Saturday, October 1, 2022
HomeUnaखाद पर सब्सिडी बढ़ने से किसानों पर नहीं पड़ेगा आर्थिक बोझ: वीरेंद्र...

खाद पर सब्सिडी बढ़ने से किसानों पर नहीं पड़ेगा आर्थिक बोझ: वीरेंद्र कंवर

खाद पर सब्सिडी बढ़ने से किसानों पर नहीं पड़ेगा आर्थिक बोझ: वीरेंद्र कंवर

  • कृषि मंत्री ने खाद पर सब्सिडी बढ़ाए जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का किया धन्यवाद

इंडिया न्यूज, ऊना।

कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर (Agriculture Minister Virendra Kanwar) ने खाद पर सब्सिडी (fertilizer subsidy) बढ़ाने के निर्णय का स्वागत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) का धन्यवाद किया है।

कंवर ने कहा कि केंद्र सरकार (central government) ने खरीफ की फसल (Kharif crop) के लिए फास्फेटिक और पोटासिक उर्वरकों के लिए पोषक तत्व आधारित खाद पर 60,939 करोड़ रुपए की सब्सिडी प्रदान करने को मंजूरी दी है जिससे किसानों को लाभ मिलेगा और उन पर बढ़ते दामों का बोझ नहीं पड़ेगा।

पिछले वर्ष यह सब्सिडी 57,150 करोड़ रुपए थी। वीरेंद्र कंवर ने बुधवार को यहां मीडिया से बात करते हुए कहा कि मौजूदा वित्त वर्ष में केंद्र सरकार 1,62,184 करोड़ रुपए सब्सिडी दे रही है जोकि पिछले वर्ष 71,280 करोड़ रुपए थी।

डीएपी खाद (dap compost) की 1 बैग पर सब्सिडी बढ़ाकर 2501 रुपए कर दी गई है जोकि पिछले वर्ष 1,650 रुपए थी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार सब्सिडी में लगातार बढ़ोतरी कर रही है ताकि किसानों पर अनावश्यक बोझ न पड़े।

किसानों की आय में बढ़ौतरी के लिए यह सरकार की प्रतिबद्धता का प्रमाण है। उन्होंने कहा कि सब्सिडी बढ़ाए जाने के निर्णय से प्रदेश के लाखों किसानों को लाभ मिलेगा।

जिला ऊना कृषि प्रधान क्षेत्र है। ऐसे में यहां के हजारों किसान भी सरकार के इस निर्णय से लाभान्वित होंगे। कृषि मंत्री ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार तथा प्रदेश की जयराम सरकार ने मिलकर किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए अनेक कदम उठाए हैं।

केंद्र सरकार ने पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Scheme) आरंभ की जिसके माध्यम से किसानों को प्रतिवर्ष 6 हजार की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। खाद पर सब्सिडी बढ़ने से किसानों पर नहीं पड़ेगा आर्थिक बोझ: वीरेंद्र कंवर

Read More : हिमाचल के 100 आयुष औषधालय बनेंगे वेलनेस सेंटर: विपिन सिंह परमार

Connect With Us : Twitter | Facebook

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular