्रशांत मिश्रा आईएएस (Prashant Mishra (IAS)) 2014 बैच ने जिला ऊना में चुनावों के लिए व्यवस्थाओं की जानकारी ली तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

उन्होंने नोडल अधिकारियों से निष्पक्ष व स्वतंत्र (free and fair) और शांतिपूर्ण मतदान करवाने के लिए जिला में किए जा रहे सभी प्रबंधोंध्व्यवस्थाओं के बारे में विस्तृत चर्चा की। उन्होंने दिव्यांगजनों, बजुर्गों व 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के मतदाताओं के लिए मतदान के लिए किए जा रहे प्रबंधों की भी जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि रिटर्निंग अधिकारियों के माध्यम से शत-प्रतिशत वोटर स्लीप वितरित करना सुनिश्चित करें तथा सी-विजल ऐप भी डाउनलोड करने को कहा।

जिला निर्वाचन अधिकारी एव उपायुक्त ऊना राघव शर्मा ने पर्यवेक्षकों को चुनाव के लिए जिला में की गई सभी आवश्यक रूप से विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिला में चुनावों में सभी की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी।

राघव शर्मा ने बताया कि जिला ऊना में पांच विधानसभा क्षेत्र है जिसमें 515 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं जिनमें 476 पोलिंग स्टेशन ग्रामीण क्षेत्र व 39 पोलिंग स्टेशन शहरी क्षेत्रों में बनाए गए हैं जिसमें 446 सामान्य है और 69 संवेदनशील हैं। उन्होंने बताया कि अब तक जिला में 4,24,813 मतदाता है जिसमें 2,15,034 पुरूष मतदाता तथा 2,09,777 महिला मतदाता और दो ट्रांस्जेंडर मतदाता शामिल हैं। उन्होंने बताया कि जिला में 100 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 112 मतदाता है और 90 प्लस आयु वर्ग के 1665 मतदाता है। उन्होंने बताया कि बजुर्गों व दिव्यांगजनों और 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के मतदाताओं के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं। इस प्रक्रिया के लिए प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 5-5 टीमें निर्धारित की गई हैं तथा 80 वर्ष या इससे अधिक आयु व दिव्यांग मतदाताओं से पोस्टल बैलट पेपर की सुविधा मुहैया करवाई गई हैं।

उन्होंने बताया कि प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में दो महिला बूथ स्थापित किए गए हैं। इसके अतिरिक्त दो मॉडल मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं। राघव शर्मा ने बताया कि 272 मतदान केंद्रों में मतदान के दिन वेबकास्टिंग का प्रबंध भी किया गया है। इसके अलावा जिला में मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए होर्डिंग्ज स्थापित किए गए हैं तथा नुक्कड़ नाटक के माध्यम से भी मतदान के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिला में निर्वाचन प्रक्रिया से जुडे़ अधिकारियों व कर्मचारियों के लिए प्रथम चरण का पूर्वाभ्यास हरोली, गगरेट व ऊना के लिए 23 अक्तूबर को तथा चिंतपूर्णी और कुटलैहड़ के लिए 26 अक्तूबर को आयोजित किए जा चुके हैं।

उन्होंने बताया कि हरोली, गगरेट व ऊना के लिए दूसरे चरण का पूर्वाभ्यास 4 नवंबर को तथा चिंतपूर्णी व कुटलैहड़ के लिए 5 नवंबर को आयोजित होगा। जबकि तीसरा पूर्वाभ्यास 10 नवंबर को आयोजित किया जाएगा।

राघव शर्मा ने बताया कि जिला में सीमावर्ती क्षेत्रों में 25 नाकों पर सुरक्षा कर्मियों के माध्यम से वाहनों पर नजर रखी जा रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular